Tuesday, June 18, 2024
Homeताजा खबरेंपालम 360 खाप की अगुवाई में ग्रामीणों ने पीरा गढ़ी गांव में...

पालम 360 खाप की अगुवाई में ग्रामीणों ने पीरा गढ़ी गांव में की महापंचायत

ग्रामीणों की मांगे पूरी नहीं किए जाने पर एलजी और सीएम आवास का किया जाएगा घेराव : सोलंकी

  • महापंचायत में विभिन्न दलों सहित बड़ी संख्या में खापों के प्रधान और ग्रामीण हुए शामिल

नई दिल्ली, 4 सितंबर 2023

अपनी मांगों को लेकर पालम 360 खाप की अगुवाई में ग्रामीणों ने रविवार को पीरा गढ़ी गांव में महापंचायत की। पालम 360 खाप के प्रधान चौधरी सुरेंद्र सोलंकी ने महापंचायत की अध्यक्षता करते हुए कहा कि 16 सितंबर तक उनकी सात मांगे नहीं मानी गई तो हातालों को देखते हुए ग्रामीण उपराज्यपाल और मुख्यमंत्री आवास का घेराव करेंगे। इस मौके पर ग्रामीणों ने एक स्वर में निर्णय लिया कि वह हाउस टैक्स जमा नहीं करेंगे। पालम 360 खाप की ये सात मांगे हैं जिसमें शामिल है दिल्ली के गांवों में धारा 81 एवं धारा 33 समाप्त हो एवं धारा 81 के तहत पुराने मुकदमे वापस हो, गांवों में हाउस टैक्स माफ हो, दिल्ली सरकार द्वारा ग्रामसभा की जमीन को डीडीए के सुपुर्द करना दुर्भाग्यपूर्ण है जिसे गांव वाले डीडीए को नहीं देंगे और ग्रामसभा की जमीन पर गांव का हक है, धारा 74/4 और 20 सूत्री के तहत सरकार द्वारा गरीबों को आवंटित भूमि एवं प्लॉटो को मालिकाना हक मिलना चाहिए, सरकार को गांवों में लाल डोरे का विस्तार करना चाहिए, जिन गांवों में भूमि अधिग्रहण की गई है उन सम्पत्ति मालिकों को वैकल्पिक प्लॉट जल्द से जल्द दिए जाए जोकि सरकार की स्कीम के तहत है और कृषि भूमि संबंधी म्यूटेशन में दाखिल खारिज की सुविधा शुरू की जाए। इन्हीं सात मांगों को लेकर पालम 360 खाप की अगुवाई में ग्रामीणों ने रविवार को पीरा गढ़ी गांव में महापंचायत की।चौधरी सुरेंद्र सोलंकी ने कहा कि महापंचायत में आए सभी दलों के नेताओं को चेतावनी दी कि जो नेता ग्रामीणों का साथ नहीं देगा वह उन्हें चुनाव में सबक सिखाने का कार्य करेंगे, जबकि जो नेता उनकी मदद करेंगे वह उनका हर कदम पर साथ देंगे। प्रधान सोलंकी ने बताया कि महापंचायत में भाजपा के कई बड़े नेता, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के नेताओं के साथ-साथ बड़ी संख्या में खापों के प्रधान और ग्रामीण शामिल हुए।

  • ग्रामीण विरोधी कानूनों को वापस कराने का कार्य करेंगे
    महापंचायत की अध्यक्षता करते हुए चौधरी सुरेंद्र सोलंकी ने कहा कि आजादी के बाद से ही ग्रामीणों के साथ अन्याय होना शुरू हो गया था और यह सिलसिला लगातार जारी है, मगर अब ग्रामीण अपने साथ हो रहे अन्याय और अत्याचार को सहन नहीं करेंगे। वह उन सभी नियम और कानून को वापस कराने का कार्य करेंगे जो ग्रामीण विरोधी है। इसके अलावा वह अपना हक प्राप्त करने के लिए भी पूरी ताकत लगाएंगे।
  • ग्रामीण हाउस टैक्स जमा ना कराए, माफ कराएंगे : भाजपा
  • महापंचायत में प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा, दिल्ली विधानसभा में नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी, सांसद प्रवेश वर्मा व हंसराज हंस, विधायक राघवेंद्र शौकीन, पूर्व विधायक विजय लोचाव व मनोज शौकीन, पूर्व महापौर मास्टर आजाद सिंह, बवाना बावनी के प्रधान चौधरी दारा सिंह, लाडो सराय 96 के प्रधान चौधरी नरेश, आदि ने भी महापंचायत में विचार व्यक्त किए। इस दौरान सभी नेताओं ने ग्रामीणों की मांग का समर्थन करते हुए उन्हें पूरा कराने का आश्वासन दिया। खास तौर पर भाजपा सांसद प्रवेश साहिब सिंह, हंसराज हंस आदि नेताओं ने कहा कि ग्रामीण हाउस टैक्स जमा ना कराए, वह उनका हाउस टैक्स माफ कराएंगे। इसके अलावा वह उनकी अन्य समस्याएं दूर करने की भी पहल करेंगे।
  • भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने की एक संघर्ष समिति की घोषणा
    दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सचदेवा ने महापंचायत को संबोधित कर अपना समर्थन देने की बात कहीं और दिल्ली के गांव किसान की हाउस टैक्स, म्यूटेशन एवं विकास, जल अभाव को लेकर भाजपा की ओर से एक संघर्ष समिति की घोषणा की जिसकी अध्यक्षता निगम पार्षद दल के उपनेता जय भगवान यादव करेंगे और प्रदेश महामंत्री कमलजीत सहरावत, किसान मोर्चा अध्यक्ष एवं सभी देहात से चुने पार्षद एवं कुछ अन्य नेता उसके सदस्य होंगे। दिल्ली के किसानों की लैंडपूलिंग से जुड़ी समस्याओं पर चर्चा के लिए अध्यक्ष सचदेवा ने पंचायत प्रतिनिधिमंडल को इसी सप्ताह बैठक के लिए आमंत्रित किया और कहा कि बैठक में बनी सर्वसम्मति के आधार पर हम उपराज्यपाल, डी.डी.ए. एवं केन्द्र सरकार से नीतिगत संसाधनों की मांग करेंगे।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments