Tuesday, May 14, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयदिल्ली नगर निगम में चार जोन में अतिक्रमण के खिलाफ चलाया सघन...

दिल्ली नगर निगम में चार जोन में अतिक्रमण के खिलाफ चलाया सघन अभियान

– बिना नोटिस के सार्वजनिक सड़कों पर अतिक्रमण हटाने के लिए निगम चलाता है ऐसे अभियान

नई दिल्ली, 8 सितम्बर 2022: दिल्ली नगर निगम ने सिविल लाइंस जोन में मुखर्जी नगर, बत्रा सिनेमा, नेहरू विहार, शाहदरा (उत्तरी) जोन में जनता कॉलोनी, सिटी सदर-पहाड़गंज जोन में नया बाजार, पीली कोठी, बिजली रोड, पुल मिठाई क्षेत्र व मध्य जोन में मां आनंद माई मार्ग व आसपास के क्षेत्र में अतिक्रमण के खिलाफ एक सघन अभियान चलाया। यह अतिक्रमण अभियान स्थानीय पुलिस की सहायता से लाइसेंस विभाग, स्वास्थ्य विभाग व मेन्टनेंस डिवीजन ने चलाया।

सिविल लाइंस जोन में मुखर्जी नगर, बत्रा सिनेमा, नेहरू विहार में अतिक्रमण हटाने के अभियान के दौरान 06 अस्थायी संरचनाओं, अस्थायी प्लेटफार्मों के साथ-साथ दुकानों से प्रक्षेपण / विस्तार को हटाया गया और 44 वस्तुओं को भी जब्त किया गया। लगभग 2 किलोमीटर क्षेत्र को दिल्ली नगर निगम द्वारा अतिक्रमण से मुक्त किया गया है। शाहदरा (उत्तरी) क्षेत्र में जनता कालोनी के पीली मिट्टी रोड नंबर 65 के दोनों ओर से एक ट्रक विविध सामग्री और तीन ट्रक निर्माण सामग्री को जब्त कर लगभग 3000 से 3500 वर्ग गज क्षेत्र को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है।

वहीं सिटी सदर-पहाड़गंज क्षेत्र में नया बाजार, पीली कोठी, बिजली रोड और पुल मिठाई क्षेत्र में अतिक्रमण के खिलाफ अभियान में लगभग ढाई किलोमीटर क्षेत्र को निगम अतिक्रमण से मुक्त किया गया है और  224 वस्तुओं को भी जब्त किया गया। जबकि मध्य जोन में मां आनंद माई मार्ग पर एनएसआईसी से लेकर ईएसआई अस्पताल तक अभियान के दौरान 12 सामान और 15 ट्रिपल जब्त किए गए हैं। 250 वर्गमीटर फुटपाथ को अतिक्रमण मुक्त कराया। यह कार्यवाही यातायात सुगम बनाने और पैदल मार्ग से अतिक्रमण हटाने का एक प्रयास है। दिल्ली नगर निगम स्थानीय पुलिस को पूर्व सूचना के साथ एमसीडी अधिनियम, 1957 की धारा 321/322/323/325 के तहत नोटिस/बिना नोटिस के सभी वार्डों/जोनों में सार्वजनिक सड़कों पर नियमित रूप से इस तरह के अतिक्रमण हटाने के अभियान चलाता है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments