Homeअंतराष्ट्रीयदिल्ली सरकार को मंकीपॉक्स से निपटने में अत्यधिक सावधानी बरतनी चाहिए ताकि...

दिल्ली सरकार को मंकीपॉक्स से निपटने में अत्यधिक सावधानी बरतनी चाहिए ताकि कोविड -19 महामारी के दौर को न दोहराया जाए : चौ. अनिल कुमार

नई दिल्ली, 24 जुलाई, 2022–दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ. अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली मे मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आना चिन्ता का विषय है क्योंकि पिछली बार कोरोना माहामारी में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता को आश्वासन दिया था कि घबराने की काई बात नहीं है कोरोना महामारी एक चुट्की के समान है और उन्होंने यह बात तब कही थी जब कोरोना महामारी फैल रही थी और दिल्ली की जनता इस भयंकर महामारी की मार से अनजान थी और उसके बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के झूठे आश्वासनों का खामयाजा दिल्ली की जनता को भुगतने पड़ें।

चौ. अनिल कुमार ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मंकीपॉक्स को वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया है, दिल्ली सरकार को अतिरिक्त सावधानी बरतनी चाहिए ताकि कोविड -19 महामारी के भयंकर दौर को न दोहराया जाए। पिछले कोरोना काल में केजरीवाल सरकार की खराब योजना व देर से प्रतिक्रिया, निष्क्रियता के कारण मेडिकल, ऑक्सीजन और अस्पताल में बिस्तरों की कमी की वजह से दिल्ली में हजारों लोगों की जान चली गई।

चौ. अनिल कुमार ने कहा कि कोविड-19 महामारी अभी भी दिल्ली में बहुत सक्रिय है और डेंगू के मामले हर रोज सामने आ रहे हैं, लेकिन राजधानी में पूर्ण स्वास्थ्य मंत्री नहीं है, जो गंभीर चिंता का विषय है, बावजूद इसके केजरीवाल दिल्ली वालों के स्वास्थ्य के प्रति गंभीर नहीं दिख रहे हैं। चौ. अनिल कुमार ने कहा कि चिंता की बात यह है कि दिल्ली में इस संक्रमित मरीज का यात्रा करने का कोई ब्यौरा नहीं है और ना ही यह पता है कि उस मरीज ने किसी को  संक्रमित किया है या नहीं। उन्होंने कहा कि यह पता लगाना अति आवश्यक है कि क्या उसने अन्य लोगों को संक्रमित किया है या नही? ताकि समय रहते उचित कदम उठाया जा सके।

चौ. अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जेल में हैं, और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, जिन्हें स्वास्थ्य का प्रभार दिया गया है, वें भी कई अन्य विभागों के बोझ से दबे हुए हैं और भ्रष्टाचार में लिप्त है और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जिनके पास कोई भी मंत्रालय नहीं  वें सिर्फ अपने भ्रष्ट नेताओं को बचाने में लगे हुए है उनके पास दिल्ली की जनता के स्वास्थ्य के बारे में चिंता करने का समय ही नहीं है। उन्होंने कहा कि आज दिल्ली स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी पूरी तरह से डगमगाए हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six − 3 =

Must Read