Wednesday, February 21, 2024
Homeताजा खबरेंदिल्ली सरकार और एमसीडी न केवल डेंगू के खिलाफ लड़ाई में विफल...

दिल्ली सरकार और एमसीडी न केवल डेंगू के खिलाफ लड़ाई में विफल रही है : सचदेवा

– बल्कि दूषित जल आपूर्ति के कारण टाइफाइड के मामले भी दिल्ली में बढ़ रहे हैं – सीएम केजरीवाल को तुरंत एमसीडी और दिल्ली जलबोर्ड के माध्यम से फॉगिंग और जल शुद्धिकरण गोलियों का वितरण शुरू करना चाहिए 

नई दिल्ली 23 अक्टूबर 2013 : दिल्ली भाजपा अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार की लापरवाह कार्यप्रणाली के कारण दिल्ली में डेंगू, मलेरिया और टाइफाइड के बढ़ते मामलों पर चिंता व्यक्त की है। डेंगू, मलेरिया और टाइफाइड रोगियों के अस्पताल में भर्ती होने की संख्या में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है। दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार दिल्ली में विश्व स्तरीय स्वास्थ्य प्रणाली का दावा करती है लेकिन डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियों से लड़ने में असमर्थ है। आप शासित एमसीडी की उदासीनता के कारण घरेलू प्रजनन जांचकर्ताओं को समय पर वेतन नहीं मिल रहा है, इसलिए वे मच्छरों के प्रजनन की जांच करने का अपना कर्तव्य नहीं निभा रहे हैं और न ही मलेरिया रोधी फॉगिंग की जा रही है। दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष ने सीएम केजरीवाल से एमसीडी और दिल्ली जल बोर्ड के माध्यम से तुरंत फॉगिंग और जल शुद्धिकरण गोलियों का वितरण शुरू करने का आग्रह किया है।

पिछले साल तक मुख्यमंत्री केजरीवाल केवल पूर्ववर्ती भाजपा शासित एमसीडी को नीचा दिखाने के लिए 10 सप्ताह, 10 रविवार, 10 मिनट जैसे डेंगू विरोधी जागरूकता अभियान चलाते थे, लेकिन अब एमसीडी में उनकी आम आदमी पार्टी के सत्ता में आने के बाद केजरीवाल सरकार कोई जागरूकता अभियान नहीं चला रही है। सचदेवा ने कहा कि इसी तरह अस्पताल में भर्ती होने वाले टाइफाइड के मरीजों की संख्या में भी भारी वृद्धि हो रही है, खासकर समाज के निचले तबके से, क्योंकि वे दिल्ली जल बोर्ड द्वारा आपूर्ति किए जा रहे दूषित पानी का सेवन करने के लिए मजबूर हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments