Monday, April 22, 2024
Homeताजा खबरेंभाजपा दिल्ली के सांसद, विधायक और पार्षदों का आप मुख्यालय के बाहर...

भाजपा दिल्ली के सांसद, विधायक और पार्षदों का आप मुख्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन

– आम आदमी पार्टी द्वारा महापौर चुनाव में बाधा डालने को लेकर 

नई दिल्ली, 7 फरवरी 2023 : दिल्ली भाजपा के नवनिर्वाचित नगर निगम पार्षदों ने आज आम आदमी पार्टी के द्वारा लगातार नगर निगम की पीठासीन अधिकारी के निर्देशों के की महापौर, उप महापौर एवं स्थाई समिति चुनाव बाधित करने के विरोध में रोष प्रदर्शन किया। प्रदर्शन का नेतृत्व भाजपा के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने किया और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी, सांसद रमेश बिधूड़ी एवं प्रवेश साहिब सिंह, विधायक अनिल वाजपेयी आदि ने सम्बोधित किया और प्रदर्शन का संचालन प्रदेश महामंत्री हर्ष मल्होत्रा ने किया। निगम चुनाव में भाजपा की महापौर प्रत्याशी रेखा गुप्ता, उप महापौर प्रत्याशी कमल बागड़ी एवं स्थाई समिति प्रत्याशी कमलजीत सहरावत, गजेन्द्र दराल एवं पंकज लूथरा सहित सभी नवनिर्वाचित पार्षद, जिलाध्यक्ष एवं प्रमुख कार्यकर्ता प्रदर्शन में सम्मिलित हुए।

इस अवसर पर प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा कि महापौर के चुनाव के समय आम आदमी पार्टी गुंडागर्दी पर उतर चुकी है और संवैधानिक मर्यादाओं को तार तार करने का काम आप के गुंडे सदन के अंदर कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पीठासीन अधिकारी का माइक छीनने, मेज पर चढ़कर हंगामा करना और भाजपा महिला पार्षदों को मारने के बाद आप के गुंडे कहते हैं कि सदन में चुनाव नहीं हो पा रहा है। सचदेवा ने केजरीवाल को चेतावनी देते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी को गुंडागर्दी छोड़नी होगी क्योंकि भाजपा दिल्ली को बर्बाद होते और नहीं देख सकती। भाजपा दिल्ली को उसके महापौर के लिए संघर्ष जारी रखेगी।

नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने कहा कि अरविंद केजरीवाल के इशारे पर उनके पार्टी के पार्षद जब भी महापौर के चुनाव के लिए निगम के सदन में एकत्रित हो रहे हैं तब ही वे हंगामा कर देते हैं। यहां तक भाजपा महिला पार्षदों के साथ मारपीट और गाली गलौज भी करते हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता को गुमराह करने की आदत केजरीवाल की पुरानी हो चुकी है और अब जनता समझ चुकी है कि आखिर दिल्ली को बर्बाद करने के लिए केजरीवाल कौन-कौन सी करवटें ले रहे हैं।  रमेश बिधूड़ी ने कहा कि पहले केजरीवाल यह कहकर दिल्ली की जनता को गुमराह करते रहे कि दिल्ली के उपराज्यपाल हमें काम नहीं करने देते और अब उन्हें इस बात का भी डर है कि कही महापौर का चुनाव हो गया तो उनके बराबर का अधिकारी बन जाएगा और साथ ही केजरीवाल ने चुनाव के वक्त जिन निगम प्रत्याशियों को पैसा लेकर टिकट दिए वे अब वोट देने के बदले पैसे वापस मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि महापौर और उपमहापौर के चुनाव के वक्त आम आदमी पार्टी की ओर से दो-दो लोगों ने अपना नामांकन भरा था इसलिए केजरीवाल को पार्टी के अंदर ही फूट का डर सता रहा है।

सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने कहा कि हम सब का प्रयास है कि दिल्ली को एक नया महापौर मिले लेकिन दुर्भाग्य की बात है कि आम आदमी पार्टी को ज्यादा सीटें मिलने के बाद भी अभी तक महापौर नहीं मिला। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी उन दो विधायकों संजय झा और अखिलेश पति त्रिपाठी से वोट करवाना चाहती थी जिन्हें कोर्ट ने छह महीने की सजा सुनाई।  दिल्ली के टैक्स के पैसों को बर्बाद करना और कानून व्यवस्था में  की पहचान बन चुकी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments