Homeअंतराष्ट्रीयदेश भर में घर-घर जाकर लोंगों के आँक्सीजन लेवल की जांच करें...

देश भर में घर-घर जाकर लोंगों के आँक्सीजन लेवल की जांच करें वालेंटियर्स : केजरीवाल

  • जिससे कोरोना से होने वाली मौतों को कम किया जा सके – अरविंद केजरीवाल’
  • आम आदमी पार्टी देश के हर गांव व शहर के बूथों पर ‘आम आदमी पार्टी आँक्सीजन जांच केंद्र’ बनाकर लोगों के आँक्सीजन स्तर की जांच करेगी
  • जहां पार्टी का संगठन नहीं है उस गांव में एक व्यक्ति तलाशना होगा, जो अपने गांव में आँक्सीजन जांच केंद्र बनाएगा और उसे आँक्सी मित्र कहा जाएगा
  • पदाधिकारियों का यह बहाना नहीं चलेगा कि उनकी गांव में जान पहचान नहीं है, उन्हें हर गांव में जाकर टीम तैयार करनी होगी
  • देश के सभी प्रदेश संयोजक और पदाधिकारियों को अगले दो दिन के अंदर अपने राज्य का प्लान बना कर भेजने की अपील

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी के मुखिया व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हर गांव व शहर के बूथों पर ‘आम आदमी पार्टी आँक्सीजन जांच केंद्र’ बनाने के लिए देश के सभी प्रदेश संयोजक और पदाधिकारियों के साथ आँनलाइन बैठक की। इस दौरान दिल्ली के प्रदेश संयोजक गोपाल राय समेत देश के विभिन्न प्रदेशों के पदाधिकारी मौजूद थे। राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी के वालेंटियर्स देश भर में घर-घर जाकर लोगों के आँक्सीजन लेवल की जांच करें, जिससे कोरोना से होने वाली मौतों को कम किया जा सके। इसके लिए पार्टी देश के सभी गांव और शहर के बूथ पर आम आदमी पार्टी आक्सीजन केंद्र स्थापित करेगी। उन्होंने कहा कि जहां पार्टी का संगठन नहीं है, वहां पदाधिकारियों को गांव में एक-एक व्यक्ति तलाशना है, जो अपने गांव में आँक्सीजन जांच केंद्र बनाएगा और उसे आँक्सी मित्र कहा जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि पदाधिकारियों का यह बहाना नहीं चलेगा कि उनकी गांव में जान पहचान नहीं है। उन्हें व्यक्ति रूप से हर गांव में जाकर बात करनी होगी और टीम तैयार करनी होगी। राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने देश के सभी प्रदेश संयोजक और पदाधिकारियों को अगले दो दिन के अंदर अपने राज्य का प्लान बना कर भेजने की अपील की है।

  • हर गांव और बूथ के अंदर पार्टी के आँक्सीजन जांच केंद्र चलने से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जान बचा सकेंगे – अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कई राज्यों के अंदर कोरोना की जांच रिपोर्ट आने में समय लग जाता है। ऐसे मामलों में हम लोग तुरंत आॅक्सीजन की जांच करके देख सकते हैं कि उसमें आॅक्सीजन का स्तर कम है, तो उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाने की व्यवस्था करनी चाहिए। समान्य तौर पर एक व्यक्ति में आॅक्सीजन का स्तर 95 होना चाहिए। इस तरह से हम अधिकतर इलाकों में, ज्यादा से ज्यादा लोगों की जान बचाने में कामयाब हो पाएंगे। इसकी मदद से देश के हर गांव में आम आदमी पार्टी का एक संगठन तैयार होगा। देश के हर गांव और बूथ के अंदर आम आदमी पार्टी की यह गतिविधि चलती है, तो लोगों में एक अच्छा संदेश जाएगा कि एक ऐसी पार्टी है, जो लोगों की सेवा करती है और लोगों के सुख-दुख में काम आती है। इस प्रक्रिया के जरिए हम देश के कोने-कोने आम आदमी पार्टी का संगठन खड़ा कर सकते हैं।

