Homeताजा खबरेंBJP के पास दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए कोई मुद्दा नहीं...

BJP के पास दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए कोई मुद्दा नहीं है : AAP

एमसीडी चुनाव के लिए दिल्ली में चल रहा दो तरह का प्रचार, बीजेपी बदनाम करने का प्रचार कर रही और ‘आप’ काम का प्रचार कर रही – भाजपा को मसला सत्येंद्र जैन को मिल रहे ट्रीटमेंट से नहीं, मसला इस बात का है कि 4 दिसंबर को दिल्लीवाले हमेशा के लिए उनका ट्रीटमेंट करने जा रहे हैं – गृह मंत्री अमित शाह एक बार गुजरात की जेल में बंद थे, उन्हें खास जेल और खास सुविधाएं दी गई थीं, सीबीआई ने ऑन रिकॉर्ड दस्तावेज दर्ज किए थे, बीजेपी इसका जिक्र क्यों नहीं करती – आज भाजपा इतनी मुद्दाविहीन हो गई है कि प्लान करके हमारे विधायक गुलाब सिंह पर हमला करवाया – जब दिल्लीवाले भाजपा से 15 सालों के काम का हिसाब मांगते हैं तो वह अरविंद केजरीवाल को गाली देने लगती है – भाजपा का नारा है कि बदनाम किया है बदनाम करेंगे, अरविंद केजरीवाल का नारा है कि काम किया है काम करेंगे – 4 तारीख को जनता फैसला करेगी कि काम करने वालों को वोट देना है या बदनाम करने वालों को वोट देना है: गोपाल राय

नई दिल्ली, 22 नवंबर 2022: दिल्ली नगर निगम चुनावों में भाजपा बदनाम करने का प्रचार कर रही और आम आदमी पार्टी काम का प्रचार कर रही है। अरविंद केजरीवाल का नारा है कि काम किया है काम करेंगे जबकि भाजपा के पास कोई मुद्दा नहीं है। आम आदमी पार्टी दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने मंगलवार को भाजपा को लेकर उक्त बयान जारी कर कहा है कि भाजपा द्वारा ‘आप’ नेता सत्येंद्र जैन पर लगाए जा रहे आरोपों पर और टिकट नहीं मिलने से नाराज कार्यकर्ताओं द्वारा ‘आप’ विधायक गुलाब सिंह को पीटने के मामले पर बात की है। गोपाल राय ने कहा कि भाजपा को मसला सत्येंद्र जैन को मिल रहे ट्रीटमेंट से नहीं, मसला इस बात का है कि 4 दिसंबर को दिल्लीवाले हमेशा के लिए उनका ट्रीटमेंट करने जा रहे हैं। गृह मंत्री अमित शाह एक बार गुजरात की जेल में बंद थे, उन्हें खास जेल और खास सुविधाएं दी गई थीं। सीबीआई ने ऑन रिकॉर्ड दस्तावेज दर्ज किए थे, भाजपा इसका जिक्र क्यों नहीं करती? आज भाजपा इतनी मुद्दाविहीन हो गई है कि प्लान करके हमारे विधायक गुलाब सिंह पर हमला करवाया।

गोपाल राय ने भाजपा द्वारा ‘आप’ मंत्री सत्येंद्र जैन पर लगाए जा रहे आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि दिल्ली में पिछले 10 दिनों से प्रचार अभियान चल रहा है। दिल्ली में दो तरह का प्रचार दिख रहा है, एक काम करने वालों का प्रचार और दूसरा बदनाम करने वालों का प्रचार। पूरी एमसीडी चुनाव प्रचार का केंद्र बिंदु मुद्दों पर सिमट गया है। एक तरफ आम आदमी पार्टी है जो कह रही है कि 4 दिसंबर को झाड़ू की बटन दबाओगे तो हम दिल्ली को कूड़ा मुक्त बनाएंगे, दिल्ली से कूड़े के पहाड़ों को हटाएंगे, भाजपा की समस्या का समाधान करेंगे, दिल्ली में बेसहारा पशुओं की समस्याओं का समाधान करेंगे, दिल्ली में तमाम तरह की समस्याएं जिनका समाधान करना एमसीडी की जिम्मेदारी है, उनका समाधान करेंगे।


  • राय ने आरोप लगाते हुए कहा कि दूसरी तरफ भाजपा का एजेंडा है कि हम 5 साल अरविंद केजरीवाल को बदनाम करेंगे। उनका नारा है, बदनाम किया है बदनाम करेंगे इसलिए हमें वोट दो। अरविंद केजरीवाल का क्या नारा है, काम किया है काम करेंगे इसलिए हमें वोट दो। चाहे सत्येंद्र जैन का मामला हो, मनीष सिसोदिया का मामला हो, किसी और विभाग का मामला हो, जैस्मिन शाह का मामला हो या स्टिंग ऑपरेशन का मामला हो, भाजपा के पास कोई मुद्दा नहीं है।

उन्होंने कहा कि देश के गृह मंत्री अमित शाह जी एक बार गुजरात की जेल में बंद थे। उनके लिए एक खास जेल बनाई गई थी, जिसमें उन्हें खास सुविधाएं दी जा रही थीं। देश के इतिहास में ना तो किसी को ऐसी जेल मिली ना ऐसी सुविधाएं। यह सीबीआई ने ऑन रिकॉर्ड पेपर दर्ज किया हुआ है। भाजपा उसे सामने रख दे कि कैसा ट्रीटमेंट दिया गया था। मसला यह नहीं है कि सत्येंद्र जैन को ट्रीटमेंट मिल रहा है। मसला यह है कि 4 तारीख को भाजपा का दिल्ली की जनता ट्रीटमेंट करने जा रही है। 4 तारीख को जनता फैसला करेगी कि काम करने वालों को वोट देना है या बदनाम करने वालों को वोट देना है।

गोपाल राय ने ‘आप’ विधायक गुलाब सिंह की पिटाई के मामले पर कहा कि लोग लगातार आम आदमी पार्टी से संपर्क कर रहे हैं। लेकिन भाजपा इतनी मुद्दा विहीन है की गुलाब सिंह पर प्लान करके हमला कराया जाता है। कार्यकर्ता आम आदमी पार्टी के कहे जाते हैं लेकिन थाने में पहुंचता है भाजपा का नेता। मुझे ऐसा लग रहा है कि अगली 2 तारीख तक भाजपा इन्हीं सबके माध्यम से चुनाव लड़ना चाहती है। शायद उनको किसी ने गुरु मंत्र दिया है कि केजरीवाल को गाली दोगे तो वोट मिलेगा।

दिल्ली वालों ने काम करने के लिए केजरीवाल को वोट दिया था और केजरीवाल काम करने के लिए वोट मांग रहे हैं। काम चाहिए तो केजरीवाल चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा जवाब से बचने के लिए रोजाना बहाना ढूंढती है कि 15 सालों का उन्हें हिसाब ना देना पड़े। लोग पूछते हैं कि 15 सालों में आपने क्या किया है, वह कहते हैं कि देखो हमने स्टिंग ऑपरेशन किया है। लोग कहते हैं कि पूरी दिल्ली कूड़ा कूड़ा क्यों है, भाजपा कहती है देखो वह टिकट के लिए पैसा मांग रहा था। लोग पूछते हैं कि यह तीन कूड़े के पहाड़ क्यों नहीं हटा पा रहे हैं, भाजपा कहती है कि देखो तिहाड़ जेल में क्या हो रहा है।

तिहाड़ में जो हो रहा है उसको भी देखेंगे, स्टिंग ऑपरेशन भी देखेंगे, सब कुछ देखेंगे लेकिन भाजपा के 15 सालों के कामों का हिसाब भी देखेंगे। भाजपा भाग नहीं पाएगी, जवाब तो देना पड़ेगा। भाग भाजपा भाग का जो नारा चल रहा है। फर्जी स्टिंग और फर्जी छुट्टियों के पीछे जो चेहरा छुपा रहे हो, वह चेहरा छुपने वाला नहीं है। क्योंकि चुनाव अब प्रेस कॉन्फ्रेंस और रोड शो से नीचे जाकर गली में पहुंच चुका है। गलियों में तो जवाब देना पड़ेगा। आज भाजपा का कोई भी उम्मीदवार जवाब नहीं दे पा रहा है। पिछली बार इन्होंने माफी मांगकर काम चला लिया था। उन्होंने कहा कि हमारे सारे पार्षद भ्रष्ट हैं इसलिए सबके टिकट काट रहे हैं, एक मौका और दे दो। अब तो भाजपा के पास वह भी बहाना नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nine + 11 =

Must Read