Homeअंतराष्ट्रीयआप जितना बड़ा सपना देखेंगे आपके समक्ष उतनी बड़ी चुनौतियाँ आएँगी :...

आप जितना बड़ा सपना देखेंगे आपके समक्ष उतनी बड़ी चुनौतियाँ आएँगी : आयुषी डबास

  • – केजरीवाल सरकार की अनूठी पहल मोटिवेशनल स्पीकर श्रृंखला का छठा सत्र हुआ आयोजितछात्रों ने शिक्षा निदेशक हिमांशु गुप्ता और दिल्ली सरकार के स्कूल से निकले यूपीएसई टॉपर आयुषी डबास व पूजा झा से बातचीत कर यूपीएससी तैयारी के टिप्स लिए – जीबीएसएसएस मुबारकपुर डबास में शिक्षिका के पद पर तैनात थी यूपीएसई 2021 की परीक्षा में 48वीं रैंक पाने वाली आयुषी डबास, वहीं यूपीएसई 2021 की परीक्षा में 82वां रैंक प्राप्त करने वाली पूजा झा ने एसकेवी जनकपुरी व दिल्ली सरकार के राजकीय प्रतिभा विकास विद्यालय, सेक्टर-10 से पूरी की अपनी स्कूली पढ़ाई – सर्वोदय कन्या विद्यालय, नंबर-2 जनकपुरी के लिए ख़ास रहा गुरूवार का दिन, स्कूल में बच्चों ने अपने स्कूल से ही पढ़ाई करके निकली यूपीएसई टॉपर पूजा झा से लिए यूपीएसई परीक्षा के टिप्स – कभी टेबल के तक तरफ स्टूडेंट के रूप में बैठकर आयुषी और पूजा ने यूपीएसई की तैयारियों के लिए बनाई होगी समझ, आज यूपीएसई टॉपर के रूप में बच्चों के साथ कर रही है तैयारियों के अनुभव साझा, इनकी जर्नी से प्रेरणा लेकर कड़ी मेहनत करें स्टूडेंट्स-उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया – आप जितना बड़ा सपना देखेंगे आपके समक्ष उतनी बड़ी चुनौतियाँ आएँगी लेकिन शिक्षा एकमात्र ऐसा टूल जिससे आप हर मुश्किलों से लड़ते हुए अपना जीवन बदल सकते है- आयुषी डबास, यूपीएसई टॉपर / पढ़ाई से ही जिन्दगी बदलेगी इसलिए स्टूडेंट्स पढ़ाई को ही अपनी प्राथमिकता बनाए और जिस दिन बच्चों ने पढ़ाई को अपनी प्राथमिकता बना ली उस दिन से उनकी जिन्दगी में सकारात्मक बदलाव आने शुरू हो जाएंगे- पूजा झा, यूपीएसई टॉपर /
  • स्टूडेंट्स अपने जिन्दगी में आने वाले हर चैलेंज को स्वीकार करें उससे भागे नहीं- पूजा झा, यूपीएसई टॉपर / यूपीएसई टॉपर आयुषी डबास ने बच्चों को सफलता के 3 मूलमंत्र दिए; कम्पटीशन, कारपोरेशन, कॉन्ट्रिब्यूशन- कहा अपनी जिन्दगी को बेहतर बनाने के लिए स्टूडेंट्स हमेशा हेल्थी कम्पटीशन करें तथा सभी को साथ लेकर चले, इससे जिन्दगी में पक्का मिलेगी सफलता- आयुषी डबास, यूपीएसई टॉपर / दिल्ली सरकार के स्कूल की स्टूडेंट व यूपीएसई टॉपर पूजा झा ने कहा, स्कूल ने मुझे लगातार मेहनत करना, फोकस करना और अनुशासन सिखाया इससे यूपीएसई परीक्षा पास करने में मिली मदद / इस कार्यक्रम के माध्यम से दिल्ली सरकार का प्रयास यूपीएसई की तैयारी के मिथ्यों को दूर कर बच्चों में आत्मविश्वास जगाना- हिमांशु गुप्ता, शिक्षा निदेशक

18 अगस्त, नई दिल्ली : दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों के लिए दिल्ली सरकार द्वारा शुरू की गई अनूठी पहल मोटिवेशनल स्पीकर सीरीज में केजरीवाल सरकार यूपीएससी का सपना देखने वाले बच्चों को एक ऐसा मंच प्रदान करती है, जहाँ युवा आई.ए.एस/ आई.पी.एस अधिकारी सीधे संवाद के जरिए बच्चों के साथ पढ़ाई और तैयारी से जुड़े अपने अनुभव शेयर करते है। इससे विद्यार्थियों में इन परीक्षाओं को लेकर समझ पैदा होती है तथा स्टडी प्लान बनाने में मदद मिलती है । इस श्रृंखला के छठे सत्र में गुरुवार को दिल्ली सरकार के स्कूल से निकले यूपीएसई 2021 के टॉपर आयुषी डबास व पूजा झा ने स्टूडेंट के साथ तैयारी संबंधी अपने अनुभव शेयर किए। सर्वोदय कन्या विद्यालय, नंबर-2 जनकपुरी में आयोजित इस कार्यक्रम में विभिन्न विद्यालयों के लगभग 200 बच्चों के साथ प्रत्यक्ष संवाद के अलावा इस कार्यक्रम में हजारों की संख्या में बच्चे यूट्यूब लाइव के माध्यम से भी जुड़े।

बता दे कि आयुषी डबास, दिल्ली सरकार के स्कूल, जीबीएसएसएस मुबारकपुर डबास में बतौर इतिहास की लेक्चरर के पद पर थी और उन्होंने यूपीएसई की 2021 की परीक्षा में 48वीं रैंक प्राप्त की| वही राजकीय प्रतिभा विकास विद्यालय, सेक्टर-10 द्वारा की छात्रा रही पूजा झा ने यूपीएसई की 2021 की परीक्षा में 82वां रैंक प्राप्त किया और भारतीय विदेश सेवा(आईएफएस) के लिए चयनित हुई है| इस मौके पर स्टूडेंट्स से बात करते हुए आयुषी डबास ने कहा कि यूपीएसई की तैयारी के लिए हमेशा आप जोश से भरे होने चाहिए| उन्होंने कहा कि आप जितना बड़ा सपना देखेंगे आपके समक्ष उतनी बड़ी चुनौतियाँ आएँगी लेकिन शिक्षा एकमात्र ऐसा टूल है जिससे आप हर मुश्किलों से लड़ते हुए अपना जीवन बदल सकते है| यूपीएसई टॉपर आयुषी डबास ने बताया कि उन्होंने कई बार फेलिअर का सामना किया और पाँचवी बार में यह परीक्षा पास की लेकिन कभी हार नहीं मानी और हमेशा अपने लक्ष्य को लेकर मोटिवेटड रही|

उन्होंने बताया कि गर्ल चाइल्ड और दृष्टिबाधित होना उनके लिए डबल चैलेंज था लेकिन उनके परिवार ने हमेशा उन्हें सपोर्ट किया| आयुषी डबास ने बच्चों को सफलता का मैसेज देते हुए कहा कि कभी भी स्टूडेंट्स अपने दिमाग में किसी नकारात्मक विचार को न आने दे और हमेशा सकारात्मक रहे| उन्होंने कहा कि कई बार लोग आपको डी-मोटिवेट करने का प्रयास करेंगे लेकिन हमेशा आप उन्हें अपने शब्दों के बजाय अपने काम से जबाव दे| उन्होंने कहा कि स्टूडेंट्स अपने अंदर का डर खत्म करें और गलतियाँ करने से न डरे क्योंकि गलतियाँ सीखने का हिस्सा है बशर्ते उसे दोहराया न जाए|

बच्चों को यूपीएसई की तैयारियों की टिप्स देते हुए उन्होंने कहा कि स्टूडेंट्स हमेशा खुद पर विश्वास रखे, पॉजिटिव रहे तथा पढाई को लेकर अपना टाइम-टेबल तैयार करें साथ ही वो अपनी प्राथमिकताए तय करें कि, किताबों से पढने के साथ-साथ अपने आस-पास के वातावरण से भी सीखे और सबसे अहम् बात हमेशा अपने दिल व दिमाग खुले रखे| उन्होंने बच्चों को सफलता के 3 मूलमंत्र दिए; कम्पटीशन, कारपोरेशन, कॉन्ट्रिब्यूशन| उन्होंने कहा कि अपनी जिन्दगी को बेहतर बनाने के लिए स्टूडेंट्स हमेशा कम्पटीशन करें लेकिन यह कम्पटीशन हेल्थी हो तथा सभी को साथ लेकर चले| इससे जिन्दगी में पक्का सफलता मिलेगी|

