Homeताजा खबरेंदिल्ली कांग्रेस 24 दिसंबर, 2022 को राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के...

दिल्ली कांग्रेस 24 दिसंबर, 2022 को राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के स्वागत और मेजबानी के लिए पूरी तरह तैयार है : चौ0 अनिल कुमार

नई दिल्ली, 14 दिसम्बर, 2022 – दिल्ली में भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों को लेकर आज दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार और अ0भा0क0कमेटी के दिल्ली प्रभारी शक्तिसिन्ह गोहिल के नेतृत्व में पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष, पूर्व सांसद, अ0भा0क0कमेटी के दिल्ली से पदाधिकारी, जिला अध्यक्ष, पूर्व विधायक, निगम पार्षद, पूर्व निगम पार्षद, ब्लाक अध्यक्ष, अग्रिम संगठनों के अध्यक्ष, सेल एवं विभागों के चेयरमैन सहित जिला कॉआर्डिनेटर की वर्गीकृत बैठकें प्रदेश कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन और 15 गुरुद्वारा रकाब गंज रोड़ स्थित कार्यालय में आयोजित की गई।  

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि 24 दिसम्बर, 2022 को भारत जोड़ो यात्रा हरियाणा से दिल्ली में प्रवेश करेगी जहां बदरपुर बॉर्डर से यात्रा का स्वागत किया जाऐगा। दिल्ली का कांग्रेस कार्यकर्ता भारत जोड़ो यात्रा की मेजबानी करने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने कहा कि 24 दिसम्बर को प्रात 6 बजे से हमारे नेता राहुल गांधी दिल्ली में भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत करेंगे। उन्होंने कहा कि 7 दिनो के विश्राम के बाद भारत जोड़ो यात्रा 3 जनवरी 2023 को उत्तर प्रदेश जाने से पहले दिल्ली से प्रस्थान करेगी। दिल्ली में भारत जोड़ो यात्रा 45 किलोमीटर की दूरी तय करेगी।

चौ0 अनिल कुमार ने बताया प्रदेश कांग्रेस ने दिल्ली राज्य से संबधित भारत जोड़ो यात्रा की सभी तैयारियां पूरी कर ली है। भारत जोड़ो यात्रा में दिल्ली का प्रत्येक कांग्रेस कार्यकर्ता हिस्सा लेगा। जिला, ब्लाक, बूथ स्तर तक के कार्यकर्ताओं में यात्रा में शामिल होने के लिए भारी उत्साह है। भारत जोड़ो यात्रा तीन प्रमुख समस्याओं पर केन्द्रित है। इनमें पहली आर्थिक असमानताएं हैं, दूसरी सामाजिक भेदभाव है और तीसरी राजनीतिक तौर पर ज़रूरत से अधिक केंद्रीकरण हैं। इन तीन प्रमुख समस्याओं के खिलाफ सभी भारतीयों को एकजुट करने के लिए यह यात्रा निकाली जा रही है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि श्री राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा देश भर में लोगों को एकजुट कर रहे हैं क्योंकि भाजपा की विभाजनकारी राजनीति ने सांप्रदायिक और जातिवादी आधार पर देशवासियों को बांटने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि अब तक की यात्रा के दौरान राहुल जी को लोगों से मिल रहा जबरदस्त समर्थन इस बात का प्रमाण है कि लोग शांति और सांप्रदायिक सौहार्द के साथ रहना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि श्री राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा चुनौतीपूर्ण और ऐतिहासिक है जिसको देश में उत्पन्न सामाजिक असंतुलन के खिलाफ लोगों को जागरुक करने और निचले स्तर के नागरिक को उसके अधिकार दिलाने के लिए राहुल गांधी देश भर में निकाल रहे हैं।

शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि श्री राहुल गांधी की 155-दिवसीय, 3500 किलोमीटर की भारत जोड़ो यात्रा में अब तक प्रतिदिन औसतन 25 से 30 किलोमीटर चल रही है, जो एक विश्व रिकॉर्ड बनाएगी, जो एक ऐतिहासिक उपलब्धि होगी, क्योंकि इससे पहले किसी और ने कभी प्रयास नहीं किया है। उन्होंने कहा कि देश भाजपा और उसके सहयोगी दलों के वोट बैंक की राजनीति से परेशान हो चुका है क्योंकि उनका एकमात्र एजेंडा चुनावी राजनीति में फायदा उठाने के लिए लोगों को बांटना है, जबकि राहुल जी की भारत जोड़ो यात्रा टूटे हौसलों को सुधार कर लोगों के गिरते मनोबल को उपर उठाना है। लोकतांत्रिक मूल्यों के दमन और विपक्ष के कारण की आवाज को कुचलने वाले सत्ता में बैठे लोगों के खिलाफ राहुल गांधी जी भारत जोड़ो यात्रा के द्वारा देश की समस्याओं को देश के सामने उठाने का काम कर रहे है।

शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि कांग्रेस का इतिहास रहा है कि श्रीमती सोनिया गांधी के नेतृत्व में लड़ने का, जिनकी अगुवाई में कांग्रेस ने जबरदस्त वापसी की थी और यूपीए सरकार 10 साल तक केंद्र में सत्ता रही। उन्होंने कहा कि क समय था जब कांग्रेस की 19 राज्यों में सत्ता में थी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने कई चुनाव जीते और आगे चुनाव जीतेगी, हमे निराश होकर अपनी शक्ति नही खोनी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लिए सत्ता लोगों की सेवा करने का एक साधन है और पार्टी सत्ता में रहकर या बाहर रहते हुए हमेशा अपना संतुलन बनाकर रखती है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की सत्ता में वापसी करके एक बार फिर बता दिया है कि लोगों को भाजपा में विश्वास नही है। हिमाचल प्रदेश की तरह आने वाले समय में सुशासन, विकास और प्रगति के लिए लोगों कांग्रेस की ओर देखना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − 1 =

Must Read