Saturday, June 22, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयकेजरीवाल सरकार ने लंपी वायरस रोकथाम के लिए उठाए कड़े कदम :...

केजरीवाल सरकार ने लंपी वायरस रोकथाम के लिए उठाए कड़े कदम : गोपाल राय

– आईसोलेशन वार्ड और हेल्पलाइन नंबर किया जारी – लंपी वायरस को लेकर विकास मंत्री गोपाल राय ने आज पशुपालन विभाग के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की -स्पेशल कंट्रोल रूम बनाने के निर्देश, हेल्पलाइन नंबर 8287848586 जारी किया गया – रेवला खानपुर गौसदन में एक आइसोलेशन वार्ड बनाने का निर्देश – लंपी वायरस से प्रभावित क्षेत्रों में दो मोबाइल पशु चिकित्सा क्लीनिक लगाने के दिये निर्देश – लंपी वायरस से प्रभावित पशुओं को इलाज़ को लेकर 11 रैपिड रिस्पांस टीम का गठन किया गया – किसानों-पशुपालक के बीच जागरूकता अभियान चलाने को लेकर 4 टीम का गठन किया गया : गोपाल राय

नई दिल्ली, 10 सितंबर, 2022 : केजरीवाल सरकार ने लंपी वायरस रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाए हैं। आईसोलेशन वार्ड और हेल्पलाइन नंबर किया जारी किया है। विकास मंत्री गोपाल राय ने कहा कि स्पेशल कंट्रोल रूम बनाने के निर्देश दिए गए हैं। हेल्पलाइन नंबर 8287848586 जारी किया गया है। रेवला खानपुर गौसदन में एक आइसोलेशन वार्ड बनाया जाएगा। लंपी वायरस से प्रभावित क्षेत्रों में दो मोबाइल पशु चिकित्सा क्लीनिक लगाए जाएंगे। लंपी वायरस से प्रभावित पशुओं को इलाज़ को लेकर 11 रैपिड रिस्पांस टीम का गठन किया गया है। किसानों-पशुपालक के बीच जागरूकता अभियान चलाने को लेकर 4 टीम का गठन किया गया है।

लंपी वायरस को लेकर विकास मंत्री गोपाल राय ने आज पशुपालन विभाग के उच्च अधिकारियों  के साथ बैठक  की। बैठक के बाद प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए गोपाल राय ने कहा कि  देश के कई राज्यों में लंपी वायरस पशुओं पर कहर बनकर टूट रहा है। पड़ोसी राज्यों  उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जैसे राज्य में इसके फैलने से दिल्ली में भी संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। अभी तक दिल्ली में 173 लंपी वायरस संक्रमण के मामले सामने आये हैं। इसी को देखते हुए पशुपालन विभाग को निर्देश दिया कि सभी आवश्यक कदम उठाएं।

विकास मंत्री ने लंपी वायरस को लेकर पशुपालन विभाग के अधिकारी को निगरानी बढ़ाने का निर्देश दिये। उन्होंने बताया कि 2 मोबाइल पशु चिकित्सा क्लीनिक को प्रभावित एरिया में लगाने का निर्देश दिये है। पशुओं के इलाज़ को लेकर 11  रैपिड रिस्पांस टीम का गठन किया गया है, जो लगातार प्रभावित एरिया में निगरानी करेगें और पशुओं का इलाज़ करेगी।

विकास मंत्री गोपाल राय ने बताया कि किसानों-पशुपालक के बीच लंपी वायरस को लेकर जागरूकता अभियान चलाने  का निर्देश दिया गया है। डेयरी मालिक तथा किसानों को पम्पलेट के द्वारा जागरूक किया जाएगा। न्यूज़ पेपर में इस सम्बन्ध में पब्लिक नोटिस जारी की जायेगी‌ साथ ही उसके लिए 4 टीम का गठन किया गया है, जो लगातार किसानों /पशुपालक के बीच जागरूकता अभियान चलाएंगे।  गोयला डेयरी एरिया, रेवला खानपुर एरिया,  घुम्मनहेड़ा  एरिया, नजफगढ़ एरिया आदि एरिया में विशेष ध्यान दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि लंपी वायरस को लेकर एक स्पेशल कंट्रोल रूम तुरंत बनाने के निर्देश दिये गये हैं, जिससे लगातार निगरानी की जायेगी। साथ ही इसके लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी 8287848586 जारी किया गया है, जो 24X 7 काम करेगा। संक्रमित पशु के लिए अलग आइसोलेशन वार्ड रेवला खानपुर गौसदन में बनाने के निर्देश दिया गया है। जहां किसी के आने जाने को प्रतिबंध रहेगा। साथ ही वहां लगातार स्प्रे और फोगिंग करने का निर्देश दिया है। साथ ही वहां उपचार के लिए एक स्पेशल डॉक्टर के टीम लगाने के निर्देश दिये गये हैं।

विकास मंत्री ने विभाग को निर्देश दिया कि सभी हॉस्पिटल में इसकी दवा उचित मात्रा में उपलब्ध हो। साथ ही वैक्सीन जल्द से जल्द ऐसे एरिया में लगाने के निर्देश दिए गए ताकि यह रोग न फैले।

  • – लंपी रोग के यह हैं लक्षण

लंपी वायरस के लक्षणों की बात की जाए तो पशुओं को लगातार तेज बुखार आता है। उनकी आंख और नाक बहने लगती है। इसके अलावा शरीर पर चकत्ते होना, स्किन पर चेचक होना, लार निकलना, दूध का कम होना और वजन कम होना इस वायरस के लक्षणों में शमिल हैं। लंपी वायरस मच्छर,मक्खी, जूं द्वारा फैलता है। अभी तक यह एक दूषित गाय के दूसरी गाय के संपर्क में आने से फैल रहा है, चूंकि बड़ी संख्या में दुधारू पशुओं में इसकी पुष्टि हो रही है तो ऐसे में इंसानों को भी यह डर बना हुआ है कि कहीं यह वायरस उनमें भी न फैल जाए। हालांकि एक्सपर्ट्स का कहना है कि मनुष्यों को इससे कोई खतरा नहीं है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments