Monday, April 22, 2024
Homeदिल्लीदिल्ली सरकार में ऐसा भ्रष्टाचार कतई बर्दाश्त नहीं : आतिशी

दिल्ली सरकार में ऐसा भ्रष्टाचार कतई बर्दाश्त नहीं : आतिशी

– विभाग संभालते ही एक्शन में विजिलेंस मंत्री आतिशी, सीएम अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर पहले ही दिन मुख्य सचिव को एसडीएम ऑफिसों में चल रहे रिश्वतखोरी और भ्रष्टाचार की जांच करने के दिए आदेश- विजिलेंस मंत्री आतिशी ने एसडीएम ऑफिसों में रिश्वतखोरी की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए मुख्य सचिव को दिया आदेश- एसडीएम ऑफिस में प्रमाण पत्र जारी करने जैसे जरुरी कामों के लिए सरकारी अधिकारी लोगों से रिश्वत की मांग कर रहे हैं, दिल्ली सरकार में ऐसा भ्रष्टाचार कतई बर्दाश्त नहीं : आतिशी – विजिलेंस मंत्री आतिशी का मुख्य सचिव को सख्त निर्देश- वरिष्ट आईएएस-दानिक्स अधिकारियों की टीम गठित कर सप्ताह भर में दिल्ली के सभी एसडीएम ऑफिसों का किया जाए निरीक्षण- दिल्ली सरकार में बतौर चीफ विजिलेंस ऑफिसर कम से कम 5 एसडीएम ऑफिसों का स्वयं निरीक्षण करें मुख्य सचिव,लोगों से मिलकर जाने उनकी समस्याएं – एक सप्ताह के भीतर एसडीएम एसडीएम ऑफिसों में हो रही अनियमितताओं, कामों में होने वाली देरी और भ्रष्टाचार पर एक विस्तृत रिपोर्ट सौंपे मुख्य सचिव- बतौर चीफ विजिलेंस ऑफिसर मुख्य सचिव की जिम्मेदारी की सरकारी दफ्तरों से ख़त्म हो भ्रष्टाचार की समस्या, समस्याओं की पहचान कर उसका तुरंत समाधान निकाले 

14 अगस्त, नई दिल्ली 2023 : विभाग संभालने के तुरंत बाद विजिलेंस मंत्री आतिशी एक्शन में आ चुकी है| और पदभार संभालने के पहले ही दिन उन्होंने एसडीएम ऑफिसों में विभिन्न प्रमाण-पत्र बनाने के नाम पर चल रहे भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी पर लगाम कसने का काम किया है| विजिलेंस मंत्री आतिशी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर एसडीएम ऑफिसों में रिश्वतखोरी की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए मुख्य सचिव को बतौर चीफ विजिलेंस ऑफिस मुख्य सचिव वरिष्ट आईएएस-दानिक्स अधिकारियों की टीम गठित करने और उनके द्वारा सप्ताह भर में दिल्ली के सभी एसडीएम ऑफिसों का निरीक्षण करने के सख्त निर्देश दिए है| साथ ही उन्होंने मुख्य सचिव को स्वयं कम से कम 5 एसडीएम ऑफिसों का निरीक्षण करने और लोगों से मिलकर उनकी समस्याओं को जानने के निर्देश दिए है| साथ ही मुख्य सचिव को निर्देश दिया गया है कि वे एक सप्ताह के भीतर एसडीएम एसडीएम ऑफिसों में हो रही अनियमितताओं, कामों में होने वाली देरी और भ्रष्टाचार पर एक विस्तृत रिपोर्ट सौंपे|

विजिलेंस मंत्री आतिशी ने मुख्य सचिव को दिए अपने आदेश में स्पष्ट किया कि, जन सुनवाई के दौरान उन्हें कई शिकायतें मिली हैं, जहाँ शिकायतकर्ता बताते है कि एसडीएम ऑफिस में कुछ सरकारी अधिकारी राजस्व विभाग द्वारा जारी किए जाने वाले विभिन्न प्रमाणपत्रों के आवेदनों को सुविधाजनक बनाने के बदले में रिश्वत की मांग की जा रही है| उन्होंने कहा कि एसडीएम ऑफिस उन नोडल पॉइंट्स में से एक है, जहाँ लोग आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र आदि जैसे बहुत ही बुनियादी और आवश्यक दस्तावेजों के लिए आते है| इन दफ्तरों में समाज के बेहद वंचित वर्गों के लोग आते है ऐसे ऐसे में ये बेहद चौकाने वाली बात है कि ये ऑफिस भ्रष्टाचार का स्थान बन रहे है|

इस बाबत विजिलेंस मंत्री ने मुख्य सचिव को आदेश देते हुए कहा कि, मुख्य सचिव, चीफ विजिलेंस अधिकारी के रूप में भी काम करते है, इन मामलों का जमीनी स्तर पर निरीक्षण करने के लिए लिए वरिष्ठ आईएएस और दानिक्स अधिकारियों की एक टीम का गठन करें और सुनिश्चित करें कि ये अधिकारी  अगले एक सप्ताह के भीतर सभी एसडीएम ऑफिस का दौरा करें|  साथ ही मुख्य सचिव बतौर चीफ विजिलेंस इन दफ्तरों में कामकाज की जांच करने और भ्रष्टाचार की किसी भी गुंजाइश को पता लगाने के लिए खुद कम से कम 5 एसडीएम ऑफिस का दौरा करें|

बता दे कि केंद्रीय सतर्कता आयोग द्वारा जारी विजिलेंस मैनुअल, 2021 में चीफ विजिलेंस ऑफिसर के प्रमुख कामों में से एक यह भी है कि वे उन नियमित रूप से इन दफ्तरों के कामकाज की प्रक्रिया की जाँच करें और जहां भी भ्रष्टाचार की गुंजाईश है उसका पता लगाए| ताकि उसपर जरुरी एक्शन लिया जा सके|विजिलेंस मंत्री आतिशी ने मुख्य सचिव को ये आदेश भी दिया कि, मुख्य सचिव बतौर मुख्य सतर्कता अधिकारी एक सप्ताह के भीतर एसडीएम कार्यालयों में पाई गई अनियमितताओं, कामों में होने वाली देरी और भ्रष्टाचार पर एक विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत करें और बताएं कि इन पर कैसे अंकुश लगाया जा सकता है और कैसे एसडीएम ऑफिस के कामकाज में जरूरी बदलाव किए जा सकते है ताकि यहाँ भ्रष्टाचार की कोई गुंजाइश न रहे|

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments