Thursday, February 22, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयवेतन विहीन निगम कर्मचारियों की हड़ताल के कारण सड़कों पर कूड़े के...

वेतन विहीन निगम कर्मचारियों की हड़ताल के कारण सड़कों पर कूड़े के ढेर लगे है : कांग्रेस

  • अरविन्द का तानाशाह रवैये और बदले की भावना से काम करके जानबूझ कर निगम कर्मचारियों के वेतन की राशि जारी नही कर रहे हैं
  • अरविन्द सरकार जनता के प्रति पूर्णत असंवेदनशील है और वेतन विहीन निगम कर्मचारियों की हड़ताल के कारण सड़कों पर कूड़े के ढेर लगे है
  • दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द और भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम दोनो पार्टियां भ्रष्टाचार के आंकठ में डूबी हुई है – चौ0 अनिल कुमार

नई दिल्ली : दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द और भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम पर आरोप लगाया कि दोनो पार्टियां भ्रष्टाचार के आंकठ में डूबी हुई है और आपसी मिलीभगत करके दिल्लीवासियों को गुमराह कर रहे है और निगम कर्मचारियों के रुके हुए वेतन को लम्बे समय तक जानबूझ कर रोका जा रहा है। दिल्ली सरकार एक तानाशाह की भंति दिल्ली नगर निगम के योजना और विकास के मद की राशि को कर्मचारियों के वेतन के नाम पर दे रही है और जब वेतन की मांग होती होती है तो राशि को विकास कार्यां का बहाना कर देते हैं।

चौ0 अनिल कुमार ने मांग की कि दिल्ली की अरविन्द सरकार कर्मचारियों को वेतन भी समय पर दे और विकास कार्य भी कराऐं, आप अपनी जिम्मेदारी से भागकर बदले की भावना के कारण दिल्ली की योजनाएं और विकास पूरी तरह ठप पड़ गए है। उन्होंने कहा कि अरविन्द केजरीवाल नगर निगम चुनाव को देखते हुए निगम और दिल्ली सरकार के मामालां नूराकुश्ती करके बड़े-बड़े भ्रष्टाचार से ध्यान भटका रहे हे। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि अरविन्द भ्रष्टाचार के नाम पर आंदोलन करके सत्ता में आए थे परंतु आज भाजपा की तरजीह पर भ्रष्ट नेताओं को खोजकर अपनी पार्टी में शामिल करने का काम कर रहे है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि अरविन्द सरकार की जनता के प्रति पूर्णत असंवेदनशील है क्योंकि निगम कर्मचारियों की हड़ताल के कारण सड़कों पर कूड़े के ढेर लगे है, यदि दिल्ली सरकार पांचवे वित्त आयोग के अनुसार 7000 करोड़ की लंबित राशि निगम को दे देती है तो निगम कर्मचारियों को समय पर वेतन मिल सकेगा। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि बहुत ही आश्चर्य की बात है कि निगम कर्मचारियों के वेतन न मिलने पर हड़ताल पर जाने की धमकी पर दिल्ली सरकार ने निगम अस्पतालों को टीकाकरण अभियान से ही हटा दिया। जबकि टीकाकरण अभियान पर भाजपा और आम आदमी पार्टी बड़ी-बड़ी बयानबाजी कर रही हैं।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली में कांग्रेस के शासन काल में भाजपा शासित निगम में कर्मचारियों को वेतन मिलने में कोई विवाद नही था। उन्होंने कहा यदि अरविन्द सरकार कांग्रेस सरकार की ओर से देने वाली राशि देती तो निगम को 5200 करोड़ रुपये और मिलते, परंतु इसके उलट अरविन्द सरकार ने निगम को कांग्रेस द्वारा दी जाने वाली राशि में भारी कटौती कर दी। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस पार्टी, दोनो पार्टियों भाजपा और आम आदमी पार्टी द्वारा की जा रही दिखावटी नूरा कुश्ती का सच और भ्रष्टाचार की पोल खोलकर जनता के सामने लाएगी। चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि एक नियोजित कार्यक्रम के तहत भाजपा और आम आदमी पार्टी गठबंधन के तहत पोस्टबाजी करके एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे है ताकि हजारों करोड़ रुप के भ्रष्टाचारों को छुपाकर रखे ताकि जनता के सामना न आ पाए।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments