Homeअंतराष्ट्रीयपंजाब पुलिस द्वारा एक बुजुर्ग को मारना और उनके मुंह में कपड़ा...

पंजाब पुलिस द्वारा एक बुजुर्ग को मारना और उनके मुंह में कपड़ा ठूसना बेहद शर्मनाक: आदेश गुप्ता

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के नेतृत्व में पंजाब पुलिस पर बग्गा के अपहरण मामले में दर्ज कराई गई एफआईआर

केजरीवाल भाजपा कार्यकर्ताओं को चाहे जितना डरा लें हम डरने वाले नहीं हैं

बग्गा को गिरफ्तार करने के लिए पंजाब पुलिस पांच बजे ही दिल्ली पहुंच गई थी

नई दिल्ली: पंजाब पुलिस ने आज बिना दिल्ली पुलिस को सूचित किए गैरकानूनी ढ़ंग से जबरन युवा मोर्चा के राष्ट्रीय मंत्री सरदार तजिन्दर पाल सिंह बग्गा के घर में घूस गई। इसके बाद वे उन्हें गिरफ्तार कर चोरों की भांति पंजाब ले जाने लगी। जबकि इन सब के लिए पंजाब पुलिस ने ना ही दिल्ली पुलिस को सूचना दी और ना ही किसी भी कानूनी प्रक्रिया का पालन किया। इस घटना के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता के नेतृत्व में स्थानीय थाना जनकपुरी पहुंचकर पंजाब पुलिस के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई। साथ ही कार्यकर्ताओं ने थाने में केजरीवाल हाय हाय के नारे लगाए। इस मौके पर जम्मू के सह-प्रभारी आशीष सूद, प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष राजीव बब्बर, प्रदेश मीडिया सह-प्रमुख हरिहर रघुवंशी, पूर्व महापौर नरेन्द्र चावला एवं जिला अध्यक्ष सचिन भसीन सहित भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

  • बग्गा के बुजुर्ग पिताजी के साथ मारपीट की और उनके मुंह में ठूस दिए गए कपड़े
    एफआईआर के बाद पत्रकारों से बात करते हुए अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि पंजाब पुलिस ने सरदार तजिन्दर पाल सिंह बग्गा को गिरफ्तार कर रही थी तो उनके पिता ने वीडियो बनाना चाहा जिसके बाद पंजाब पुलिस ने उनके बुजुर्ग पिताजी के साथ मारपीट की और उनके मुंह में कपड़े ठूस दिए गए। उन्होंने कहा कि पंजाब पुलिस इस कदर गुंडागर्दी पर उतर चुकी है कि सुबह पांच बजे ही गिरफ्तार करने पहुंच गई थी। गिरफ्तार कर ले जाने की इतनी जल्दी थी कि बग्गा को उनकी पगड़ी तक नहीं बांधने दी गई।
  • पंजाब पुलिस मिलने के बाद केजरीवाल का बिगड़ चुका है मानसिक संतुलन
    अध्यक्ष गुप्ता ने कहा कि पंजाब पुलिस मिलने के बाद केजरीवाल का मानसिक संतुलन बिगड़ चुका है। केजरीवाल ने एक हथकंडा अपनाया है कि अगर कोई भी सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ आवाज़ उठाएगा तो वे तुरंत एफआईआर करवा देंगे। उन्होंने कहा कि केजरीवाल पंजाब पुलिस के माध्यम से जो गुंडागर्दी कराकर भाजपा कार्यकर्ताओं को डराने की कोशिश कर रहे हैं, उससे भाजपा डरने वाली नहीं है। पुलिस को पहले दिल्ली पुलिस को इस संदर्भ में बताना चाहिए और दिल्ली पुलिस को सब कुछ डिटेल देने के बाद आगे की कार्रवाई दिल्ली पुलिस की सहायता से पंजाब पुलिस को करनी चाहिए थी। ऐसा लगता है कि यह पूरा मामला एक व्यक्तिगत दुश्मनी के रुप में लिया गया है। उन्होंने कहा कि आज बग्गा का दोष सिर्फ इतना ही है कि उन्होंने केजरीवाल के झूठे वायदों की सच्चाई जनता के सामने रखी है। केजरीवाल ने कहा था कि गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी करने वालों को 24 घंटों के अंदर गिरफ्तार कर जेल में बंद करेंगे जो आज तक पूरा नहीं हुआ। यही सवाल बग्गा द्वारा पूछा गया जो व्यक्तिगत दुश्मनी की वजह बन गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × two =

Must Read