Saturday, June 22, 2024
Homeताजा खबरेंदम घोट देने वाला प्रदूषण दिल्ली में है, इस भयंकर प्रदूषण से...

दम घोट देने वाला प्रदूषण दिल्ली में है, इस भयंकर प्रदूषण से लगातार मौतें हो रही है : नाजिया

– दिल्ली नगर निगम की बैठक में कांग्रेस के सभी पार्षदों ने जानलेवा प्रदूषण और डेंगू को लेकर अपना विरोध दर्ज कराया

– न बोलने देने पर वैल में जाकर जोरदार नारेबाजी की।

नई दिल्ली, 31 अक्टूबर, 2023 : राजधानी में जानलेवा प्रदूषण व डेंगू की बीमारी को लेकर आज दिल्ली नगर निगम की बैठक में कांग्रेस पार्षदों ने बैनर व तख्तियां हाथ में लेकर महापौर शैली ओबेरॉय, निगम अधिकारियों व प्रशासन को चेताया। जैसे ही निगम की बैठक शुरू हुई कांग्रेस के निगम पार्षद अपनी बात विस्तार से सदन में रखना चाहते थे, जब महापौर ने उन्हें इजाजत नहीं दी तो पार्टी के पार्षदों ने अपनी सीटों से उठकर वैल में जाकर निगम में बैठे अधिकारियों व प्रशासन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। कांग्रेस पार्षदों में कांग्रेस दल की नेता नाजिया दानिश, नाजिया खातून, शीतल, शगुफ्ता चौधरी, सबिला बेगम, हाजी जरीफ और समीर अहमद के अलावा निगम प्रभारी जितेन्द्र कुमार कोचर और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जगजीवन शर्मा निगम में मौजूद थे। ज्ञातव्य है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने दिल्ली में जवाब दो-हिसाब दो अभियान शुरु कर रखा है, उसी के अंतर्गत कांग्रेस के सभी निगम पार्षदों की बैठक में यह निर्णय लिया गया था। इस बैठक में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरविन्दर सिंह लवली, पूर्व विधायक एवं वरिष्ठ नेता मुकेश शर्मा, निगम के प्रभारी जितेन्द्र कुमार कोचर मौजूद थे।

कांग्रेस के पार्षदों ने जानलेवा प्रदूषण व डेंगू को लेकर अपने गले में बैनर लटका रखें थे, जिसमें निगम से जवाब व हिसाब मांगा गया था। इसके अलावा कांग्रेस पार्षदों की मांग थी कि दिल्ली में अस्थाई सफाई कर्मचारियों सहित निगम में सभी अन्य कर्मचारियों को तुरंत प्रभाव से पक्का किया जाए। पार्टी पार्षदों की यह भी मांग थी कि निगम में आवश्यकता अनुसार नए सफाई कर्मचारियों की भर्ती भी की जाए। कांग्रेस पार्षदों की नारेबाजी के बीच महापौर ने बिना चर्चा के ही एजेंडा पास कर दिया, जो गैर कानूनी है।

निगम में कांग्रेस दल की नेता नाजिया दानिश ने आरोप लगाया कि हमें जानबूझकर नहीं बोलने दिया गया और महापौर शैली ओबेरॉय तानाशाही कर रही है। उन्होंने कहा कि चुने हुए पार्षदों को न बोलने देना लोकतंत्र की हत्या है, जिसे कांग्रेस सहन नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि पार्षदों को दिल्ली की जनता के हक में आवाज उठाने अधिकार है, जिसका इस्तेमाल हम करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि दिल्ली नगर निगम में भ्रष्टाचार पूरी तरह व्याप्त है जिसकी कोई जवाबदेही नहीं है। निगम प्रभारी जितेन्द्र कुमार कोचर ने कहा कि दिल्ली गैस का चैंबर बन गई है, यहां सांस लेना भी दूभर हो गया है। दिल्ली में चिकनगुनिया, डेंगू व मलेरिया से जो मौते हो रही है उनके आंकड़े सार्वजनिक किए जाए। दम घोट देने वाला प्रदूषण दिल्ली में है, इस भयंकर प्रदूषण से राजधानी लगातार मौतें हो रही है, इसका जिम्मेदार कौन है। दिल्ली सरकार और दिल्ली नगर निगम दमघोटू प्रदूषण की रोकथाम के लिए क्या कर रही है, जबकि पंजाब में पराली जलाने का सिलसिला लगातार जारी है, जिससे दिल्ली प्रभावित हो रही है। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments