Tuesday, June 11, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयटाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड ने 24 जुलाई को स्‍पेशल ‘लोक अदालत’ के आयोजन की घोषणा की

टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड ने 24 जुलाई को स्‍पेशल ‘लोक अदालत’ के आयोजन की घोषणा की


नई दिल्ली, 21 जुलाई, 2022 : लोक अदालत का आयोजन ज़िला बिजली कार्यालय, मंगोलपुरी में किया जाएगा· बिजली चोरी और डिस्‍कनेक्‍शन के मामलों के निपटारे का अंतिम अवसर राजधानी में उत्‍तर एवं उत्‍तर पश्चिमी दिल्‍ली की क़रीब 70 लाख की आबादी को बिजली सप्‍लाई करने वाली अग्रणी पावर यूटिलिटी टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड ने दिल्‍ली स्‍टेट लीगल सर्विसेज़ अथॉरिटी (डीएसएलएसए) के सहयोग से, एक स्‍पेशल लोक अदालत लगाने की घोषणा की है। इस लोक अदालत में, ग्राहकों को बिजली चोरी और डिस्‍कनेक्‍शन के मामलों में तत्‍काल राहत दी जाएगी।

इस स्‍पेशल लोक अदालत का आयोजन रविवार, 24 जुलाई 2022 को ज़िला बिजली कार्यालय, मंगोलपुरी किया जाएगा और इस दौरान, कोविड-19 सुरक्षा मानकों का पालन सुनिश्चित किया जाएगा। इस लोक अदालत में ऐसे मामलों पर विचार किया जाएगा जो किसी भी अदालत में पेंडिंग हैं या जिन्‍हें अभी तक किसी अदालत में दाखिल नहीं किया गया है। बिजली चोरी के मामलों के निपटारे के इच्‍छुक ग्राहक व्‍यक्तिगत रूप से या अपने अधिकृत प्रतिनिधि के ज़रिए (अथॉरिटी लैटर के साथ) लोक अदालत में भाग ले सकते हैं।

 

लोक अदालत में भाग लेने के लिए ग्राहकों को 19124 पर कॉल या eac.care@tatapower-ddl.com पर ईमेल भेज कर खुद को पहले से रजिस्‍टर करना होगा। लोक अदालत को सफल बनाने के लिए टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड अपने सभी ग्राहकों को विभिन्‍न चैनलों से इस बारे में सूचित कर रहा है। बिजली चोरी के मामलों का निपटारा करने के इच्‍छुक उपभोक्‍ता इस अवसर का लाभ उठाकर अपने लंबित मामलों का तत्‍काल और संतोषजनक तरीके से निपटारा करवा सकते हैं। ग्राहकों के स्‍तर पर डिफॉल्‍ट होने की स्थिति में, कंपनी विद्युत अधिनियिम, 2003 के प्रावधानों के अनुरूप आवश्‍यक आपराधिक कार्यवाही कर सकती है। उपभोक्‍ता अपने बकाया बिजली बिलों का भुगतान डिमांड ड्रॉफ्ट, चेक, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, ऑनलाइन या कैश से कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments