Wednesday, July 10, 2024
Homeताजा खबरेंनजरबंदी और एफआईआर करने से गरीबों की सेवा को लेकर मेरा संकल्प...

नजरबंदी और एफआईआर करने से गरीबों की सेवा को लेकर मेरा संकल्प और मजबूत हुआ है: चौ. अनिल कुमार

  • पश्चिमी और पूर्वी विनोद नगर के आइसोलेशन संन्टर की स्थिति अत्यंत दयनीय है
  • दिल्ली सरकार ने इन प्रवासियों को लोगों से छिपाने के लिए इन सेंटरों की स्थापना की है
  • प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अनिल कुमार ने आइसोलेशन सेंटर में प्रवासी श्रमिकों को शरबत और खाना वितरित किया
      

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस चाहे मुझे नजरबंद करे या फिर मेरे खिलाफ एफआईआर दर्ज करें लेकिन गरीब प्रवासी श्रमिकों के प्रति मदद करने के मेरे संकल्प को तोड़ नहीं सकती। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने सोमवार को गरीबों व जरूरमंदों की सेवा करते हुए कहा कि इससे मेरा इरादा और मजबूत हो गया है और जहां गरीबों को मदद की जरुरत होगी, हम मानवता और सेवा धर्म को सर्वोपरि मानते हुए गरीबों की हर संभव मदद करेंगे। उन्होंने गरीबों की मदद करने पर जोर देते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण जब यह लोग भंयकर संकट की स्थिति से गुजर रहे है, अगर इनकी मदद करना एक अपराध है जिसके लिए हमें दोषी ठहराया गया है तो इसका हमें कोई पछतावा नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी की संस्कृति और इतिहास लोगों की सेवा करने का रहा है और जब यह प्रवासी श्रमिक दुर्गम कठिनाइयों से गुजर रहे हैं तो दिल्ली कांग्रेस गरीब प्रवासी श्रमिकों की न केवल मदद कर रही है बल्कि कांग्रेस के गौरवशाली अतीत को फिर से जीवंत कर रही है। उन्होंने कहा कि जब यह पीड़ित प्रवासी श्रमिक अपने-अपने गृह राज्यों को दिल्ली होकर जा रहे है, इनकी मदद करना हमारा कर्तव्य है।

चौ0 अनिल कुमार ने आज पटपड़गंज विधानसभा में स्थित पश्चिमी और पूर्वी विनोद नगर के आइसोलेशन सेन्टरों का दौरा किया, वहां की स्थिति देखकर गहरा दुख हुआ कि वहां पर आइसोलेटेड प्रवासी श्रमिकों की दशा बहुत ही दयनीय थी, जिन्हें जानवरों की तरह रखा जा रहा है और सामाजिक दूरी, व्यक्तिगत स्वच्छता, रहने की स्थिति में लॉकडाउन के नियमों का पालन तक नही किया जा रहा है, जबकि यह क्षेत्र दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का विधानसभा क्षेत्र है। इस मौके पर चै0 अनिल कुमार, पूर्व विधायक अमरीश गौतम, जिला अध्यक्ष दिनेश कुमार और गुरचरण सिंह राजू, ब्लाक अध्यक्ष विजेन्द्र चैधरी, राजेश यादव, राजबीर गोला, विजेन्द्र महतो, डी.पी. मौर्या मुख्य रुप से मौजूद थे।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली सरकार अपनी नाकामियों को छिपाना चाहती है कि आइसोलेशन सेन्टर में रखे गए इन गरीब श्रमिकों की दुर्दशा इनती दयनीय है और वह चाहते है कि इनकी हालत लोगो न पता चले। जबकि केजरीवाल टीवी शो में व्यस्त है और राजधानी में महामारी के तेजी से प्रसार को रोकने के लिए समय पर जांच नही की जा रही है। उन्होंने कहा कि आइसोलेशन केन्द्रों में प्रवासी श्रमिक इतनी अधिक संख्या में है कि उनकी लाईन सड़कों तक है और इनमें गर्भवती महिलाओं जिनको अधिक सावधानी की जरुरत है, वहां पर गलियों इतनी गंदी है कि वहां शौच ऊपर तक बह रहा है, जो उनके जीवन के लिए एक गंभीर खतरा साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा प्रेस अपार्टमेंट से मंगलम अस्पताल तक एक तरफ की सड़क को बंद कर रखा है। जिससे आईसोलेशन केंद्रों में रह रहे प्रवासी श्रमिकों की दयनीय स्थिति को लोगों और मीडिया की नजरों से छिपाया जा सके।
 
चौ0 अनिल कुमार ने पहले प्रवासी श्रमिकों को शर्बत बांटा और उसके साथ-साथ रोटियां, चावल, दाल, आलू-बड़ी की सब्जी सहित ठंडे पानी से युक्त पौष्टिक भोजन का वितरण किया इस अवसर पर कांग्रेस कार्यकर्ता भी उनके मौजूद थे। जबकि  केजरीवाल सरकार ने इन गरीबों को मूल सुविधाऐं देने के लिए पूरी तरह नजरअंदाज कर दिया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments