Wednesday, February 21, 2024
Homeताजा खबरेंअपनी मांगों को लेकर शिक्षा मंत्री के निवास पर धरना प्रदर्शन करेंगे...

अपनी मांगों को लेकर शिक्षा मंत्री के निवास पर धरना प्रदर्शन करेंगे एमसीडी शिक्षक

  • मांगे पूरी ना होने तक अनिश्चितकालीन धरने में बैठने का निर्णय
  • संबंधित विभागों को धरना प्रदर्शन की सूचना पत्र के माध्यम से दी जा चुकी है
  • 9 अक्टूबर को हमारे सिविक सेंटर के बाहर धरना प्रदर्शन करना पड़ा

नई दिल्ली, 24 अक्टूबर 2023 : दिल्ली नगर निगम के शिक्षकों की मांगे पूरी नहीं हो पा रही है जिसके चलते निगम शिक्षकों ने आगामी 7 नवंबर को अपनी मांगों को लेकर दिल्ली की शिक्षा मंत्री आतिशी के निवास पर धरना प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है। बता दें कि कुछ दिन पहले निगम शिक्षकों ने महापौर को जगाने के लिए सिविक सेंटर पर भी धरना प्रदर्शन किया था। शिक्षक न्याय मंच नगर निगम और सहयोगी शिक्षक संगठन अखिल दिल्ली प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने मंगलवार को उक्त घोषणा करते हुए कहा कि शिक्षा मंत्री और सभी संबंधित विभागों को धरना प्रदर्शन की सूचना पत्र के माध्यम से दी जा चुकी है।
   

संगठनों ने बताया कि 17,478 स्थायी शिक्षक, 1500 अनुबंधित और हजारों सेवानिवृत्त शिक्षकों की विभिन्न महत्वपूर्ण मांगों को हम अगले माह की सात तारीख को सुबह 9 बजे से आपके निवास पर धरने पर बैठकर उठाएंगे। मांगे पूरी ना होने तक अनिश्चितकालीन धरने में बैठेंगे। शिक्षक न्याय मंच नगर निगम के अध्यक्ष कुलदीप खत्री ने बताया कि आपको और निगम प्रशासन द्वारा लगातार निगम शिक्षकों की मांगों को अनदेखा कर शिक्षकों को अपमानित प्रताड़ित करने का कार्य किया जा रहा है जिस कारण मजबूर होकर हम आपके निवास पर अपनी मांगों को लेकर धरना प्रदर्शन करने को मजबूर हैं। दिल्ली नगर निगम के निगम शिक्षकों की अनेकों मांगे हैं जिन्हें लगातार निदेशक शिक्षा द्वारा नजरअंदाज कर मनमानी की जा रही है।

कुलदीप खत्री ने बताया कि अपनी मांगों को लेकर महापौर डॉ. शैली ओबरॉय के पास गए थे उन्होंने सभी अधिकारियों के साथ बैठक निश्चित की जिसमें शिक्षा निदेशक उपस्थित नहीं हुए जबकि वे उस समय अपने कार्यालय में बैठे हुए थे। बैठक का बहिष्कार करने की बजाय हमने फिर भी बैठक और अपनी मांगें रखीं। बैठक हुए काफी समय गुजर गया, लेकिन हमारी मांगों पर कोई कार्यवाही नहीं हुई और उल्टा निदेशक शिक्षा अन्य यूनियन की बैठक बुला कर उनसे मिलते रहे पर हमारी मांगों पर कोई कार्यवाही नहीं हुई।

उन्होंने बताया कि हमने एक माह बैठक मिनट्स के लिए इंतजार किया पर हमें उस बैठक के मिनट्स तक उपलब्ध नहीं करवाए गए जिसके बाद 9 अक्टूबर को हमारे सिविक सेंटर के बाहर धरना प्रदर्शन करना पड़ा इस प्रदर्शन के बाद हुई बैठक में उपमहापौर आले इकबाल, दिल्ली उबक प्रभारी दुर्गेश पाठक, नेता सदन मुकेश गोयल के साथ निगम पार्षद पूठकलां मुकेश कुमार, तथा निगम पार्षद कराला जसबीर माथुर के सामने यह बात हुई थी कि 2, 3 दिन में शिक्षा मंत्री और महापौर के सामने शिक्षा निदेशक और संगठनों को बिठाकर बैठक ली जाएगी पर काफी इंतजार करने के बाद भी कोई नतीजा निकलता ना देख हम अब मजबूरी में न्याय के लिए आपके दरवाजे पर आने को मजबूर हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments