Saturday, April 13, 2024
Homeताजा खबरेंदिल्ली में पेन्शन को लेकर हाहाकार है, मुख्यमंत्री केजरीवाल फरार है : चौ0 अनिल...

दिल्ली में पेन्शन को लेकर हाहाकार है, मुख्यमंत्री केजरीवाल फरार है : चौ0 अनिल कुमार

पिछले 8 महीनों से बुजुर्गों को पेन्शन नही, 4 वर्षो से कोई नई पेन्शन नही बनी, केजरीवाल चुनावी दौरों में व्यस्त- चौ0 अनिल कुमार

नई दिल्ली, 18 अक्टूबर, 2022 : दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार की प्रशासनिक विफलताओ, निष्क्रियता और विभागीय कुप्रबंधन के कारण दिल्ली में पिछले 4 वर्षों से वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगों की नई पेन्शन बननी बंद पड़ी है, जबकि मौजूदा पेन्शनधारियों को पिछले 8 महीने से केजरीवाल सरकार ने पेन्शन नही दी है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सहित उनकी केबिनेट के बचे-कुचे हुए मंत्री दूसरे राज्यों में चुनावी प्रचार करने के व्यस्त होने के कारण दिल्ली के वरिष्ठ नागरिकों की नई पेन्शन लगने जैसे सामाजिक कल्याण के मुद्दे पर निर्णय अभी तक नही लिया गया।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि केजरीवाल सरकार ने कांग्रेस के समय जितने पेन्शनधारी थे उनकी संख्या में कोई बढ़ोत्तरी नही की, जबकि दिल्ली में जनसंख्या वृद्धि के साथ-साथ वरिष्ठ नागरिक की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा पेन्शन व्यवस्था को सरल बनाने के लिए बुजुर्गों और दिव्यांगों को पेन्शन कार्ड जारी करने के साथ-साथ पेंशन आवेदन प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए एक महीने पूर्व बैठक तो की गई परंतु साढ़े पांच लाख से अधिक मौजूदा पेन्शनधारियों को पेन्शन देने का कोई निर्णय नही लिया, जबकि दिल्ली के बुजुर्ग पेन्शन के लिए पेन्शन दफ्तर के चक्कर लगा रहे है। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार द्वारा दी जाने वाली पेन्शन बुजुर्गों और दिव्यांगों को कई महीनों से नही मिलने के कारण वे आर्थिक तंगी से गुजर रहे है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि बुजुर्गों और दिव्यांगों की पेन्शन सुनिश्चित दिल्ली सरकार का कर्तव्य है, जिसकी पूरी जिम्मेदारी मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की है परंतु वे दिल्ली छोड़ फरार है। उन्होंने कहा कि अरविन्द केजरीवाल दिल्ली छोड़ गुजरात और हिमाचल प्रदेश में झूठे वायदे, घोषणाऐं और दिल्ली के झूठे मॉडल का बखान करके वहां के नागरिकों को गुमराह कर रहे है।

चौ0 अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली के बुजुर्गों और दिव्यांगों को पेन्शन नही मिलने के पीछे दिल्ली और केन्द्र की दोनो सरकारें जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार में डूबी दिल्ली सरकार के भारी बजटीय घाटे के चलते फंड की कमी के कारण बुजुर्गों और दिव्यांगों को पेन्शन नही मिल रही है। उन्होंने कहा कि त्यौहारी सीज़न के समय में दिल्ली सरकार तुरंत प्रभाव से दिल्ली के बुर्जुगों, विधवाओं और दिव्यांगों को तुरंत प्रभाव से पेन्शन रिलीज करे ताकि उनकी आर्थिक तंगी दूर हो क्योंकि बुजुर्ग अपनी दवाई के लिए पूरी तरह पेन्शन पर निर्भर रहते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments