Homeअंतराष्ट्रीयप्रचार के दम पर काम दिखाने की बजाय ठोस काम करें केजरीवाल...

प्रचार के दम पर काम दिखाने की बजाय ठोस काम करें केजरीवाल : आदेश गुप्ता

  • भाजपा ने 26,000 करोड़ के जल बोर्ड घोटाले पर जनसम्पर्क अभियान छेड़ा
  • विजय गोयल ने मेट्रो में सफर कर लोगों से सम्पर्क किया
  • केजरीवाल घोटालों वाली सरकार के मुखिया हैं-मीनाक्षी लेखी
  • सभी मेट्रो स्टेशनों पर और मेट्रो ट्रेन में मौन प्रदर्शन करेंगे।
  • लगभग 1600 कालोनियों में सीवर की व्यवस्था नहीं है

नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने जल बोर्ड में 26000 करोड़ रुपये के हुए बड़े घोटाले में केजरीवाल सरकार को घेरते हुए कहा कि इस मामले में दिल्ली सरकार की चुप्पी यह दर्शाती है कि दाल पूरी तरह काली है। आर के आश्रम मेट्रो स्टेशन के पास जल बोर्ड के घोटाले के खिलाफ जनसंपर्क अभियान की शुरुआत करते हुए आदेश गुप्ता ने कहा कि भाजपा इस पर जन आंदोलन चलाएगी और दिल्ली के प्रत्येक मतदाता तक इस बात को पहुंचाएगी। इस अभियान के तहत पार्टी के युवा मोर्चा, महिला मोर्चा और अनुसूचित जाति मोर्चा के कार्यकर्ता सभी मेट्रो स्टेशनों पर और मेट्रो ट्रेन में मौन प्रदर्शन करेंगे। कार्यकर्ता घोटाले की जानकारी देने वाली टी-शर्ट पहने होंगे ताकि जनता को इसकी जानकारी मिल सके।

आर के आश्रम मेट्रो स्टेशन से शुरू हुए इस जनसंपर्क अभियान के अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष राजन तिवारी और वीरेंद्र सचदेवा, प्रदेश मंत्री इम्प्रित सिंह बख़्शी, भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष वासु रुखड़ सहित बड़ी संख्या में युवा मोर्चा के कार्यकर्ता उपस्थित थे। आदेश गुप्ता ने आरोप लगाया कि दिल्ली जल बोर्ड की राजधानी के सभी मेट्रो स्टेशनों पर और मेट्रो ट्रेन में मौन प्रदर्शन करेंगे। लेकिन प्रदेश के 30 प्रतिशत क्षेत्रों में पानी उपलब्ध नहीं है और लगभग 1600 कालोनियों में सीवर की व्यवस्था नहीं है। सरकार की ओर से जल बोर्ड को जो धनराशि मिलती है उसकी पूरी जानकारी ना जल बोर्ड के पास है और ना हीं केजरीवाल सरकार के पास है। यह राशि जनता के करों (टैक्स) की है जिसका हिसाब केजरीवाल सरकार को देना ही पड़ेगा।

आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल सरकार इस राशि को अपने व्यक्तिगत लाभ के लिए प्रचार और विज्ञापनों में खर्च कर रही है। हाल ही में आई ग्रीन पीस के एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण के कारण प्रतिदिन 148 लोगों की मौत हो रही है। जलवायु और ध्वनि प्रदूषण पर रोकथाम लगाने के बजाय केजरीवाल सरकार प्रचार के दम पर अपने काम जिंदा रखी हुई है। प्रदेश भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने इंद्रलोक मेट्रो स्टेशन पर पूर्व केंद्रीय मंत्री और पूर्व दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष विजय गोयल के नेतृत्व में इस जनसंपर्क अभियान की शुरुआत की। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक गोयल देवराहा और सुनील यादव, प्रदेश मंत्री सुनीता कांगड़ा और अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र गोठवाल उपस्थित थे।

विजय गोयल ने कहा कि 26,000 करोड़ के दिल्ली जल बोर्ड में हुए घोटाले को दिल्ली की जनता तक पहुंचाने के लिए आज यह अभियान चलाया गया है। इसमें कार्यकर्ताओं के साथ मैंने खुद मेट्रो में सफर किया ताकि दिल्ली की हर एक जनता के पास यह संदेश जा सके। अरविंद केजरीवाल और राघव चड्ढा इस मामले में भले ही मौन हैं, लेकिन उनको दिल्ली जल बोर्ड में हुए 26,000 करोड़ रुपये के घोटाले का जवाब देना ही पड़ेगा। प्रदेश महिला मोर्चा कार्यकर्ताओं ने राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वानथी श्रीनिवासन और सांसद मीनाक्षी लेखी के नेतृत्व में जनसम्पर्क अभियान की शुरुवात की। जहां प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव बब्बर, प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष योगिता सिंह, प्रदेश मंत्री गौरव खारी और प्रदेश कार्यालय प्रभारी गिरीश सचदेवा उपस्थित थे।

मीनाक्षी लेखी ने कहा कि दिल्ली वालों के पैसे को आप अपने राजनीतिक लाभ के लिए इस्तेमाल नहीं कर सकते। केजरीवाल सरकार पानी के टैंकर दिल्ली के बाहर बैठे षडयंत्रकारियों के पास लेकर जा सकती है, लेकिन दिल्ली की जनता को पैसे देकर टैंकर मंगवाना पड़ता है, उसपर इनका ध्यान बिल्कुल नहीं है। 26,000 करोड़ रुपये का जलबोर्ड में हुए घोटाले के पाई-पाई का हिसाब दिल्ली की जनता लेगी। केजरीवाल सरकार सिर्फ घोटालों की सरकार है और उनको चेताने के लिए ही यह जनसंपर्क अभियान चलाया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + eighteen =

Must Read