Homeअंतराष्ट्रीयदिल्ली के उपराज्यपाल ने किया पंजाबी बाग रिंग रोड पर ऑटोमेटेड पजल...

दिल्ली के उपराज्यपाल ने किया पंजाबी बाग रिंग रोड पर ऑटोमेटेड पजल कार पार्किंग का शिलान्यास

  • दिल्ली नगर निगम द्वारा 5000 वर्ग मीटर में बनने जा रही पार्किंग में 225 कार हो सकेंगी पार्क
  • उपराज्यपाल ने पंजाबी बाग स्थित भारत दर्शन पार्क का किया दौरा
  • कचरे से कंचन के अंतर्गत बने इस पार्क को देखकर दिल्ली नगर निगम की प्रशंसा की
  • भारत दर्शन पार्क में 22 ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्मारकों की प्रतिकृतियां बनाई गई हैं

नई दिल्ली, 7 जुलाई 2022: दिल्ली के उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना ने कल दिल्ली नगर निगम द्वारा रिंग रोड, पंजाबी बाग (पंजाबी बाग़ क्लब के सामने) ऑटोमेटेड पजल कार पार्किंग का शिलान्यास किया। इस अवसर पर पश्चिमी दिल्ली से सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा, मुख्य सचिव नरेश कुमार, दिल्ली नगर निगम में विशेष अधिकारी अश्वनी कुमार, निगमायुक्त ज्ञानेश भारती एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

इस नई पार्किंग का निर्माण होने के उपरांत साइट को भीड़-भाड़ और जाम की समस्या से काफी राहत मिलने की उम्मीद है। दिल्ली नगर निगम द्वारा पंजाबी बाग़, रिंग रोड पर 5000 वर्गमीटर में बनाई जा रही ऑटोमेटेड पजल कार पार्किंग में कुल 225 गाडियां खड़ी हो सकेंगी। लगभग 31 करोड़ रुपए में बनने वाली यह पार्किंग एक साल में तैयार हो जायेगी। 14.5 मीटर ऊंचाई वाली इस पार्किंग में भूतल के अतिरिक्त 5 मंजिलें होंगी।

उपराज्यपाल ने कचरे से कंचन की अवधारणा पर निगम द्वारा बनाए गए भारत दर्शन पार्क का भी निरीक्षण किया। यह पार्क दिसंबर 2021 में नागरिकों को समर्पित कर दिया गया था। भारत दर्शन पार्क स्थानीय नागरिकों के साथ-साथ पर्यटकों के लिए भी बड़ी तेजी से एक पसंदीदा मनोरंजक और शैक्षणिक गंतव्य के रूप में उभरा है। भारत दर्शन पार्क भारत की विविधता को दर्शाता है तथा थोड़े ही समय में यह दिल्ली का प्रमुख पर्यटक स्थल बन गया है जहां पर सप्ताह के कार्यदिवसों में प्रतिदिन 3000 एवं सप्ताहांत में प्रतिदिन 10,000 पर्यटक आते हैं।

उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना भारत दर्शन पार्क के निरीक्षण के दौरान स्क्रैप से बने हुए गेटवे ऑफ़ इंडिया, वट वृक्ष, हवा महल, गोल गुम्बद, कुतुबमीनार, नालंदा मीनार, मीनाक्षी मंदिर, चारधाम, रामेश्वरम,जगन्नाथ पुरी, सांची स्तूप, विक्टोरिया मेमोरियल, हम्पी रथ, ताज महल और मैसूर पैलेस आदि की प्रतिकृतियां देखी। निगम के अधिकारियों द्वारा उपराज्यपाल को भारत दर्शन पार्क के बारे में अवगत कराया गया। उन्होंने बताया कि यह पार्क 8.5 एकड़ में फैला है तथा इसे 350 टन स्क्रैप से 22 महीनों में बनाया गया। भारत दर्शन पार्क में 22 ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्मारकों की प्रतिकृतियां बनाई गई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 2 =

Must Read