Homeअंतराष्ट्रीयभाजपा और आप झुग्गीवासियों को पुनर्वास करने के मामले में दोगली व...

भाजपा और आप झुग्गीवासियों को पुनर्वास करने के मामले में दोगली व दोहरा मापदंड अपना रही है : कांग्रेस

  • सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद से ही रेलवे ट्रेक पर बसी लगभग 48000 झुग्गियों पर उजड़ने की तलवार लटकी हुई है
  • भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम तथा दिल्ली की अरविन्द सरकार दोनो सस्ती राजनीति कर रही हैं क्योंकि चुनाव में दोनो ने ही झुग्गीवासियों का केवल वोट बैंक के रुप में इस्तेमाल किया था।
  • भाजपा की केन्द्र सरकार का गरीब विरोधी चेहरा शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी द्वारा राज्यसभा में दिये गए जवाब से साफ हो गया
  • भाजपा और आम आदमी पार्टी झुग्गीवासियों को पुनर्वास करने के मामले में दोगली व दोहरा मापदंड अपना रही है
  • दिल्ली विधानसभा के एक दिवसीय सत्र में आम आदमी पार्टी और भाजपा ने रेलवे लाईन के पास बसे झुग्गी कलस्टरां को विस्थापित करने की बजाय केवल नूरा कुश्ती कर रहे है
  • रेलवे ट्रेक पर बसे लगभग 48000 झुग्गी कलस्टरों को उजाड़ने पर अगली सुनवाई तक रोक सुप्रीम कोर्ट से स्टे मिल गया है, जिसकी याचिका प्रदेश कांग्रेस द्वारा दर्ज करवाई गई थी

नई दिल्ली : दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने भाजपा और आम आदमी पार्टी पर दिल्ली में लगभग 140 किलोमीटर रेलवे लाईन पर बसे जेजे कलस्टरों के संबध में दोगली और दोहरे मापदंड की बात करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के अलावा सभी पार्टियों ने झुग्गीवासियों को पुर्नवासित करने के लिए खोखले वायदो के अलावा जमीनी स्तर को कोई काम नही किया है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद से ही रेलवे ट्रेक पर बसी लगभग 48000 झुग्गियों पर उजड़ने की तलवार लटकी हुई है, और भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम तथा दिल्ली की अरविन्द सरकार दोनो सस्ती राजनीति कर रही हैं क्योंकि चुनाव में दोनो ने ही झुग्गीवासियों का केवल वोट बैंक के रुप में इस्तेमाल किया था।

प्रदेश कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार का गरीब विरोधी चेहरा शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी द्वारा राज्यसभा में दिये गए जवाब से साफ हो गया जब उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत JNNRUM के तहत दिल्ली में बने 14500 फ्लैटों को भारत सरकार की Affordable Rental Housing Complexes Scheme के तहत इन फ्लैटों को गरीब लोगों को किराए पर देने की योजना बना रही है जिससे भाजपा सरकार ने 2329 करोड़ रुपया कमाने का लक्ष्य रखा है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि इस कार्यवाही से भाजपा द्वारा गरीबों को झुग्गियों की जगह मकान देने और जहां झुग्गी वही मकान देने की घोषणा खोखली साबित होती है। संवाददाता सम्मेलन में पूर्व विधायक विजय सिंह लोचव और चौ0 मतीन अहमद भी मौजूद थे।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि एक ओर भाजपा और आम आदमी पार्टी दिल्ली में बसी झुग्गियों को तोड़ने का काम कर रही है, और दूसरी ओर अपने असली चेहरे को छिपाकर गरीब झुग्गीवासियों से उनके साथ होने का ढ़ोंग कर रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासित पूर्वी दिल्ली नगर निगम ने 8 जुलाई, 2020 को पूर्वी लक्ष्मी मार्केट में दलित और अल्पसंख्यक लोगों की झुग्गियांं को तोड़ा गया। उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय भाजपा सांसद गौतम गंभीर द्वारा प्रभावित क्षेत्र का दौरा करने के बावजूद भी इन्हें विस्थापित नही किया गया। उन्होंने कहा कि पिछले सप्ताह अरविन्द सरकार के संबधित विभाग ने झुग्गियों को तोड़ने में अग्रणी भूमिका दिखाई, जहां यमुना खादर में लगभग 200 झुग्ग्यिं को उजाड़ दिया और भाजपा शासित दक्षिणी दिल्ली नगर निगम ने नंगली सकरावती डेयरी कालोनी में लगभग 300 झुग्गियों को तोड़ने के नोटिस दिए है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि यह कांग्रेस के अथक प्रयासों के कारण ही संभव हो सका कि रेलवे ट्रेक पर बसे लगभग 48000 झुग्गी कलस्टरों को उजाड़ने पर अगली सुनवाई तक रोक सुप्रीम कोर्ट से स्टे मिल गया है, जिसकी याचिका प्रदेश कांग्रेस द्वारा दर्ज करवाई गई थी । जबकि भाजपा और आम आदमी पार्टी ने झुग्गीवासियों के लिए कुछ नही किया। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि रेलवे ट्रेक के साथ जेजे क्लस्टर को हटाने के सुप्रीम कोर्ट आदेश के तुरंत बाद ही उन्होंने सराय रोहिल्ला में जेजे कलस्टर का दौरा करके उनकी परेशानियों की जानकारी ली थी और उन्हें आश्वासन दिया था कि दिल्ली कांग्रेस उनकी झुग्गियों के उजाड़ने से रोकने हर संभव प्रयास करेगी। अगर जरुरत पड़ी तो झुग्गी कलस्टरों की मांग और उनकी लड़ाई को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ता अपने घरों से निकलकर सड़क पर भी उतरेगें।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि भाजपा और आम आदमी पार्टी गरीब झुग्गी कलस्टरों को पुनर्वास के झूठे वायदे करके गुमराह करने का खेल खेल रही है, जबकि दोनो के कथनी और करनी में अंतर है। दिल्ली विधानसभा के एक दिवसीय सत्र में मुख्यमंत्री अरविन्द ने जे.जे. कलस्टरों को पुर्नवासित करने के लिए न तो कोई सुझाव रखा और न ही किसी योजना का प्रस्ताव रखा केवल भाजपा और आम आदमी पार्टी ने एक दूसरे से नूरा कुश्ती कर रही है। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस को इस बात का संदेह था कि 2020 के दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा द्वारा सोशल मीडिया पर फेक अकाउंट के माध्यम से नफरत और झूठे प्रचार फैलाने का कार्य फेसबुक पर एक पूर्व कर्मचारी द्वारा मान्य किया गया था, जिसका खुलासा इंटरनल नोट के द्वारा सामने आया कि भाजपा द्वारा सोशल मीडिया का व्यापक रुप से उपयोग किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 + fourteen =

Must Read