Homeअंतराष्ट्रीयकिसान समृद्ध और सशक्त होंगे तभी देश आत्मनिर्भर और मजबूत होगा :...

किसान समृद्ध और सशक्त होंगे तभी देश आत्मनिर्भर और मजबूत होगा : भाजपा

  • कृषि बिल के समर्थन में नजफगढ़ जिले के खैरा गांव में जिला महिला मोर्चा द्वारा आयोजित महिला सम्मेलन में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी, प्रदेश उपाध्यक्ष बरखा सिंह एवं दिल्ली भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष योगिता सिंह ने हिस्सा लिया
  • किसानों के साथ हुए अन्याय, शोषण से उन्हें आजादी दिलाने के लिए हमें मिलकर किसानों के हित में फैसले लेने वाली मोदी सरकार का साथ देना होगा
  • कृषि बिलों के माध्यम से किसानों को पूरा अधिकार होगा कि वह अपनी फसल को कितने दामों में और किसे बेचना चाहता हैं, अब उन्हें बिचैलियों का सामना नहीं करना पड़ेगा

नई दिल्ली : कृषि बिल के समर्थन में नजफगढ़ जिले के खैरा गांव में नजफगढ़ जिला महिला मोर्चा द्वारा आयोजित महिला सम्मेलन में दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी, प्रदेश उपाध्यक्ष बरखा सिंह एवं दिल्ली भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष योगिता सिंह ने शिरकत की। महिला सम्मेलन का आयोजन नजफगढ़ जिला महिला मोर्चा अध्यक्ष प्रेमलता गौड़ की अध्यक्षता में किया गया। इस कार्यक्रम में महिला मोर्चा प्रभारी विशाखा शैलानी, महिला मोर्चा उपाध्यक्ष पुष्पा राजपूत, दिल्ली भाजपा बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ अध्यक्ष अमित खड़खड़ी, जिलाध्यक्ष विजय सोलंकी, निगम पार्षद मीना तरुण यादव, नजफगढ़ विधानसभा संयोजिक वेदवती यादव, मंडल अध्यक्ष विजेंद्र चैहान, सुनीता डबास, राज शर्मा, राजबाला हुडा, मुनेश यादव शशिबाला मेहता, राजवती, अंजू बाला, कविता भार्गव सहित बड़ी संख्या में किसान परिवार की महिलाओं ने हिस्सा लिया।

इस अवसर पर नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने उपस्थित लोगों को कृषि बिल के बारे में विस्तृत जानकारी दी और दिल्ली की निकम्मी व किसान विरोधी सरकार को उखाड़ फेंकने का अनुरोध किया। क्योंकि अब किसानों के साथ हो हुए अन्याय, शोषण से उन्हें आजादी दिलाने के लिए हमें मिलकर किसानों के हित में फैसले लेने वाली मोदी सरकार का साथ देना होगा। किसान समृद्ध और सशक्त होंगे तभी देश आत्मनिर्भर और मजबूत होगा। योगिता सिंह ने कहा कि हमारे किसान भाई-बहन बिचैलियों द्वारा फैलाए गए मकड़जाल में जकड़े हुए हैं और बिचैलिए उनका शोषण करते हैं जिसके कारण किसानों को अपनी फसल का सही दाम नहीं मिल पाता है।

कृषि बिलों के माध्यम से किसानों को पूरा अधिकार होगा कि वह अपनी फसल को कितने दामों में और किसे बेचना चाहता हैं, अब उन्हें बिचैलियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। इससे किसान अपनी आय को दोगुना करने की दिशा में आगे बढ़ेंगे और उनका विकास होगा जिससे देश की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में 21वीं सदी का किसान बंधनमुक्त होकर आजादी के साथ खेती करेगा और भारत को सुदृढ़ बनाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read