यूपीएसई टॉपर पूजा झा ने कहा कि उन्हें वापस उस स्कूल में आकर बेहद अच्छा महसूस हो रहा है जहाँ वो आठवीं तक पढ़ी थी| उन्होंने कहा कि जब वो स्कूल में पढ़ती थी उस दौरान स्कूल में कोई ऑफिसर आते थे तो सोचते थे कि क्या हम भी कभी उधर होंगे और अब ये सपना पूरा हो गया है| उन्होंने कहा कि स्कूल ने मुझे लगातार मेहनत करना, फोकस करना और अनुशासन सिखाया| उन्होंने बच्चों को मोटिवेट करते हुए कहा कि स्टूडेंट्स अपने जिन्दगी में आने वाले हर चैलेंज को स्वीकार करें उससे भागे नहीं| उन्होंने कहा कि पढ़ाई से ही जिन्दगी बदलेगी इसलिए स्टूडेंट्स पढ़ाई को ही अपनी प्राथमिकता बनाए और जिस दिन बच्चों ने पढ़ाई को अपनी प्राथमिकता बना ली उस दिन से उनकी जिन्दगी में सकारात्मक बदलाव आने शुरू हो गए| उन्होंने कहा कि आप अपने स्किल्स को जितना बढ़ाएंगे आपका कॉन्फिडेंस भी उतना ही बढ़ेगा|

बच्चों को तैयारी की टिप्स देते हुए पूजा झा ने कहा कि स्टूडेंट्स अपनी एनसीईआरटी की किताबों को बहुत अच्छे से पढ़े ये तैयारी के लिए बेहद मददगार होता है| साथ ही स्टूडेंट्स कड़ी मेहनत करे और पढ़ाई को लेकर फोकस्ड रहे और खुद पर विश्वास रखे| उन्होंने आगे कहा कि यूपीएसई की तैयारी के लिए गाइडेंस और मेंटरशिप की बहुत ज्यादा ज़रूरत होती है क्योंकि तैयारी के लिए मेंटर आपको दिशा दिखाने का काम करते है|

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी विडियो मैसेज द्वारा बच्चों को संदेश देते हुए कहा कि मैं जब भी स्कूलों में विजिट करने जाता हूँ वहां बहुत से बच्चो का सपना यूपीएसई परीक्षा देकर आईएएस अधिकारी बनने का होता है| बच्चे सोच रहे होते है, ये समझ रहे होते है कि वो इस परीक्षा की तैयारी कैसे करे| उन्होंने कहा कि, दिल्ली सरकार के इस कार्यक्रम के माध्यम से बच्चे यह समझ पाते है कि यूपीएसई परीक्षा पास करने वाले लोगों के सपने कैसे होते है, उनका जीवन कैसा होता है, उनके सोच, आदतें, नजरिया और स्ट्रेटेजी कैसी होनी चाहिए| ऐसे में दिल्ली की टीम एजुकेशन का हिस्सा रही यूपीएसई टॉपर पूजा झा और आयुषी डबास से तैयारियों की टिप्स लेना व समझ बनाना हमारे एजुकेशन सिस्टम व बच्चों के लिए गर्व की बात है| उन्होंने कहा कि आज आयुषी और पूजा स्टेज के एक तरफ बैठी है और आप सभी दूसरे पाले में बैठकर इनके अनुभवों को सुन रहे है, उससे सीख रहे है| लेकिन एक समय वो भी रहा होगा जब यह दोनों स्टूडेंट के रूप में आपके पाले में बैठी होंगी, किसी के अनुभवों को सुन रही होंगी और उसके अनुसार अपनी तैयारी के लिए स्ट्रेटेजी बनाई होगी, यह सीखा होगा कि UPSC की तैयारियों के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं|

सिसोदिया ने अपने संदेश में दोनों यूपीएसई टॉपर को शुभकामनाएं देते हुए उन्हें भविष्य के लिए बधाइयाँ भी दी| इस मौके पर शिक्षा निदेशक हिमांशु गुप्ता ने कहा कि कि तैयारी के दौरान खुद को नेगेटिव विचारों से दूर रखें ऐसे विचार आने पर आत्म विश्लेषण करे और उसके बाद दोबारा तैयारी में लग जाए| उन्होंने कहा कि हमेशा उस क्षेत्र का चयन करें जो आपको पसंद हो फिर पूरी जर्नी आसान लगने लगती है| शिक्षा निदेशक ने कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से दिल्ली सरकार का प्रयास यूपीएसई की तैयारी के मिथ्यों को दूर कर बच्चों में आत्मविश्वास जगाना है। उन्होंने साझा किया कि साझा किया कि दिल्ली सरकार ने भविष्य में इस तरह के और कार्यक्रमों की योजना बनाई है। जिससे दिल्ली के बच्चों को अपने सपनों को पूरा करने की दिशा में मार्गदर्शन प्राप्त होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − 11 =

Must Read