Homeअंतराष्ट्रीयभाजपा ने सिसोदिया की बर्खास्तगी को लेकर प्लेकार्ड के साथ किया जोरदार...

भाजपा ने सिसोदिया की बर्खास्तगी को लेकर प्लेकार्ड के साथ किया जोरदार विरोध प्रदर्शन

– केजरीवाल दिल्ली की जनता के सवालों से आखिर कब तक बचते रहेंगे: गुप्ता
– आबकारी नीति पर विपक्ष की आवाज को दबाने वाले केजरीवाल की तानाशाही जल्द खत्म होगी: बिधूड़ी

नई दिल्ली, 29 अगस्त 2022 : दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता के नेतृत्व में सोमवार को दिल्ली भाजपा के सभी प्रकोष्ठों द्वारा दिल्ली के 1000 से अधिक चौक-चौराहों पर नई आबकारी नीति में भ्रष्टाचार करने वाले मनीष सिसोदिया को पार्टी से बर्खास्त करने की मांग को लेकर प्लेकार्ड के साथ भाजपा कार्यकर्ताओं ने जोरदार विरोध प्रदर्शन किया। दिल्ली भाजपा पिछले 10 दिनों से सिसोदिया की बर्खास्तगी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रही है, लेकिन खुद के फायदें के लिए केजरीवाल उन्हें अभी भी पार्टी में बनाये हुए हैं। गुप्ता ने आईटीओ चौक पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि भ्रष्टाचार में डूबे होने के बावजूद मनीष सिसोदिया का पार्टी और पद पर बने रहना केजरीवाल के दोगलेपन का प्रमाण है। केजरीवाल की कथनी और करनी में तो अंतर उसी वक्त समझ आ गया था जब पिछले तीन महीनों से भारी भ्रष्टाचार के जुर्म में जेल में बंद सतेंद्र जैन को आजतक पार्टी से बर्खास्त नहीं किया है।

नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने जनपथ चौक, कनॉट प्लेस में पत्रकारों से बातचित करते हुए कहा कि जिस तरह से केजरीवाल और उनकी पूरी टीम पिछले कई दिनों से लगातार आबकारी नीति में हुए भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए विभिन्न झूठ बोल रही हैं। आज स्थिति यह है कि सिर्फ भाजपा ही नहीं बल्कि दिल्ली की जनता भी सवाल पूछ रही है कि शराब नीति में किए गए घोटालों के पैसों का क्या किया। उन्होंने कहा कि शराब माफियाओं के साथ मिलकर दिल्ली के राजस्व को लूटने का काम केजरीवाल सरकार ने किया और जब इस पर विधानसभा में भाजपा विधायकों द्वारा सवाल किया जाता है तो उन्हें विधानसभा में बोलने तक नहीं दिया जाता। इस तरह की तानाशाही का अंत होना जरूरी है।

श्री आदेश गुप्ता ने कहा कि शराब माफियाओं के साथ केजरीवाल का प्रेम ही है कि पहले उन्हें144 करोड़ रुपये माफ करते हैं और फिर 30 करोड़ रुपये वापस कर देते हैं। भाजपा ने पहले जब सवाल किया था आखिर क्या मजबूरी है जो रिहायशी इलाकों में भी ठेके खोले जा रहे हैं, इस सवाल का जवाब अब जाकर मिला कि केजरीवाल के संरक्षण में सिसोदिया ने दिल्ली में दुकानों की संख्या सिर्फ इसलिए बढ़ा दी ताकि जितनी दुकानें होंगी कमीशन उतना ही अधिक मिलेगा। उन्होंने कहा कि आज दिल्ली की जनता के सवालों से बचने की नौबत सिर्फ केजरीवाल के पास इसलिए आई है क्योंकि भ्रष्टाचार करने से पहले उन्होंने यह नहीं सोचा कि इसका खुलासा भी होगा।

आदेश गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल की दिनचर्या हो गई है कि वह प्रतिदिन एक झूठ जनता के सामने परोसते हैं और फिर उसकी पोल खुल जाती है तो उसका जवाब देने से भागते रहते हैं। पिछले आठ सालों में केजरीवाल ने विकास के नाम पर सिवाय झूठ बोलने के क्या किया है, यह दिल्ली की जनता जानना चाहती है। आबकारी नीति पर बड़ी-बड़ी बातें करने वाली केजरीवाल सरकार आज अपनी ही बातों में फंस चुकी है। खुद ही नई आबकारी नीति के नियम बनाये और उसको खुद ही तोड़ने का भी काम किया।

गुप्ता ने कहा कि सिसोदिया खुद विधानसभा में बोल रहे थे कि आबकारी नीति सरकार को फायदा पहुँचाने के लिए लाई गई थी लेकिन इससे राजस्व को नुकसान को गया। जब इस बात पर भाजपा ने जवाब मांगा तो अब कहने लगे हैं कि रिटेलिंग दुकान से पहले 6 करोड़ मिलता था उसे हमने 10 करोड़ कर दिया। दुकान की लाइसेंस फ़ी हमने 6 लाख से 5 करोड़ कर दिया। सिसोदिया यह नही बता रहे हैं जब हर जगह पैसे बढ़ गए तो उन पैसों से राजस्व बढ़ने की बजाय उसे नुकसान कैसे हो गया। इसका साफ मतलब है कि दुकानदारों से पैसे तो लिये गए लेकिन वह पैसे राजस्व में जाने की जगह इन ‘आप’ नेताओ की जेबों में गया है।

विभिन्न चौराहों पर हुए विरोध प्रदर्शन में मुख्य रुप से जम्मू कश्मीर के भाजपा सह-प्रभारी आशीष सूद, प्रदेश महामंत्री हर्ष मल्होत्रा, प्रदेश उपाध्यक्ष राजन तिवारी, अशोक गोयल देवराहा, विरेन्द्र सचदेवा, राजीव बब्बर, बरखा सिंह, सुनील यादव, जयवीर राणा, कर्म सिंह कर्मा, अनुसूचित जनजाति मोर्चे के प्रभारी मोहन लाल गिहारा सहित प्रकोष्ठों के संयोजक सहित प्रदेश, जिला, मंडल के पदाधिकारी और हज़ारों की संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty + 17 =

Must Read