Homeदिल्लीएमसीडी ने किया किशनगंज आरयूबी के तीसरे बॉक्स का उद्घाटन

एमसीडी ने किया किशनगंज आरयूबी के तीसरे बॉक्स का उद्घाटन

’किशनगंज आरयूबी: पुरानी दिल्ली के इलाकों को जाम से मिलेगा निजात’

निर्माण में अभी तक 74 करोड़ रूपए की लागत आई है

  • तीसरे बॉक्स के यातायात के लिए खुलने से नागरिक काफ़ी ख़ुश हैं

नई दिल्ली, 4 अक्टूबर 2022 : दिल्ली नगर निगम के विशेष अधिकारी अश्वनी कुमार और आयुक्त ज्ञानेश भारती ने मंगलवार को किशनगंज आरयूबी ( रेलवे अंडर ब्रिज) के तीसरे बॉक्स का उद्घाटन किया। इस अवसर पर पूर्व महापौर जय प्रकाश, क्षेत्रीय उपायुक्त निधि मलिक एवं निगम के वरिष्ठ अधिकारीगण भी उपस्थित रहे। विशेष अधिकारी अश्वनी कुमार ने बताया कि किशनगंज आरयूबी पर रेलवे द्वारा चार बॉक्स का निर्माण किया गया है। निगम द्वारा दो बॉक्स पर आरसीसी रोड का निर्माण कर पहले ही यातायात के लिए खोल दिया था और आज तीसरे बॉक्स पर आरसीसी रोड का निर्माण कार्य पूरा होने पर इसे नागरिकों को समर्पित कर दिया गया है।

  • दिल्ली नगर निगम द्वारा किशनगंज आर.यू.बी के निर्माण में अभी तक 74 करोड़ रूपए की लागत आई है जिसमे से रेलवे को चार बक्सों के निर्माण के लिए लगभग 57 करोड़ की राशि जारी की गई है। इसके साथ ही अंडरब्रिज के निर्माण के लिए रेलवे एवं दिल्ली नगर निगम के मध्य संपत्तियों का हस्तांतरण भी किया गया है जिससे आर यू बी का निर्माण कार्य सुचारू रूप से संपन्न हो सके। विशेष अधिकारी अश्विनी कुमार ने बताया कि दिल्ली के नागरिकों को सर्वश्रेष्ठ नागरिक सेवाएं प्रदान करने के लिए एमसीडी लगातार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि आरयूबी का तीसरा बॉक्स यातायात की आवाजाही को आसान बनाने में मदद करेगा।

  • तीसरे बॉक्स के यातायात के लिए खुलने से नागरिक काफ़ी ख़ुश हैं
    आयुक्त ज्ञानेश भारती ने बताया कि किशनगंज आरयूबी के तीसरे बॉक्स के यातायात के लिए खुलने से नागरिक काफ़ी ख़ुश हैं। उन्होंने बताया कि शेष बॉक्स पर भी आरसीसी रोड का निर्माण कार्य काफ़ी तेज़ी से चल रहा है और इसे भी जल्द नागरिकों को समर्पित कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि तीसरे बॉक्स पर निर्माण कार्य पूरा होने से नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से लेकर इंद्रलोक व गुलाबी बाग, सदर बाजार, ओल्ड रोहतक रोड़ आदि इलाकों का यातायात काफ़ी सुगम हो गया है और नागरिकों को जाम की स्थिति से नहीं जूझना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six − two =

Must Read