Monday, May 13, 2024
Homeताजा खबरेंनानक हेड़ी : दिल्ली सरकार की योजना का हुआ जमकर विरोध, मिली...

नानक हेड़ी : दिल्ली सरकार की योजना का हुआ जमकर विरोध, मिली जीत

  • इसी तरह लड़ाई लड़ने का ग्रामीणों ने किया ऐलान
  • ग्रामीण विरोधी व गांवों को बर्बाद करने वाली योजनाओं का विरोध करने का ऐलान किया
  • ग्रामीणों को मतभेद व स्वार्थ छोड़कर गांवों के विकास के लिए आगे आना होगा: सौलंकी

नई दिल्ली, 16 अक्टूबर 2022: दिल्ली देहात के नानक हेड़ी गांव में बेघर बच्चों के लिए स्कूल बनाने की योजना का विरोध करने के मामले में जीत हासिल होने पर आज ग्रामीणों अन्य मामलों में भी इसी तरह लड़ाई लड़ने का ऐलान किया। ग्राम पंचायत नानक हेड़ी ने दिल्ली देहात ग्रामीण समिति के बैनर तले आज गांव में दिल्ली देहात के 30 गांवों की सरदारी व दिल्ली ग्राम पंचायत संघ, दिल्ली प्रदेश और 360 गांव खाप की सरदारी व अन्य संगठनों का सम्मान किया। इस दौरान 360 खाप के अध्यक्ष सुरेंद्र सोलंकी व सुरेश शौकीन ने भविष्य में भी गांवों की लड़ाई एकजुट होकर लड़ने का ऐलान किया, वहीं दिल्ली ग्राम पंचायत संघ के प्रमुख थान सिंह यादव ने घोषणा की कि संघ के बैनर तले गांवों के अधिकारों की लड़ाई शुरू हो गई है और इस लड़ाई में सभी शिरकत करें।

इस मौके पर संघ के प्रमुख थान सिंह यादव ने कहा कि ग्रामीणों की एकता के कारण दिल्ली सरकार को नानक हेड़ी में बेघर बच्चों के लिए स्कूल बनाने की योजना को वापस लेना पड़ा है। इसी तरह ग्राामीणों को अपने हकों व समस्याओं के लिए एकजुटता का परिचय देने की आवश्यकता है। संघ ने गांवों के हकों व समस्याओं के समाधान के संबंध में 18 सूत्री मांग प्रधानमंत्री से लेकर दिल्ली के मुख्य सचिव तक भेजा गया है। उनको चेतावनी दी कि उनके मांग पत्र पर जल्द कार्रवाई आरंभ नहीं होने पर संघ आंदोलन करेगा। साथ ही कहा कि अब शासन व प्रशासन की गांवों के प्रति अनदेखी व दोयम दर्जे का व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

समारोह में राव सतवीर सिंह ने देहात की एकजुटता पर बधाई दी। वहीं गांव पंचायत नानक हेड़ी के देवेंद्र कुमार व सुरेश कुमार ने विशेष तौर पर सभी का आभार प्रकट किया और हमेशा गांवों की समस्याओं के लिए आवाज बुलंद करने का आग्रह किया। समारोह में 360 खाप के अध्यक्ष चौ. सुरेंद्र सिंह सोलंकी ने कहा कि ग्रामीणों को मतभेद व स्वार्थ छोड़कर गांवों के विकास के लिए आगे आना होगा, तभी सरकार व प्रशासन ग्रामीणों की सुध लेगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments