Monday, May 13, 2024
Homeताजा खबरेंदिल्ली सरकार की परियोजना लागत गणना प्रणाली की जांच के आदेश देने...

दिल्ली सरकार की परियोजना लागत गणना प्रणाली की जांच के आदेश देने की आवश्यकता है : सचदेवा

–  फ्लाईओवर निर्माण की परियोजनाओं की लागत गणना में है कुछ गड़बड़ 

नई दिल्ली  

 दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने रविवार को सीएम केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का पांच फ्लाईओवर निर्माण की लागत में 557 रुपये बचाने का दावा बताता है कि परियोजनाओं की लागत गणना में कुछ गड़बड़ है और दिल्ली सरकार की परियोजना लागत गणना प्रणाली की जांच के आदेश देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि दिल्लीवासी केजरीवाल सरकार की बार-बार यह बात सुनकर तंग आ चुके हैं कि हम ही एकमात्र सरकार हैं जो फ्लाईओवर निर्माण की लागत बचाती है। सचदेवा ने कहा है कि एक बार के लिए यह सुनना अच्छा लग सकता है कि फ्लाईओवर परियोजना में राशि बचाई गई है, लेकिन जब परियोजना दर परियोजना हमें अनुमानित लागत पर पर्याप्त बचत के बारे में सुनना पड़ता है तो यह सवाल उठता है कि परियोजना लागत की गणना कैसे की जाती है। सचदेवा ने कहा है कि स्वीकृत लागत और वास्तविक लागत के बीच उच्च अंतर इंगित करता है कि लागत गणना प्रणाली में कुछ भ्रष्टाचार है या गुणवत्ता से समझौता है।
       अध्यक्ष सचदेवा ने कहा है कि उद्धृत की गई पांच परियोजनाओं में स्वीकृत लागत और वास्तविक लागत के बीच 10 प्रतिशत से 30 प्रतिशत का अंतर है, जिससे लोक निर्माण विभाग या अन्य परियोजना एजेंसी की अनुमानित स्वीकृत लागत गणना पर सवाल खड़ा हो गया है। ऐसी 2 संभावनाएं हैं कि या तो आम आदमी पार्टी की वास्तविक लागत और राजनीतिक कटौती का ध्यान रखने और बाद में लागत पर बचत का दावा करने के लिए परियोजनाओं की अनुमानित स्वीकृत लागत की गणना असामान्य रूप से उच्च राशि पर की गई थी या फिर परियोजनाओं पर गुणवत्ता से समझौता किया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments