Tuesday, April 23, 2024
Homeताजा खबरेंडॉक्टर मुश्किल हालातों में दिल्ली के अस्पतालों में काम करने को हैं...

डॉक्टर मुश्किल हालातों में दिल्ली के अस्पतालों में काम करने को हैं मजबूर: भाजपा

  • दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के निर्देश पर हुई बैठक
  • बैठक में दिल्ली भाजपा चिकित्सक प्रकोष्ठ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से की बात
  • दिल्ली सरकार की स्वास्थ्य सेवाओं की डाॅक्टरों ने खोली पोल
  • मरीजों के लिए पर्याप्त संख्या में नहीं हैं बेड
  • मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर जरूरतों के लिहाज से नाकाफी साबित

नई दिल्ली: कोरोना संकट के समय में भी दिल्ली के अस्पतालों की लचर व्यवस्था को लेकर चिंतित दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के निर्देशानुसार दिल्ली भाजपा चिकित्सक प्रकोष्ठ ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक की। इस बैठक में प्रदेश महामंत्री कुलजीत सिंह चहल, राजेश भाटिया, प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ मोनिका पंत, प्रदेश मीडिया सह-प्रभारी नीलकांत बक्शी, मीडिया प्रमुख अशोक गोयल देवराहा, चिकित्सक प्रकोष्ठ के प्रभारी डॉ. वीरेंद्र कुमार रोहिला, सह-प्रभारी डॉ. अनिल गोयल, संयोजक डॉ. वी.के. मोंगा व जिले के प्रमुख चिकित्सकों ने हिस्सा लिया।

चिकित्सक प्रकोष्ठ प्रभारी डॉ. वीरेंद्र कुमार रोहिल्ला ने कहा कि धरती के भगवान कहे जाने वाले डॉक्टर मुश्किल हालातों में दिल्ली के अस्पतालों में काम करने को मजबूर है। कोरोना वायरस से सीधे जंग लड़ रहे कोरोना योद्धाओं को ही सुरक्षा उपकरणों की कमी हो रही है। दिल्ली सरकार का स्वास्थ्य विभाग यहां के अस्पतालों के डॉक्टर्स को नीतिगत तौर पर सुविधा मुहैया नहीं करा पा रहे हैं जिसके कारण लगातार उन्हें संक्रमण का खतरा बना हुआ है। अस्पतालों में न सामान्य बेड खाली हैं और न ही आईसीयू बेड्स में जगह बची है। अस्पताल में की जा रही टेस्टिंग की अवधि भी सामान्य से अधिक है, इस देरी की वजह से शहर में आगे और संक्रमण जारी रहने का खतरा बढ़ जाता है। मेरा दिल्ली सरकार से आग्रह है कि दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए बिना देरी के अस्पतालों में बेड की उचित व्यवस्था की जाए व यह सुनिश्चित करें कि कोरोना वायरस के जांच की रिपोर्ट भी समय अवधि के अंदर ही मिल सके जिससे कि आने वाले नए मरीजों का इलाज समय पर हो और डॉक्टर भी सुरक्षित रहें।

चिकित्सक प्रकोष्ठ सह-प्रभारी डॉ. अनिल गोयल ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर दिल्ली के अस्पतालों में मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर जरूरतों के लिहाज से नाकाफी साबित हो रहा है जिसे जल्द से जल्द व्यवस्थित करने की जरूरत है। संकट की इस घड़ी में दिल्ली के लोगों से मेरी अपील है कि दिल्ली भाजपा की ओर हर जिले के लिए जारी किए गए चिकित्सक हेल्पलाइन नंबर पर कोरोना संक्रमण से बचाव व स्वास्थ्य संबंधी परामर्श के लिए जरूर कॉल करें। दिल्ली के लोगों की सुरक्षा और स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए दिल्ली भाजपा चिकित्सक प्रकोष्ठ के चिकित्सक प्रतिबद्ध हैं और जन सेवा के लिए सदैव तत्पर हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments