Homeअंतराष्ट्रीयकेजरीवाल और सिसोदिया बताएं कि करीबियों को भ्रष्टाचार की रेवड़ियां क्यों बांट...

केजरीवाल और सिसोदिया बताएं कि करीबियों को भ्रष्टाचार की रेवड़ियां क्यों बांट रहे थे : गौरव भाटिया

  • केजरीवाल ने 144 करोड़ जिन कंपनियों के  माफ किए वह उनके ही करीबी करमजीत सिंह लांबा की कंपनी है- केजरीवाल ने नियमों को ताख पर रखकर करीबियों को ठेका देकर किया करोड़ो का भ्रष्टाचार :गौरव भाटिया / केजरीवाल चुनाव में जाते हैं चार्टर प्लेन से और नीचे उतर ऑटो में बैठने का ड्रामा करते हैं- केजरीवाल नौटंकी और दिखावे की राजनीति के सबसे बड़े मास्टर हैं- दिल्ली की जनता भी अब ‘बयानवीर’ केजरीवाल से उम्मीद करना बंद कर दिया है-आदेश गुप्ता

नई दिल्ली, 20 सितम्बर। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा कि नई आबकारी नीति में केजरीवाल के भ्रष्टाचार के करनामें लगातार खुलते जा रहे हैं। एल-7 जोन नंबर 19 का ठेका यूनिवर्सल डिस्ट्रिब्यूटर को दिया गया जिसके पार्टनर्स में से एक पार्टनर करमजीत सिंह लांबा हैं जो केजरीवाल के बेहद खास और नजदीक हैं। केजरीवाल ने सारी नियमों की अनदेखी करके निगम पार्षद रहे करमजीत सिंह लांबा को ठेका दे दिया ताकि काला धन घूमकर उनकी तिजोरी में आ सके।

आज प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता के साथ संयुक्त प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए श्री गौरव भाटिया ने केजरीवाल और सिसोदिया से सवाल पूछा कि आखिर इन करीबियों को भ्रष्टाचार की रेवड़ियां क्यों बांट रहे थे। राजस्व का नुकसान करके 144 करोड़ रुपये माफ करने के मामले पर भी केजरीवाल ने कोई जवाब नहीं दिया। उसी 144 करोड़ में 40 फीसदी यानि 66 करोड़ रुपये यूनिवर्सल डिस्ट्रिब्यूटर का माफ किया है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल जिन लोगों को ईमानदारी का सर्टिफिकेट बांटे वे सभी कट्टर बेईमान साबित हुए और खुद के मंत्रियों एवं विधायकों को स्वातंत्रता सेनानी कहते हैं लेकिन सच्चाई ये है कि वे भ्रष्टाचार की निशानी हैं और कुछ नहीं। प्रेसवार्ता में राष्ट्रीय प्रवक्ता सरदार आर पी सिंह और प्रदेश भाजपा मीडिया रिलेशन विभाग के प्रभारी हरीश खुराना उपस्थित थे।

गौरव भाटिया ने कहा कि भाजपा के किसी भी सवालों का जवाब केजरीवाल ने आज तक नहीं दिया क्योंकि केजरीवाल बिना किसी तथ्य, प्रमाण और मुद्दों की बात करते हैं, लेकिन भाजपा कोई भी बात तथ्यों के साथ रखती है। उन्होंने कहा कि दिल्ली की जनता सब देख रही है कि दिल्ली के राजस्व को लूटने और अपने मित्रों के बीच रेवड़ियां बांटने का काम किसने किया। इसलिए भाजपा के सवालों से बच जरुर सकते हैं लेकिन जनता के न्याय में केजरीवाल को सज़ा जरुर मिलेगी।

आदेश गुप्ता ने कहा कि नौटंकी और दिखावे की राजनीति अगर करनी है तो उसके सबसे बढ़िया प्रमाण केजरीवाल से बेहतर कोई नहीं होगा। चार्टेड प्लेन में चलकर ऑटो में बैठने की नौटंकी और दिखावा सिर्फ केजरीवाल ही कर सकते हैं, लेकिन हकीकत यह है कि अरविंद केजरीवाल भ्रष्टाचार के पर्याय बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने शराब नीति सिर्फ इसलिए ही बनाई थी ताकि करोड़ों रुपये की उगाही कर सके और उन पैसों को आगामी चुनाव में पानी की तरह बहा सके। टैक्स पेयर्स के पैसों का राजनीतिक इस्तेमाल करने के बाद केजरीवाल सिर्फ विक्टिम कार्ड खेलने का काम करते हैं।

आदेश गुप्ता ने कहा कि भाजपा के सवालों से आखिर केजरीवाल कब तक बचते रहेंगे। दिल्ली की जनता को पता चल गया है कि केजरीवाल और भ्रष्टाचार में कोई फर्क नहीं है। इसलिए दिल्ली की जनता भी अब बयानवीर से उम्मीद करना बंद कर दिया है और वे अब केजरीवाल को दिल्ली से साफ करने का मन बना चुकी है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ भाजपा की लड़ाई दिल्ली की जनता से लेकर हर गली-मोहल्ले तक जाएगी जो केजरीवाल को सत्ता से उखाड़ फेकेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × one =

Must Read