Tuesday, February 20, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयहमारे बच्चों की शिक्षा मौसम की मार से प्रभावित न हो :...

हमारे बच्चों की शिक्षा मौसम की मार से प्रभावित न हो : आतिशी

– शिक्षा मंत्री आतिशी ने केजरीवाल सरकार के फ्लैगशिप स्कूल- दिल्ली मॉडल वर्चुअल स्कूल का किया दौरा

– NEWS IN BRIEF दिल्ली में स्कूली शिक्षा ख़राब मौसम जैसे गर्मियों के दौरान लू और सर्दियों में कोहरे के कारण अक्सर बाधित होती है; डीएमवीएस से हम दिल्ली के सभी सरकारी स्कूलों को हाइब्रिड बनाएंगे ताकि हमारे बच्चों की शिक्षा मौसम की मार से प्रभावित न हो – डीएमवीएस की सफलता से प्रभावित होकर, शिक्षा मंत्री ने अधिकारियों को डीएमवीएस और फिजिकल स्कूल मॉडल को एक साथ लाकर एक हाइब्रिड लर्निंग प्लान तैयार करने का निर्देश दिया – जो बच्चे स्कूल नहीं पहुंच पाते, दिल्ली सरकार डीएमवीएस के माध्यम से उन तक विश्व स्तरीय शिक्षा पहुंचा रही है – केजरीवाल सरकार द्वारा 2022 में शुरू किया गया, DMVS कक्षा 9 से 12वीं तक छात्रों को देता है वर्चुअल स्कूली शिक्षा; नीट, जेईई और सीईयूटी परीक्षाओं की तैयारियों लिए दिल्ली सरकार के स्कूली छात्रों की मदद करता है – डीएमवीएस शिक्षकों ने शानदार ऑनलाइन लर्निंग मटेरियल तैयार किया है जो बच्चों को घर से ही क्वॉलिटी एजुकेशन पाने में मदद करता है – छात्रों की पढ़ाई संबंधित ज़रूरतों को पूरा करने के लिए शानदार तकनीक से लैस एक अत्याधुनिक स्टूडियो से संचालित की जाती हैं डीएमवीएस की क्लासेज़ – पढ़ाई के साथ-साथ को-करिकुलर गतिविधियों के साथ डीएमवीएस में छात्रों के सर्वांगीण विकास को किया जाता है सुनिश्चित –  छात्रों ने शिक्षा मंत्री से कहा- डीएमवीएस का वर्चुअल लर्निंग मॉडल हमें अपने पैशन को फॉलो करने के साथ-साथ क्वालिटी एजुकेशन पाने का दे रहा मौका – हमारे लिए डीएमवीएस फ़िज़िकल स्कूल से बेहतर, यहाँ इंटरैक्टिव क्लास, मेंटरशिप सेशन, ट्यूटोरियल, असाइनमेंट और एक्टिविटीज हमें मुश्किल से मुश्किल कॉन्सेप्ट को भी आसानी से समझने में कर रही मदद-छात्र – शिक्षा मंत्री आतिशी ने डीएमवीएस की पहली डिजिटल पत्रिका ‘DMVS डायरीज़’ लॉन्च की – डीएमवीएस टेस्ट प्रेप प्लेटफार्म- दिल्ली सरकार के स्कूलों के कक्षा 9-11 के 13,000 से अधिक छात्रों ने आईआईटी-जेईई, नीट और सीयूईटी की तैयारी के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया

20 जनवरी, नई दिल्ली

केजरीवाल सरकार का फ्लैगशिप स्कूल, दिल्ली मॉडल वर्चुअल स्कूल, छात्रों को फिजिकल स्कूल से दूर किसी भी  स्थान से शानदार क्वालिटी एजुकेशन देकर वर्चुअल लर्निंग के क्षेत्र में नए आयाम स्थापित कर रहा है। शिक्षा मंत्री आतिशी ने इस शानदार स्कूल का दौरा किया और इसके वर्ल्ड क्लास स्टूडियो के ज़रिए वर्चुअल तरीक़े से छात्रों से बातचीत की। इस मौके पर शिक्षा मंत्री ने कहा कि, दिल्ली में स्कूली शिक्षा ख़राब मौसम जैसे गर्मियों के दौरान लू और सर्दियों में कोहरे के कारण अक्सर बाधित होती है। लेकिन डीएमवीएस से हम दिल्ली के सभी सरकारी स्कूलों को हाइब्रिड बनाएंगे ताकि हमारे बच्चों की शिक्षा मौसम की मार से प्रभावित न हो। इस बाबत उन्होंने डीएमवीएस की सफलता से प्रभावित होकर, शिक्षा मंत्री ने अधिकारियों को डीएमवीएस और फिजिकल स्कूल मॉडल को एक साथ लाकर एक हाइब्रिड लर्निंग प्लान तैयार करने का निर्देश दिया बता दे कि, केजरीवाल सरकार द्वारा 2022 में शुरू किया गया, DMVS कक्षा 9 से 12वीं तक छात्रों को वर्चुअल स्कूली शिक्षा देता है साथ ही नीट, जेईई और सीईयूटी परीक्षाओं की तैयारियों लिए दिल्ली सरकार के स्कूली छात्रों की मदद भी करता है।

शिक्षा मंत्री आतिशी ने कहा कि, दिल्ली मॉडल वर्चुअल स्कूल के ज़रिए हमारा उद्देश्य केजरीवाल सरकार के वर्ल्ड क्लास दिल्ली एजुकेशन मॉडल को हर बच्चे तक पहुँचाना है। हमारा विजन है कि हम अपने स्कूलों में बच्चों को जैसी क्वालिटी एजुकेशन दे रहे है उसे हर बच्चे तक पहुँचा सके। उन्होंने कहा कि, डीएमवीएस के ज़रिए केजरीवाल सरकार ने वर्चुअल लर्निंग को नई राह दिखाई है कि कैसे किसी स्कूल की चारदीवारी से बाहर होकर भी बच्चों को उनकी सीखने की गति के अनुसार उसी स्तर की शानदार शिक्षा दी  जा सकती है। शिक्षा मंत्री आतिशी ने कहा कि, कई बार बहुत सी वजहों से बच्चे या तो भौतिक रूप से स्कूल नहीं पहुँच पाते या फिर उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा पाने के लिए उन्हें घर से बहुत दूर जाना पड़ता है। इन समस्याओं के निदान के रूप में केजरीवाल सरकार ने दिल्ली मॉडल वर्चुअल स्कूल की शुरुआत की। इसके जरिए हम यह सुनिश्चित कर रहे है कि, अपने पैशन को फॉलो करने के साथ साथ बच्चों को शानदार शिक्षा भी मिल सके। उन्होंने आगे कहा, “डीएमवीएस की वर्चुअल क्लासेज़ बहुत इंटरैक्टिव हैं। यहाँ छात्रों की पढ़ाई संबंधित ज़रूरतों को पूरा करने के लिए शानदार तकनीक से लैस एक अत्याधुनिक स्टूडियो से क्लासेज़ संचालित की जाती हैं। साथ ही डीएमवीएस के हमारे शिक्षकों ने कड़ी मेहनत से विभिन्न विषयों के लिए शानदार ऑनलाइन कंटेंट तैयार किया है। इसके ज़रिए लाखों बच्चों तक क्वालिटी एजुकेशन पहुँचाने में मदद मिलेगी।

शिक्षा मंत्री आतिशी ने लाइव क्लास में छात्रों से बातचीत की और उनका आत्मविश्वास बढ़ाते हुए कहा कि,डीएमवीएस के शानदार मॉडल ने वर्चुअल लर्निंग को नई राह दिखाई है और हमारे मौजूदा बैच के छात्र उस वर्चुअल शिक्षा क्रांति के ध्वजवाहक है। छात्रों के साथ बातचीत के दौरान शिक्षा मंत्री ने छात्रों से डीएमवीएस के साथ उनके अनुभवों के बारे में भी पूछा। छात्रों ने कहा कि उन्हें वर्चुअल स्कूल फिजिकल स्कूल से बेहतर लगता है क्योंकि इससे उन्हें अपनी गति से सीखने में मदद मिलती है। इसके अलावा, शिक्षक पढ़ाने और प्रश्नों को हल करने के लिए नए इनोवेटिव तरीकों का इस्तेमाल करते है, जो आमतौर पर फिजिकल स्कूल में नहीं किया जाता है। एक अन्य छात्र ने साझा किया कि एक्सपीरियंशियल लर्निंग और वास्तविक जीवन के उदाहरणों के माध्यम से सीखना डीएमवीएस के सबसे अच्छा पहलू हैं। लाइव क्लासेज, मेंटरिंग क्लास, ट्यूटोरियल और स्कूल द्वारा दिए जाने वाले असाइनमेंट ने उन्हें कॉन्सेप्ट को बेहतर ढंग से समझने में मदद की है। शिक्षा मंत्री ने डीएमवीएस की टीम को उन छात्रों के लिए इवनिंग शिफ्ट में क्लासेज़ शुरू करने की व्यवहार्यता का पता लगाने का निर्देश दिया, जिन्हें समय की फ़्लैक्सबिलिटी की ज़रूरत है और वह सुबह किसी अन्य एक्टिविटी में लगे होते हैं।

बता दे कि, डीएमवीएस के ज़रिए केजरीवाल सरकार अपने स्कूलों के बच्चों को नीट,जेईई, सीयूईटी परीक्षाओं की फ्री तैयारी का भी मौका दे रही है। यहाँ प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियों के लिए छात्रों को ज़रूरी स्टडी मटेरियल, नियमित मॉक टेस्ट और ऑनलाइन कोर्स उपलब्ध होगा। इस मौक़े पर शिक्षा मंत्री ने डीएमवीएस की पहली डिजिटल मैगज़ीन भी लॉन्च की और डीएमवीएस और डीओई छात्रों के लिए डीएमवीएस टेस्ट प्रेप प्लेटफ़ार्म की भी समीक्षा की। 

डीओई छात्रों के लिए डीएमवीएस टेस्ट प्रेप प्लेटफार्म क्या है?

-> दिल्ली के सभी सरकारी स्कूलों के 11वीं और 12वीं के छात्रों के लिए जेईई, एनईईटी और सीयूईटी जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए सेल्फ लर्निंग पोर्टल 
-> फ्री रिकॉर्डेड लेशन, पिछले साल के पेपर, लर्निंग मटेरियल तक पहुँच 
-> छात्रों की प्रगति जानने के लिए नियमित मॉक टेस्ट और प्रैक्टिस टेस्ट सीरीज
-> अब तक 13,000+ छात्रों में रजिस्ट्रेशन करवाया

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments