Homeअंतराष्ट्रीयभाजपा ने गुजरात में 27 सालों से सत्ता में रहते हुए मात्र...

भाजपा ने गुजरात में 27 सालों से सत्ता में रहते हुए मात्र 73 स्कूलों को किया ठीक : सिसोदिया

– इस रफ़्तार से सभी 40,800 सरकारी स्कूलों को ठीक करने में भाजपा को लगेंगे 15,000 साल- अरविंद केजरीवाल जी ने दिल्ली के सभी सरकारी स्कूल मात्र 5 साल मे शानदार बनाकर दिखाए है, गुजरात की जनता अब स्कूल ठीक कराने के लिए नहीं करेगी 15000 साल का इंतजार- सीआर पाटिल के बयान पर बोले मनीष सिसोदिया, मुझे पाटिल जी का आमंत्रण स्वीकार,हम इनके स्कूल देखने जरूर आएँगे और सबसे पहले गुजरात के शिक्षामंत्री की विधानसभा के स्कूल देखने चलेंगे – मुझे उम्मीद सीआर पाटिल गुजरात के सरकारी स्कूल दिखाने के अपने आमंत्रण से पलटेंगे नहीं, जल्द ही अपने शिक्षा मंत्री के इलाके के स्कूल दिखाने की तारीख बतायेंगे -गुजरात की जनता को नहीं स्वीकार भाजपा का घटिया फार्मूला, उनका मानना अरविंद केजरीवाल जी ने मात्र 5 सालों में शानदार बनाए दिल्ली के सरकारी स्कूल तो वे 5 सालो में गुजरात के सरकारी स्कूलों को भी बना सकते है शानदार- गुजरात के सरकारी स्कूल भी हो शानदार इसलिए केवल ‘आम आदमी पार्टी’ पर यकीन कर रही है गुजरात की जनता- मनीष सिसोदिया ने मीडिया के सामने रखी अपने विजिट के दौरान देखे गुजरात के सरकारी स्कूलों की बदहाल तस्वीर, दिखाया कैसे गुजरात में हर जगह सरकारी स्कूलों का हाल बदहाल

नई दिल्ली, 06 अक्टूबर 2022 : “भाजपा ने 27 सालों से गुजरात की सत्ता में रहते हुए वहां मात्र 73 सरकारी स्कूलों को ठीक किया है| इस रफ़्तार से भाजपा को गुजरात के सभी 40,800 सरकारी स्कूलों को ठीक करने में 15,000 साल का समय लग जाएगा|” आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व दिल्ली के उपमुख्यमंत्री ने गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान ये बाते कहीं| उन्होंने कहा कि गुजरात के लोगों को भाजपा का स्कूलों का ठीक करने का यह घटिया फार्मूला स्वीकार नहीं है| गुजरात के लोग यह जानते है कि अरविंद केजरीवाल जी ने मात्र 5 सालों में दिल्ली के सरकारी स्कूलों को शानदार बना दिए है और वे गुजरात के स्कूलों को भी 5 सालों में शानदार बना सकते है| गुजरात की जनता भी अब 5 सालों में ही अपने स्कूलों को ठीक करवाना चाहती है उन्हें 27 सालों में 73 स्कूल ठीक करवाने का भाजपा का मॉडल स्वीकार नहीं है|

बता दे कि सीआर पाटिल ने अपने बयान में कहा है कि भाजपा सरकार ने 73 सरकारी स्कूल अच्छे बनाए है और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व शिक्षामंत्री मनीष सिसोदिया को गुजरात के सरकारी स्कूलों को देखने का निमंत्रण भी दिया है| सिसोदिया ने इन निमंत्रण को स्वीकार किया है और कहां है कि वे सबसे गुजरात के शिक्षा मंत्री जीतूभाई बघानी के विधानसभा क्षेत्र से ही गुजरात के सरकारी स्कूलों को देखने की शुरुआत करेंगे| उन्होंने कहा कि, मुझे उम्मीद है कि सीआर पाटिल गुजरात के सरकारी स्कूल दिखाने के अपने आमंत्रण से पलटेंगे नहीं और जल्द ही अपने शिक्षा मंत्री के इलाके के स्कूल दिखाने की तारीख बतायेंगे| साथ ही सिसोदिया ने सीआर पाटिल को केजरीवाल सरकार के स्कूलों को देखने के लिए भी आमंत्रित किया है|

भाजपा शासित गुजरात का वहां के सरकारी स्कूलों के प्रति उदासीन रवैये को उजागर करते हुए श्री सिसोदिया ने कहा कि, आज सीआर पाटिल ने बयान दिया है कि गुजरात के सूरत शहर में भाजपा सरकार ने 73 प्राइमरी स्कूलों को स्मार्ट बोर्ड लगाकर ठीक किया है”| उन्होंने कहा कि यह बेहद दुःख की बात है कि भाजपा पिछले 27 सालों में गुजरात के केवल 73 स्कूलों को ही ठीक करवा सकी| मनीष सिसोदिया ने कहा कि भाजपा ने 27 सालों में मात्र 73 स्कूलों को ठीक किया है| इस रफ़्तार से भाजपा को गुजरात के सभी 40,800 स्कूलों को ठीक करने में 15,000 साल लग जाएंगे| स्कूलों को ठीक करने का भाजपा का यह फार्मूला बेहद घटिया है और गुजरात के किसी भी काम का नहीं है| अपने स्कूलों को ठीक करवाने के लिए गुजरात की जनता 15,000 सालों का इंतज़ार नहीं करेगी|

सिसोदिया ने कहा कि आज गुजरात की जनता अरविंद केजरीवाल जी और आम आदमी पार्टी पर भरोसा कर रही है कि यदि अरविंद केजरीवाल जी मात्र 5 सालों में दिल्ली के स्कूलों को ठीक करते हुए उन्हें वर्ल्ड-क्लास बना सकते है तो उनके पास फार्मूला है कि वे गुजरात के सरकारी स्कूलों को भी मात्र 5 सालों में ठीक कर उन्हें शानदार बना सकते है| उन्होंने कहा कि गुजरात की जनता भी अब 5 सालों में ही अपने स्कूलों को ठीक करवाना चाहती है उन्हें 27 सालों में 73 स्कूल ठीक करवाने का भाजपा का मॉडल स्वीकार नहीं है|

उन्होंने साझा किया कि गुजरात में चुनाव आने वाले है और जब मैं और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी गुजरात में जहाँ-जहाँ जाते है तो वहां के लोग दिखाते है कि गुजरात की सत्ता में रहते हुए भाजपा ने पिछले 27 सालों में स्कूलों को ठीक करने के लिए कोई काम नहीं किया| यही कारण है कि गुजरात के सरकारी स्कूलों का हाल बदहाल है| सिसोदिया ने पिछले महीने के अपने गुजरात दौरे के दौरान विजिट किए गुजरात के सरकारी स्कूलों की बदहाल तस्वीर को भी मीडिया के सामने रखा| उन्होंने दिखाया कि कैसे गुजरात विजिट के दौरान वे जहाँ भी गए वहां के सरकारी स्कूल खस्ताहाल ही दिखे|

गुजरात के सरकारी स्कूल देखने के गुजरात भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल के निमंत्रण को स्वीकार करते हुए सिसोदिया ने कहा कि मै सीआर पाटिल जी के आमंत्रण को स्वीकार करता हूँ और गुजरात के सरकारी स्कूल देखने जरुर आऊंगा| उन्होंने कहा कि गुजरात के सरकारी स्कूलों के अपने दौरे की शुरुआत मैं वहां के शिक्षा मंत्री जीतूभाई बघानी के विधानसभा क्षेत्र से करना चाहूँगा| साथ ही उन्होंने सीआर पाटिल को केजरीवाल सरकार के स्कूलों को देखने का निमंत्रण भी दिया है कि सीआर पाटिल दिल्ली आए और यहां आकर हमारे स्कूलों को भी जरुर देखे| उन्होंने कहा कि मुझे यकीन है कि सीआर पाटिल अब अपने बयान से नहीं पलटेंगे और मुझे गुजरात के सरकारी स्कूल जरुर दिखायेंगे|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 + 9 =

Must Read