Saturday, June 22, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयकांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से ई.डी. द्वारा नेशनल हैराल्ड मामले में बुलाने...

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से ई.डी. द्वारा नेशनल हैराल्ड मामले में बुलाने के विरोध में प्रदेश कांग्रेस ने किया सत्याग्रह

नई दिल्ली, 22 जुलाई, 2022 – दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के नेतृत्व में आज सभी 14 जिला कांग्रेस कमेटियों में केन्द्र की भाजपा सरकार के इशारे पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी जी से ई.डी. द्वारा नेशनल हेराल्ड मामले में बुलाने के विरोध में सत्याग्रह धरना किए गए व पदयात्रा निकालीं। हमेशा की तरह आज पुलिस की दमनकारी नीति जारी रही और गृहमंत्रालय के इशारे दिल्ली पुलिस ने कई जिलों में भाजपा सरकार के विरोध में प्रदर्शन होने नही दिया गया जबकि कई नेताओं को घरों में ही हाउस अरेस्ट किया गया। प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने पटपड़गंज, महरौली और बदरपुर जिला कांग्रेस कमेटियों में आयोजित सत्याग्रह में मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सम्बोधित किया।

जिला कांग्रेस कमेटियों में आयोजित सत्याग्रह में प्रदेश अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार के अलावा पूर्व सांसद संदीप दीक्षित, रमेश कुमार, दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री डा0 नरेन्द्र नाथ, पूर्व विधायक विजय लोचव, बलराम तंवर, हरी शंकर गुप्ता, जिला अध्यक्ष दिनेश कुमार, गुरचरण सिंह, राजेश चौहान, विशाल मान, विष्णु अग्रवाल, कम्युनिकेशन विभाग के वाईस चेयरमेन परवेज आलम, कमलकांत शर्मा, प्रवक्ता विक्रम लोहिया, धीरज बसौया, दर्शन जाटव, वेदपाल सहित महिला कांग्रेस, युवा कांग्रेस, सेवादल के पदाधिकारी भी मौजूद थे।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा तानाशाही मोदी सरकार की हठधर्मिता और निरंकुशता के चलते ई.डी. और सीबीआई विपक्ष और कांग्रेस के नेताओं पर स्वार्थ और बदले की भावना से की जा रही कार्यवाही से देश का संविधान और लोकतांत्रिक प्रणाली खतरे में पड़ गई है। उन्होंने कहा कि जब ई.डी. के पास कोई सवाल ही नही थे तो कांग्रेस अध्यक्ष को ई.डी. ने बुलाया क्यों? उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस अध्यक्ष सवाल देने के लिए मौजूद थीं तब उन्हें 4 दिन बाद क्यों बुलाया है, क्या अगले पूछताछ में सवाल मोदी सरकार तैयार करेगी? एक बहुत बड़ा प्रश्न जिसे देशवासियों को विचार करना चाहिए।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि हम कांग्रेस अध्यक्ष के समर्थन में सत्याग्रह करने के लिए एकत्रित होते है परंतु दिल्ली पुलिस कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर शिंकजा कसती है, उन्हें अपने नेता के समर्थन अभिव्यक्ति करने अधिकार क्यों नही है। उन्होंने आरोप लगाया कि एक तरफ आर.एस.एस. के कार्यक्रम के लिए दिल्ली पुलिस सुव्यवस्था के लिए काम करती है दूसरी तरफ कांग्रेस कार्यकर्ता जब विरोध करता है तब उन्हें जेल में डालने का आदेश पुलिस को दिया जाता है। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता लोकतंत्र बचाने की बात करते है, सरकार आपकी है संविधान में संशोधन आप करते है लोकतंत्र बचाने के लिए कांग्रेस पर आरोप लगाना भाजपा की दोहरी राजनीति का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकारी तंत्र का इस्तेमाल करके विपक्ष पर आरोप सिद्ध करने की कोशिश कर रही है, जबकि सच को कभी भी दबाया नही जा सकता और न ही डराया जा सकता है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि भाजपा की मोदी सरकार के कार्यकाल में लोकतंत्र की परिभाषा ही बदल गई है। लोगों की अभिव्यक्ति की आजादी ही खत्म हो गई है। भाजपा के इशारे पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी को ई.डी. द्वारा नेशनल हेराल्ड मामले में पूछताछ पर बुलाने की कार्यवाही उनकी छवि को धूमिल करने की साजिश है, जिसे कांग्रेस बर्दाश्त नही करेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके नेताओं पर शिंकजा कसने की इनकी पुरानी कोशिश है जिसे एक साजिश के तहत अंजाम देने में भाजपा को कभी कामयाबी नही मिली है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments