Homeताजा खबरेंबड़े-बड़े देश कोरोना की आंधी में तबाह हो गए, जबकि भारत ने...

बड़े-बड़े देश कोरोना की आंधी में तबाह हो गए, जबकि भारत ने साहस दिखाया: मिलिन्द पराडे

  • विश्व हिन्दू परिषद ने खाद्य सामग्री वितरित कर, कोरोना योद्धाओं को किया सम्मानित
  • कोरोना योद्धाओं के साहस और समर्पण के बल देश का नाम लिया जाता है
  • निगम कर्मियों के बिना कोरोना से जंग असंभव: तुलसी जोशी

नई दिल्ली : विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय कार्यालय, रामकृष्ण पुरम सेक्टर-6 के निकटवर्ती क्षेत्रों में रहने वाले तथा काम करने वाले सफाई कर्मियों (कोरोना योद्धाओं) को विश्व हिन्दू परिषद के महामंत्री मिलिन्द पराडे ने आवश्यक खाद्य सामग्री वितरित कर सम्मानित किया। जिसमें निगम पार्षद एवं साउथ जोन अध्यक्ष तुलसी जोशी भी रही। तुलसी जोशी ने कहा कि निगम कर्मियों के बिना कोरोना से जंग असंभव है। इस दौरान महामंत्री परांडे ने सभी कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि भारत ने विश्व के सभी देशों की तुलना में अधिक प्रभावी तरीके से इस महामारी के विरूद्ध अपना शानदार प्रदर्शन इन योद्धाओं के साहस और समर्पण के बल किया है। करीब 140 करोड़ की आबादी का देश जिसकी स्वास्थ्य सुविधा भी कई विकसित देशों से पिछड़ी बताई जाती रही है।


महामंत्री मिलिन्द पराडे ने कहा कि इस स्थिति ने भी यह सिद्ध कर दिया है कि अगर सात्त्विक चित्त से कोई भी कार्य संकल्पित होकर समर्पण के भाव से किया जाए, तो सभी कठिनाइयां अवसर में बदल जाती हैं। कथित बड़े बड़े देश कोरोना की आंधी में तबाह हो गए, जबकि भारत ने अपने नेतृत्व और साहस का अद्भुत प्रदर्शन कर दुनिया को समर्पण का मूल्य दिखाया है। यह सब केवल कोरोना योद्धाओं के कारण ही संभव हुआ है। सभी देशवासियों के लिए यह सभी योद्धा किसी वरदान या ईश्वर के दूत जैसे है, हम सभी को इनका सम्मान अभिनंदन करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 − 2 =

Must Read