Monday, April 22, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयदिल्ली को इलेक्ट्रिक बसें देने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार :...

दिल्ली को इलेक्ट्रिक बसें देने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार : बिधूड़ी

– जी-20 के मेहमानों के लिए दिल्ली सरकार के पास नहीं थीं बसें  – जिस केजरीवाल के ऊपर दिल्ली की परिवहन व्यवस्था को बेहतर बनाने की जिम्मेदारी थी वह क्रेडिट चोर बन गए- अरविंद केजरीवाल बसों को लेकर 3600 करोड़ रुपए की बात कर रहे हैं जिसमे एक भ्रष्टाचार की बू आ रही है

नई दिल्ली, 5 सितम्बर : दिल्ली विधानसभा में नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी एवं सांसद मनोज तिवारी ने मंगलवार को एक संयुक्त प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिल्लीवासियों के लिए 400 और इलेक्ट्रिक बसें देने के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि दिल्ली को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा उठाया गया यह कदम सराहनीय है और हम इसका स्वागत करते हैं। दिल्ली भाजपा मीडिया प्रमुख प्रवीण शंकर कपूर द्वारा संचालित प्रेसवार्ता में प्रदेश मंत्री हरीश खुराना भी उपस्थित थे। दिल्ली विधानसभा में नेता विपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया है कि
जी-20 शिखर सम्मेलन से ठीक पहले उन्होंने राजधानी को 400 इलेक्ट्रिक बसों की सौगात दी है। दिल्ली को जनता की सुविधा को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने फेम-2 योजना के तहत दिल्ली को ये 400 नई इलेक्ट्रिक बसें उपलब्ध कराई हैं। इससे पहले भी इसी योजना के अंतर्गत दिल्ली को मिली थी 300 इलेक्ट्रिक बसें दी गई हैं। बिधूड़ी ने कहा कि राजधानी में जी-20 सम्मेलन में विदेशी मेहमान आ रहे हैं और उन्हें लाने-ले जाने के लिए बसों की आवश्यकता थी। दिल्ली सरकार की गलत नीतियों के कारण राजधानी में मेहमानों के लिए बसें तक उपलब्ध नहीं हैं।

– पूरी तरह बेकार हो चुका है डीटीसी की बसों का बेड़ा
बिधूड़ी ने कहा कि डीटीसी की बसों का बेड़ा पूरी तरह बेकार हो चुका है। करीब साढ़े तीन हजार खटारा बसें जनता की सुरक्षा को ताक पर रखकर इसलिए दिल्ली की सड़कों पर चल रही हैं कि कोई विकल्प मौजूद नहीं है। दिल्ली सरकार साढ़े आठ सालों में एक भी सीएनजी बस नहीं खरीद पाई जबकि उसने 15 हजार बसें सड़कों पर लाने का वादा किया था। अब जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए केंद्र द्वारा उपलब्ध कराई गई बसें जनता के लिए भारी राहत बनेंगी। 

–  आज दिल्ली पूरी तरह से परेशान है
सांसद मनोज तिवारी ने कहा कि आज दिल्ली पूरी तरह से परेशान है और खासकर परिवहन विभाग लचर स्थिति में है। जिन्होंने दिल्ली को 11 हजार बसें देकर अच्छी परिवहन व्यवस्था देने का वादा किया था आज वह क्रेडिट चोर बन गए हैं। आज दिल्ली को फेम 2 योजना के तहत मोदी सरकार ने 400 इलेक्ट्रिक बसों की सौगात दी है और इससे पहले भी 300 बसें दे चुकी है, लेकिन बेशर्म केजरीवाल सिर्फ अपने आलीशान आवास से निकलकर लोकार्पण करते हैं और फिर बेशर्मी की सारी हदें पार कर एक नया झूठ परोसने की कोशिश करते हैं।

– डीटीसी की बसों की जर्जर स्थिति से आज दिल्ली वाकिफ है
सांसद तिवारी ने कहा कि बसों के ऊपर भारत सरकार भी लिखा होता है लेकिन केजरीवाल जबरन उसको अपना कहने में लगे रहते हैं। जबकि डीटीसी की बसों की जर्जर स्थिति से आज दिल्ली वाकिफ है। उन्होंने कहा कि पिछले 10 सालों में सीएम केजरीवाल क्या कर रहे थे जो आज उन्होंने कहा कि आने वाले समय में 10 हजार बसें वे लेकर आएंगे। जो इलेक्ट्रॉनिक बसें आज दिल्ली में उतरी हैं उनका पैसा एमएचआई द्वारा दिया गया है।

– भाजपा की सरकार होती तो 8000 इलेक्ट्रॉनिक बसें दिल्ली की सड़कों पर चल रही होती
सांसद तिवारी ने कहा कि सीएम केजरीवाल बसों को लेकर 3600 करोड़ रुपए की बात कर रहे हैं जिसमे एक भ्रष्टाचार की बू आ रही है। यह जानकारी दिल्ली की आंखे खोलने वाली है। जहां हमारी सरकार नहीं है वहां भी हमने बसों की सौगात दी है चाहे वह बंगलोर हो, कोलकाता हो या फिर अन्य शहद। मोदी सरकार किसी के साथ भेदभाव नहीं करती। आज दिल्ली में अगर भाजपा की सरकार होती तो 8000 इलेक्ट्रॉनिक बसें दिल्ली की सड़कों पर चल रही होती ना कि अरविंद केजरीवाल की तरह उसके ऊपर भ्रष्टाचार के चार्ज लग रहे होते।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments