सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान नहीं रख रहें राशन उपभोक्ता

0
38
  • प्रशासन और राशन उपभोक्ता हो रहे लापरवाह

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर किए गए लाॅकडाउन को देखते हुए दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में राशन वितरण का कार्य शुरू हो गया है, ताकि राशन उपभोक्ताओं व जरूरतंमद गरीबों को भोजन के लिए दिक्कतों का सामना न करना पड़े। लेकिन इस दौरान देखने में आया है कि न तो प्रशासन ही
दिल्ली सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करा पा रहे हैं और न ही खुद राशन उपभोक्ता निर्देशों का पालन कर रहे हैं।
दिल्ली के नरेला, बवाना, बुराड़ी इलाके से ऐसी जानकारी मिल रही है कि वहां राशन कोटे के बाहर अनाज आदि की जल्द बाजी को लेकर उपभोक्ता भीड़ लगा रहे हैं और सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान नहीं रखा जा रहा है। वहीं, शुक्रवार को पर्वी दिल्ली के कौंडली इलाके के जल बोर्ड के दफ्तर में बने विधायक कार्यालय से राशन की पर्ची लेने के लिए लंबी-लंबी कतारें लग गयी। बताया जाता है कि जिन लोगों के पास राशन कार्ड नहीं है, उन लोगों को
विधायक के ऑफिस से अस्थायी राशन कार्ड बनवाने के लिए फार्म को भरने के बाद पर्ची मिल रही है ताकि उस पर्ची से राशन ले सके। इस बारे में
विधायक कुलदीप कुमार का कहना है कि राशन कार्ड की वेबसाइट में तकनीकी दिक्कत आ रही है जिसके कारण ऐसा किया गया है ताकि जरूरतमंद लोगों
को परेशानी न हो। यहां आने वाले लोगों से कहा जा रहा है कि अपने मोबाइल से ही वेबसाइट पर जाकर राशन के लिए अप्लाई कर दे और उसकी फोटो
खींच ले। लेकिन कुछ ऐसे भी हैं जो अनपढ़ हैं उन्हें नेट चलना ‌‌नहीं आता है। वे राशन की पर्ची केे लिए सुबह से लाइन में लग जाते हैं। यहां खड़े लोगों
का कहना है कि पर्ची देने के लिए कोई समय सीमा तय नहीं है सुबह से ही लोग पर्ची लेने के लिए लंबी लाइन में लग जाते हैं। इस दौरान सोशल
डिस्टेंसिंग का ध्यान भी नहीं रखा जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here