Homeताजा खबरेंकैबिनेट मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने खुद भोजन चख कर, उसकी गुणवत्ता...

कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने खुद भोजन चख कर, उसकी गुणवत्ता को परखा

  • कैबिनेट मंत्री ने दिलशाद गार्डन में बाल और बालिका गृह का किया औचक निरीक्षण
  • कैबिनेट मंत्री ने वहां बच्चों को दिए जाने वाले भोजन को खुद चख कर जांचा
  • दोनों जगह उत्तम सुविधाएं दी जा रही हैं
  • कैबिनेट मंत्री ने बालिका गृह में सैनिटरी नैपकिन किए वितरित

नई दिल्ली : गुरुवार को महिला एवं बाल विकास विभाग के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने दिलशाद गार्डन स्थित बालक और बालिका गृह, संस्कार आश्रम का औचक निरीक्षण किया। वहां उन्होंने बच्चों को दी जाने वाली सुविधाओं को निरीक्षण किया। दोनों गृहों की क्षमता 100 के करीब है। अभी बालिका गृह में 51 बालिकाएं और बाल गृह में 25 के करीब बच्चे रह रहे हैं। इन आश्रय गृहों में 06-18 आयु के बीच के गरीब बच्चों को महिला एवं बाल विकास विभाग रहने, खाने- पीने, कपड़े व अन्य सभी जरूरतें प्रदान करती है।

महिला एवं बाल विकास मंत्री राजेंद्र पाल गौतम ने दोनों गृहों का निरीक्षण किया, जिसमें उन्होंने साफ सफाई, और बच्चों को मिलने वाले भोजन खास तौर पर जांच की। उन्होंने खुद भोजन चख कर, उसकी गुणवत्ता को परखा। दोनों ही जगह की व्यवस्था संतोषजनक पाकर उन्होंने संतोष व्यक्त किया। कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने कहा कि मुझे यह देखकर खुशी हुई कि दोनों ही आश्रय गृह बच्चों को बेहतरीन सुविधाएं दे रहे हैं। बच्चो का अच्छे से ध्यान रखा जा रहा है। देश महामारी से गुजर रहा है, उसमें हमारा ध्यान बच्चों के स्वास्थ्य पर भी होना चाहिए।


पौष्टिक भोजन से ही बच्चों का इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत होगा। साथ ही यहां की साफ सफाई और स्वच्छता को देखकर भी मुझे संतुष्टि मिली। बालिका आश्रय गृह में कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने सैनिटरी नैपकिंस भी वितरित किए। दोनों जगह सरकार के निर्देशों का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है, जिसके तहत बच्चों के लिए आइसोलेशन रूम भी तैयार किए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 + twenty =

Must Read