Homeअंतराष्ट्रीयMCD : निगम विद्यालयों में स्थापित की जायेंगी "रीडिंग कैंपेन वॉल"

MCD : निगम विद्यालयों में स्थापित की जायेंगी “रीडिंग कैंपेन वॉल”

  • – दिल्ली नगर निगम एवं रूम टू रीड के साझा अभियान की थीम “पढ़ना जहां समानता वहां”
  • – निगम विद्यालयों में 1 सितंबर को आयोजित किया जाएगा “रीड-ए-थान” विश्व रिकॉर्ड स्थापित करने का किया जायेगा प्रयास
  • – दिल्ली नगर निगम ने निगम विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्रों में पढ़ने की आदत विकसित करने के लिए “इंडिया गेट्स रीडिंग अभियान” आरंभ किया

दिल्ली नगर निगम के शिक्षा विभाग ने “रूम टू रीड” एनजीओ के साथ मिलकर छात्रों में पढ़ने की आदत विकसित करने के लिए “इंडिया गेट्स रीडिंग” अभियान आरंभ किया है। यह अभियान दिल्ली नगर निगम के सभी 1530 विद्यालयों में 15 अगस्त 2022 से 8 सितंबर 2022तक आयोजित किया जाएगा। दिल्ली नगर निगम द्वारा आयोजित इस अभियान की थीम पढ़ना जहां समानता वहां है। दिल्ली नगर निगम के शिक्षा विभाग के निदेशक विकास त्रिपाठी ने रीड-ए-थान अभियान के बारे में कहा कि समाज के तौर पर आज़ादी के 75 वर्षों के बाद हमारे पढ़ने की क्षमता में तो सुधार आया है किंतु हमारे पढ़ने की आदत में कमी आई है,श्री त्रिपाठी ने किसी विद्वान की बातों को दोहराते हुए कहा कि,”अगर हम पुस्तकें नहीं पढ़ते हैं तो पढ़े-लिखे एवं निरक्षर में कोई भेद नहीं रह जाता है”। उन्होंने कहा कि छात्रों में पढ़ने के कौशल को विकसित करने में मिशन बुनियाद एक मील का पत्थर साबित हुआ है। छात्रों में पढ़ने के कौशल को तराशने के लिए दिल्ली नगर निगम एवं रूम टू रीड ने यह साझा अभियान आरंभ किया है।

पढ़ाई हमारे अंदर समानता लेकर आती है। सफल व्यक्ति जिस परिवेश से निकलकर आगे बढ़ें हैं वो पढ़ाई एवं पढ़ने की आदत के बिना संभव नहीं था। इन्हीं बातों से प्रेरणा लेते हुए दिल्ली नगर निगम ने निगम के सभी विद्यालयों के प्रधानाचार्य, शिक्षक,निगम विद्यालयों के पूर्व छात्र और अभिभावकों द्वारा प्रार्थना सभा में कहानी सुनाने की गतिविधि विद्यालयों में 15 अगस्त से 7 सितंबर 2022 तक आयोजित की जाएगी एवं इसके साथ ही निगम विद्यालयों में रीडिंग कैंपेन वॉल स्थापित की जायेंगी जहां छात्र / माता-पिता / शिक्षक अपने विचार व्यक्त कर सकेंगे तथा इसके साथ ही अपनी कहानियाँ भी लिख सकेंगे,उनके समक्ष अपनी मातृभाषा में भी कहानियाँ लिखने का विकल्प रहेगा। इसके साथ ही निगम विद्यालयों में पढ़ने वाले छात्रों से पढ़ने का संकल्प भी लिया जाएगा।

छात्र अपने अध्यापकों को अपना आदर्श मानते हैं। इसी कड़ी में रूम टू रीड द्वारा रोचक एवं सचित्र पुस्तकें उपलब्ध कराई जाएंगी जो छात्रों को अपनी तरफ खींचेंगी एवं उनमें पढ़ने के प्रति रुचि विकसित करने में मदद करेंगी। अध्यापक भी छात्रों के समक्ष पुस्तकों का पाठन करेंगे,जिससे छात्र भी पुस्तकें पढ़ने के प्रति जागरूक होंगे। सभी निगम विद्यालयों में 1 सितंबर को 11:00 से 11:30 के मध्य रीड ए थान का आयोजन कर विश्व रिकॉर्ड स्थापित करने का प्रयास किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten + seven =

Must Read