Homeअंतराष्ट्रीयचिकित्सा सेवा में निरंतर अपग्रडेशन, नई तकनीक, रिसर्च, नये अविष्कार की आवश्यकता...

चिकित्सा सेवा में निरंतर अपग्रडेशन, नई तकनीक, रिसर्च, नये अविष्कार की आवश्यकता है : उपराज्यपाल

-उत्तरी दिल्ली नगर निगम मेडिकल कॉलेज एवं हिन्दुराव अस्पताल के दूसरे दीक्षांत समारोह का आयोजन – डॉक्टर मानव स्वास्थ्य, उपचार और प्रबंधन के अग्रणी होने के नाते अपने ज्ञान और कौशल को बढ़ाने और अपग्रेड करते रहें – डॉक्टर मानव स्वास्थ्य, उपचार और प्रबंधन के अग्रणी होने के नाते अपने ज्ञान और कौशल को बढ़ाने और अपग्रेड करते रहें

नई दिल्ली, 8 अगस्त 2022 : चिकित्सा सेवा में निरंतर अपग्रडेशन की आवश्यकता है। इसमें नई तकनीक, रिसर्च, नये अविष्कार की आवश्यकता है जिससे समय की आवश्यकता के अनुसार मानव सेवा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जा सके। दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना सिविक सेंटर में आयोजित दीक्षांत समारोह में डॉक्टर्स को संबोधित करते हुए कहा कि आप सभी मानव स्वास्थ्य, उसके उपचार और प्रबंधन के अग्रणी हैं आप सभी से उम्मीद है कि अपने ज्ञान और कौशल को बढ़ाने और अपग्रेड करते रहें। इस मौके पर उपराज्यपाल ने मानव सेवा की दिशा में भविष्य में बेहतर कार्य करने शुभकामनाएं दी।

बता दें कि दिल्ली नगर निगम मुख्यालय सिविक सेंटर में सोमवार को उत्तरी दिल्ली नगर निगम मेडिकल कॉलेज एवं हिन्दुराव अस्पताल के दूसरे दीक्षांत समारोह का आयोजन किया गया। यह दीक्षांत समारोह दिल्ली नगर निगम मुख्यालय केदारनाथ साहनी सभागार, सिविक सेंटर में हिन्दुराव मेडिकल कॉलेज के 2014-15 बैच के लिए आयोजित किया गया था। इस मौके पर दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। उनके अलावा दिल्ली नगर निगम के विशेष अधिकारी अश्विनी कुमार; निगमायुक्त ज्ञानेश भारती; अतिरिक्त आयुक्त हरलीन कौर; निदेशक, अस्पताल प्रशासन, डॉ अरूण कुमार; हिन्दुराव मेडिकल कॉलेज के डीन, डॉ सौदान सिंह सहित काफी संख्या में मेडिकल के विद्यार्थी और उनके अभिभावक भी मौजूद थे।

–  स्वास्थ्य भारत सरकार की प्राथमिकता है
उपराज्यपाल ने कहा कि स्वास्थ्य भारत सरकार की प्राथमिकता है। सरकार अपने हेल्थ और मेडिसिन स्ट्रक्चर को बेहतर करने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि किसी भी देश की उत्पादकता उसकी जनता के स्वास्थ्य पर निर्भर करती है। सरकार अपने उपलब्ध संसाधनों के अनुसार विभिन्न स्तरों पर लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए विभिन्न योजनाएं बना रही है जैसे आयुष्मान भारत, जन औषधीय तथा प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना इसके कुछ उदाहरण हैं जो हाशिये पर बैठे लोगों को भी गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने का महत्वपूर्ण कार्य कर रहीं है।

– डॉक्टर्स और जनस्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है
उपराज्यपाल ने कहा कि जन-जन को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए डॉक्टर्स और जनस्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। उन्होंने दिल्ली में प्राइवेट सेक्टर के मेडिकल प्रोफेशनल्स को स्वास्थ्य क्षेत्र में अपना योगदान देने का आह्वान किया। उन्होंने कोविड के दौरान जन सेवा में डाक्टर्स द्वारा किये गये उनके सराहनीय कार्यों, उनकी निष्ठा और प्रतिबद्धता की जमकर प्रशंसा की और कहा कि आप सभी के सामूहिक प्रयत्नों के कारण ही देश ने कोरोना के खिलाफ सफलतापूर्वक लड़ाई लड़ी और देश में सफलतापूर्वक वैक्सीनेशन अभियान चलाया।

– पूरी लगन, निष्ठा और मेहनत से कार्य करते रहें डॉक्टर्स
विशेष अधिकारी अश्विनी कुमार ने सभी स्नातक डॉक्टर्स को बधाई देते हुए कहा कि विद्यार्थी जीवन के बाद आप सभी व्यवहारिक विश्व में कदम रखेंगे जहां पर तमाम प्रकार के कठिनाईयां से जूझना होगा, ऐसे में प्रत्येक डॉक्टर से यह आशा की जाती है कि वो पूरी लगन, निष्ठा और मेहनत से कार्य करते हुए अपने नैतिक मूल्यों को सर्वाेपरि रखेंगे। उन्होंने सभी डॉक्टर्स को संबोधित करते हुए कहा कि कोरोना के समय में आपने जिस ईमानदारी और प्रतिबद्धता से काम किया उसकी जितनी प्रशंसा की जाये कम हैं।

–  स्वयं को पूर्णतः समाज सेवा में समर्पित करने का समय है
दिल्ली नगर निगम के आयुक्त ज्ञानेश भारती ने सभी स्नातक डॉक्टर्स को बधाई दी और भविष्य में चिकित्सा क्षेत्र में ऊँचे मुकाम हासिल करने के लिए शुभकामनाएं दीं। उन्होंने स्नातक डॉक्टर्स की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि डिग्री प्राप्त करने के बाद स्वयं को पूर्णतः समाज सेवा में समर्पित करने का समय है। उन्होंने कहा कि किसी भी रोगी का इलाज करते समय संयम और ईमानदारी से काम लें और पूरी निष्ठा से अपने कर्तव्य का पालन करें। उन्होंने हिन्दुराव कॉलेज के सभी शिक्षकों को बधाई दी और कहा कि कम संसाधनों के बावजूद छात्रों के उत्कृष्ट परिणाम के लिए सभी शिक्षकों के प्रयास निश्चित रूप से सराहनीय हैं।

– वर्तमान में इस कॉलेज में 230 एमबीबीएस विद्यार्थी पढ़ रहें है
दिल्ली नगर निगम के अनुसार वर्ष 2013 में उत्तरी दिल्ली नगर निगम हिन्दुराव मेडिकल कॉलेज की स्थापना की गई जिसे गुरू गोविन्द सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय से मान्यता प्राप्त है। कॉलेज 50 छात्रों के साथ शुरू किया गया पर 2019 में इसकी क्षमता बढाकर 60 कर दी गई। वर्तमान में इस कॉलेज में 230 एमबीबीएस विद्यार्थी पढ़ रहें है तथा 50 डॉक्टर्स इंटर्नशिप कर रहे हैं। हिन्दुराव अस्पताल गरीबी रेखा से नीचे के तबके को स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने का कार्य कर रहा है। यह अस्पताल 980 बैड का मल्टीस्पेशिलिटी अस्पताल के रुप में प्रतिस्थापित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen + 18 =

Must Read