Homeताजा खबरेंजरूरतमंदों तक प्रधानमंत्री मोदी ने पहंुचाया भोजन व खाद्य सामग्री : तिलकराज...

जरूरतमंदों तक प्रधानमंत्री मोदी ने पहंुचाया भोजन व खाद्य सामग्री : तिलकराज कटारिया

दिल्ली सरकार दिल्लीवासियों को गुमराह करने का प्रयास ना करे

उत्तरी निगम के सदन नेता ने प्रधानमंत्री का प्रकट किया आभार

3 महीने तक की राशि 690 करोड़ रु का आबंटन किया गया है

गैस सिलिंडर मुफ्त में देने के लिए दिल्ली को 836.40 करोड़ रु जारी किये

दिल्ली सरकार को कहा कि ज्यादा केमिकल के छिड़काव से स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड़ता है

नई दिल्ली : उत्तरी दिल्ली नगर निगम के नेता सदन तिलक राज कटारिया ने प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया कि कोरोना वायरस जैसी खतरनाक बीमारी के संक्रमण काल में उन्होंने दिल्ली की जनता के हितों का पूरा ध्यान रखा और गरीब व जरूरतमंद लोगों के लिए कच्चा व पका हुआ राशन वितरण करने के लिए दिल्ली को 768 करोड़ रु जारी किये हैं। वहीं, दूसरी ओर दिल्ली सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली सरकार के जनप्रतिनिधि जनता को गुमराह कर रहे हैं जैसे वे अपनी तरफ से ही यह राशन वितरित कर रहे हैं। कटारिया ने कहा कि दिल्ली सरकार के जनप्रतिनिधि जनता को गुमराह न करें कि वे अपनी तरफ से दिल्ली की जनता की सहायता कर रहे हैं। केंद्र सरकार ने कई योजनाओं के तहत दिल्ली के जरूरतमंदों की मदद की है। राजधानी दिल्ली के 46 लाख गरीबों के जन धन खातों मेे प्रति मास 500 रु जमा करने के लिए 3 महीने तक की राशि 690 करोड़ रु का आबंटन किया गया है। केंद्र सरकार ने उज्जवला योजना के अंतर्गत गरीब लाभार्थियों को 3 महीनों तक गैस सिलिंडर मुफ्त में देने के लिए दिल्ली को 836.40 करोड़ रु जारी किये हैं। केंद्र सरकार द्वारा वरिष्ठ नागरिकों व दिव्यांगों के खातों में 3 महीने तक प्रति मास 1000 रु भेजने की व्यवस्था जारी कर दी गयी है और इसके लिए दिल्ली को 243.60 करोड़ रु जारी किये गए हैं। लॉक डाउन जैसे आपात समय में दिल्ली को दिए गए आर्थिक सहायता के लिए कटारिया ने प्रधानमंत्री मोदी व भारत सरकार का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार से गुजारिश है कि इस संबंध में जनता को गुमराह न करे और न ही कोई राजनीति करे। इस आपात स्थिति में हम सभी को मिलकर जनता को हो रही मुश्किलों से बाहर निकालना है।

नेता सदन कटारिया ने बताया कि उत्तरी निगम अपने सभी वार्डों में सेनिटाईजेशन का कार्य 2 बार पूरा कर चुका है लेकिन देखने में आया है कि दिल्ली जल बोर्ड द्वारा कुछ ब्लॉक्स के अंदर सेनिटाइजेशन व केमिकल छिड़काव का कार्य अभी शुरू हुआ है जिससे जनता को कठिनाई महसूस हो रही है। ज्यादा केमिकल के छिड़काव से लोगों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड़ता है इसलिए दिल्ली सरकार द्वारा दिल्ली जल बोर्ड को यह निर्देश देना चाहिए कि यदि जनता की सहायता ही करना चाहते हैं तो वह नगर निगम के साथ समन्वय व तालमेल बिठाकर कार्य करे ताकि डुप्लीकेसी न हो और दिल्लीवासियों के स्वास्थ्य हितों की भी अनदेखी न हो। दिल्ली सरकार सेनिटाइजेशन करने के काम में यदि दिल्ली की जनता की मदद ही करना चाहती है तो दिल्ली के तीनों निगमों को अपने ट्रक मुहैया करवाए ताकि सेनिटाइजेशन के कार्य के अंदर तेजी लायी जा सके जिससे लोग भ्रमित न हो सके और उनकी आवश्यकताएं भी पूरी होती रहे। उन्होंने कहा कि इस समय हमें इस बात को ध्यान में रखकर काम करना होगा। कटारिया ने बताया कि निगम विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए निगम के शिक्षा विभाग द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई की सेवाएं शुरू कर दी गयी हैं। इसके लिए उन्होंने निगम के शिक्षा विभाग और निगम आयुक्त वर्षा जोशी का आभार प्रकट किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 + seven =

Must Read