Homeअंतराष्ट्रीयकेजरीवाल सरकार दिल्ली में तैयार करवा रही 11 नए अस्पताल : सिसोदिया

केजरीवाल सरकार दिल्ली में तैयार करवा रही 11 नए अस्पताल : सिसोदिया

  • – उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पीडब्ल्यूडी व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ निर्माण कार्यों के प्रगति की की समीक्षा बैठक की -हर व्यक्ति तक बेहतरीन सस्वास्थ्य सुविधाएं पहुँचाने के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के विज़न को पूरा करते हुए यह नए अस्पताल दिल्ली के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मिलेगा बूस्ट- उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पीडब्ल्यूडी व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक, क्वालिटी के सभी मानकों का पालन सुनिश्चित करते हुए जल्द निर्माण कार्य पूरा करने के दिए निर्देश – 4 अत्याधुनिक अस्पताल और 6838 आईसीयू बेड्स की क्षमता वाले 7 सेमी-परमानेंट आईसीयू अस्पताल तैयार करा रही केजरीवाल सरकार, सभी अस्पतालों का निर्माण कार्य युद्धस्तर पर जारी – दिल्लीवालों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देना केजरीवाल सरकार का उद्देश्य, केजरीवाल सरकार द्वारा तैयार किए जा रहे अस्पताल नए हेल्थ रिसोर्सेज को बढ़ाने का काम करेंगे – केजरीवाल सरकार लोगों की सेवा में जल्द समर्पित करेगी 12 नए मोहल्ला क्लिनिक, 52 और नए मोहल्ला क्लिनिक जल्द बनकर होंगे तैयार – मोहल्ला क्लिनिकों पर रोजाना 70 हजार से ज्यादा लोग करवा रहे फ्री इलाज, यहां लोगों को 212 प्रकार के टेस्ट, दवाईयों समेत सभी प्राथमिक स्वास्थ्य सुविधाएं नि:शुल्क दी जा रही है : मनीष सिसोदिया

नई दिल्ली, 19 सितंबर, 2022 : दिल्लीवालों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने और पब्लिक हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत बनाने के लिए केजरीवाल सरकार युद्धस्तर पर काम कर रही है। इस दिशा में केजरीवाल सरकार दिल्ली में 11 नए अस्पताल तैयार करवा रही है, जिससे दिल्ली सरकार के अस्पतालों में 10 हजार से ज्यादा बेड्स की बढ़ोतरी होगी। इस बाबत उपमुख्यमंत्री मंत्री मनीष सिसोदिया ने सोमवार को पीडब्ल्यूडी व स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर निर्माण कार्यों के प्रगति की समीक्षा की। साथ ही पीडब्ल्यूडी मंत्री ने सिरसपुर,  ज्वालापुरी,  मादीपुर,  हस्तसाल(विकासपुरी) में बन रहे अस्पतालों के साथ- साथ 6838 आईसीयू बेड्स की क्षमता के साथ बनाए जा रहे 7 नए सेमी-पर्मानेंट अस्पतालों के निर्माण कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। उपमुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि इन सभी निर्माण कार्यों को समय रहते पूरा किया जाए और यहां क्वालिटी के सभी मानकों का पालन सुनिश्चित किया जाए।  उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार का उद्देश्य अपने सभी नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देना है। इस दिशा में दिल्ली में सरकार द्वारा तैयार किए जा रहे नए अस्पताल मील का पत्थर साबित होंगे और हमारे हेल्थ रिसोर्सेज को बढ़ाने का काम करेंगे।

  • हर व्यक्ति तक बेहतरीन सस्वास्थ्य सुविधाएं पहुँचाने के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के विज़न को पूरा करते हुए यह नए अस्पताल दिल्ली के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को मिलेगा बूस्ट

बैठक के दौरान अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली के विभिन्न स्थानों पर बनाए जा रहे ज़्यादातर अस्पतालों का निर्माण कार्य इस साल अंत तक पूरा हो जाएगा। वहीं, कुछ अस्पताल 2023 के मिड तक बनकर तैयार हो जाएंगे। निर्माण कार्य समय पर पूरे हो और सभी अस्पताल जल्द ही जनता को समर्पित हो, इसे सुनिश्चित करने के लिए हर उपमुख्यमंत्री हर 15 दिन में इसके प्रगति की समीक्षा भी कर रहे है। उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने कहा कि इन 11 अस्पतालों में 3237 बेड्स की क्षमता वाले 4 अस्पताल व  6838 आईसीयू बेड्स की क्षमता वाले 7 सेमी-परमानेंट आईसीयू अस्पताल शामिल है। ये कोरोना के साथ-साथ गंभीर मेडिकल कंडीशन वाले केसों से लड़ने में मददगार साबित होंगे। इन  नए अस्पतालों से दिल्ली के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को बूस्ट मिलेगा और लाखों दिल्लीवासी विश्व स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के नेतृत्त्व में दिल्ली सरकार दिल्ली में हर नागरिकों को बेहतर सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार में आने के पहले दिन से ही दिल्ली के हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को विश्वस्तरीय बनाना और दिल्ली के हर नागरिक को शानदार स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाना हमारी प्राथमिकता रही है।

  • – 4 अत्याधुनिक अस्पताल व 7 सेमी-परमानेंट अस्पताल तैयार करा रही केजरीवाल सरकार

बता दें, केजरीवाल सरकार की ओर से सिरसपुर में 1164 बेड्स की क्षमता के साथ 11 मंजिला एक अत्याधुनिक अस्पताल का निर्माण कराया जा रहा है। इस बिल्डिंग में 2 मजिला बेसमेंट भी है। सरकार द्वारा ज्वालापुरी, मादीपुर व हस्तसाल (विकासपुरी) में प्रत्येक में 691 बेड्स की क्षमता वाले 10 मंजिला अस्पताल बना रही है।  ज्वालापुरी व मादीपुर में मार्च 2023 तक ये दोनों अस्पताल बनकर तैयार हो जाएंगे। हस्तसाल में भी अस्पताल बनाने का काम तेजी से चल रहा है और इसका निर्माण कार्य भी 2023 के अंतिम महीनों तक पूरा हो जाएगा।  इन तीनों अस्पतालों में भी 2 मंजिला बेसमेंट भी है। वहीं, कोरोना जैसी महामारियों के साथ-साथ क्रिटिकल मामलों से लड़ने के लिए केजरीवाल सरकार 6838  आईसीयू बेड्स की क्षमता वाले 7 सेमी-परमानेंट अस्पताल तैयार कर रही है। इस प्रोजेक्ट के तहत सरकार शालीमार बाग़ में 1430 बेड्स की क्षमता वाला 4 मंजिला अस्पताल, किराड़ी में 458 बेड्स की क्षमता वाले 5 मंजिला अस्पताल,  सुल्तानपुरी में 527 बेड्स की क्षमता वाले 4 मंजिला अस्पताल,  जीटीबी काम्प्लेक्स में 1912 बेड्स की क्षमता वाले 5 मंजिला अस्पताल, गीता कॉलोनी में चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय में 610 बेड्स की क्षमता वाले 5 मंजिला अस्पताल,  सरिता विहार में 336 बेड्स की क्षमता वाला 5 मंजिला अस्पताल और रघुवीर नगर में 1565 बेड्स की क्षमता वाले 4 मंजिला अस्पताल का निर्माण कर रही है।  अधिकारियों ने बताया कि इन सभी जगहों पर निर्माण कार्य शुरू हो चुका है और जल्द ही ये सभी आईसीयू अस्पताल बनकर तैयार हो जाएंगे।

  • – सरिता विहार में निर्माणाधीन आईसीयू अस्पताल में होंगी तमाम आधुनिक सुविधाएं

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि सरिता विहार में बनाया जा रहा 336 आईसीयू बेड की क्षमता वाले निर्माणाधीन सेमी परमानेंट/टेंपरेरी आईसीयू अस्पताल के पहले फ्लोर पर वेटिंग एरिया, रजिस्ट्रेशन रूम,  इलेक्ट्रिक रूम,  स्टॉफ रूम,  इमरजेंसी रूम, नर्स स्टेशन, फायर कंट्रोल रूम, सीटी स्कैन, एक्सरे,  डायग्नोस्टिक रिसेप्शन, फार्मेसी,  वार्ड एरिया और मोर्चरी होगी। दूसरे तल पर वेटिंग एरिया,  फार्मेसी,  कैफेटेरिया , एएचयू रूम,  वार्ड एरिया, नर्स स्टेशन होगा। तीसरे तल पर स्क्रबिंग चेंजिंग रूम, लॉकर रूम, सैंपल कलेक्शन रूम, रिकॉर्ड रूम, कोल्ड स्टोरेज रूम, लैब, डॉक्टर व स्टॉफ के लिए डाइनिंग एरिया, ब्लक बैंक आदि होगा। वहीं, चौथे तल पर ओटी, एएचयू रूम आदि होगा। इस अस्पताल में मेटल इंसुलेटेड पैनल्स और कांच की दीवारें होंगी। रोगी कॉरिडोर एरिया में आवाजाही एक डबल डोर वेस्टिबुल के जरिए होगी। चिकित्सा देखभाल स्टाफ और गैर तकनीकी कर्मचारियों का प्रवेश और निकास मरीजों के प्रवेश प्वाइंट से अलग होगा। मरीजों और चिकित्सा देखभाल स्टाफ की आवाजाही के लिए अलग कॉरिडोर होगा और आपूर्ति कॉरिडोर भी अलग होगा।

– केजरीवाल सरकार लोगों की सेवा में जल्द समर्पित करेगी 12 नए मोहल्ला क्लिनिक, 52 और नए मोहल्ला क्लिनिक जल्द बनकर होंगे तैयार

बैठक में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मोहल्ला क्लिनिकों के निर्माण कार्यों की प्रगति की भी समीक्षा की। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में 12 नए मोहल्ला क्लिनिक बनकर तैयार है। इन मोहल्ला क्लीनिकों का निर्माण कार्य पूरा चुका है। इसके अलावा 52 मोहल्ला क्लिनिकों का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। इनका निर्माण कार्य पूरा होने के बाद इन्हें जनका की सेवा के लिए समर्पित किया जाएगा। वहीं, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि जल्द से जल्द ही इन क्लीनिकों की शुरुआत की जाए,  ताकि आम जनता यहां स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ उठा सकें।

  • – केजरीवाल सरकार के मोहल्ला क्लीनिकों में रोजाना 70 हजार से ज्यादा लोग करवा रहे हैं इलाज
  • उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली के विभिन्न स्थानों पर केजरीवाल सरकार द्वारा 500 से ज्यादा मोहल्ला क्लीनिक बनाए गए है जहाँ रोजाना 70 हजार लोग इलाज करवाते हैं। यहां लोगों को 212 प्रकार के टेस्ट व सभी बेसिक दवाइयां (125 प्रकार की दवाइयां) सहित सभी प्रकार की प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं नि:शुल्क प्रदान की जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − nine =

Must Read