  • यह सेवा का काम है, आँक्सी मित्र खोजने में ज्यादा दिक्कत नहीं होनी चाहिए- अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल पार्टी के सभी प्रदेश संयोजकों और पदाधिकारियों का अंकुश नारंग से परिचय कराते हुए कहा कि अंकुश नारंग जी मेरे कार्यालय के जरिए पूरे देश भर में आॅक्सीजन जांच केंद्र के अभियान का संचालन करेंगे। उन्होंने बताया कि हर गांव के अंदर और शहरों में हर बूथ पर हमें एक-एक ऐसे व्यक्ति को खोजना है, जिसे हम आॅक्सी मित्र बोलेंगे। आॅक्सी मित्र आम आदमी पार्टी की तरफ से अपने गांव में आॅक्सीजन जांच केंद्र खोलने के लिए तैयार होगा। कई गांव ऐसे होंगे, जहां आप सभी लोगों की जान पहचान होगी, जहां आम आदमी पार्टी के वालेंटियर्स होंगे, वहां पर आपको आॅक्सी मित्र तलाशने में कोई दिक्कत नहीं आएगी। लेकिन कई गांव ऐसे भी होंगे, जहां आपकी कोई जान पहचान नहीं होगी, वहां आम आदमी पार्टी का कोई कार्यकर्ता नहीं होगा। ऐसे में, वहां जिलाध्यक्ष और विधानसभा के जो पदाधिकारी होंगे, उन्हें व्यक्तिगत रूप से एक-एक गांव में जाना पड़ेगा। अगर कोई कहता है कि वहां हमारा कोई नहीं है, तो यह बहाना नहीं सुना जाएगा। पदाधिकारियों को एक-एक गांव में जाना पड़ेगा और लोगों से बात करनी पड़ेगी। यह ऐसा सेवा का काम है कि आप लोगों को आॅक्सी मित्र खोजने में ज्यादा दिक्कत नहीं होनी चाहिए।

  • आँक्सी मित्र अपने घर पर ‘आम आदमी पार्टी आँक्सीजन जांच केंद्र’ का बोर्ड लगाएंगे- अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आॅक्सी मित्र अपने घर के उपर एक बोर्ड लगाएगा। उस बोर्ड पर ‘आम आदमी पार्टी आॅक्सीजन जांच केंद्र’ लिखा होगा। आॅक्सी मित्र अपने दो-चार दोस्तों को मिला कर एक टीम बनाएगा और अपनी एरिया में आॅक्सी मीटर लेकर घर-घर जाएंगे। साथ ही हैंड सैनिटाइजर भी साथ लेकर जाएंगे। मास्क और आम आदमी पार्टी की टोपी पहन कर जाएंगे। वो हर दरवाजे पर जाकर बोलेंगे कि हम आम आदमी पार्टी से आएं हैं। चारों तरफ देश में कोरोना फैला हुआ है। कोरोना में आक्सीजन कम हो जाती है और कई बार लोगों को यह भी पता नहीं चल पाता है कि उसे कोरोना है भी या नहीं है। आॅक्सी मित्र उनसे कहेगा कि हम आपके घर के सभी सदस्यों की आॅक्सीजन की जांच करना चाहते हैं। साथ ही, आप उन्हें बताइए कि किस तरह आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिल्ली में अच्छा काम किया है और इस आॅक्सीमीटर को घर-घर दिया है। इस वजह से दिल्ली में अच्छा काम हुआ है। चूंकि आपके राज्य में कोरोना बहुत फैला हुआ है, इसलिए आम आदमी पार्टी ने यह वीणा उठाया है कि अब हम कोशिश करेंगे कि कम से कम मौतें होनी चाहिए। सबसे पहले उस व्यक्ति के हाथ को सैनिटाइजर से साफ कर दीजिए। उसका हाथ साफ हो जाएगा, तो आॅक्सीमीटर में जब वह उंगली देगा, तो आॅक्सीमीटर खराब नहीं होगा। फिर आॅक्सीमीटर से उसकी आॅक्सीजन जांच कर लीजिए। आॅक्सीमीटर से जांच करने के बाद एक बार फिर उसका हाथ सैनिटाइजर से साफ कर दीजिए।

  • वाट्सएप ग्रुप बना कर कोरोना से संबंधित जानकारी भेंजें, ताकि लोग कोरोना के प्रति सचेत रहें- अरविंद केजरीवाल

राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बताया कि यदि उसका आॅक्सीजन स्तर 95 से उपर है, तो बता दीजिए कि वो ठीक है। लेकिन यदि उसका आॅक्सीजन 95 से नीचे आती है, तो उनको कहिए कि आपको अस्पताल में जाकर आॅक्सीजन ले लेनी चाहिए और आप एंबुलेंस बुलाकर उनको अस्पताल पहुंचाने में मदद कीजिए। आप अपने पास ब्यौरा रखिए कि करीब में अस्पताल कहां मिल सकता है और एंबुलेंस कहा मिल सकती है। जांच करने के बाद उनका और उनके घर के सदस्यों का फोन नंबर भी लीजिए। एक रजिस्टर में उनका नाम और नंबरों को दर्ज कीजिए। इसके बाद आप उस गांव का एक वाट्सएप ग्रुप बनाएंगे और वाट्सएप ग्रुप पर केवल कोरोना से संबंधित जानकारी भेजी जाएगी। ताकि गांव या बूथ के ज्यादातर लोग कोरोना के बारे में सचेत रह सकें। आप सभी को कहिए कि उस ग्रुप में कोई और मैसेज न भेजे जाएं। हम लोगों ने एक पंपलेट्स भी बनाया है, उसे भी उन्हें दीजिए। इस तरह से पूरे गांव का एक चक्कर लगाना है। इसके बाद भी यदि किसी को जरूरत हो, तो आपके घर आकर अपनी जांच करा सकता है। इसी तरह से कुछ पोस्टर बनाए गए हैं, वह पोस्टर पूरे गांव में लगाए जा सकते हैं। उस पोस्टर व पंपलेट्स पर आँक्सी मित्र का फोन नंबर दिया जाएगा, ताकि भविष्य में किसी को जरूरत पड़ती है, तो आपके फोन नंबर पर संपर्क कर सकता है।

  • वालेंटियर्स को कहीं भी सड़क पर कैंप नहीं लगाना है

सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि वालेंटियर्स को कहीं भी सड़क पर कैंप नहीं लगाना है। कई राज्यों के अंदर कोरोना के चलते इस पर पाबंदी है। कई तरह की अनुमति लेनी पड़ती है। कुछ इलाकों में सभी लोग कवर नहीं हो पाते हैं। इसलिए हमें घर-घर जाना है। उन्होंने अपील करते हुए कहा है कि परसों शाम तक अपने राज्य का एक प्लान बना कर दीजिए कि कितने दिनों में कितने गांव कवर करेंगे और किस तरह से करेंगे। कितने गांव तुरंत शुरू कर सकते हैं और उसके 10 दिन बाद कितने गांवों में शुरू कर सकते हैं। हमें अधिक से अधिक गांवों को कवर करना है। उन्होंने दोबारा स्पष्ट किया कि कई ऐसे बूथ और गांव होंगे, जहां पर आम आदमी पार्टी का कोई कार्यकर्ता नहीं होगा। ऐसे में यह बहाना नहीं चलेगा कि हमारा वहां पर कोई जान पहचान नहीं है। पदाधिकारियों को वहां पर जाना होगा और लोगों से बात करके टीम तैयार करनी होगी। मैं उम्मीद करता हूं कि आप पूरी सिद्दत के साथ इस कार्य में लगेगे। दिल्ली के प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने देश के सभी पदाधिकारियों का धन्यवाद किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 5 =

Must Read