Saturday, June 22, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयराष्ट्रीय अधिवेशन एबीवीपी के वर्तमान कार्यकर्ताओं के लिए जीवनपर्यंत स्मरणीय रहने वाला...

राष्ट्रीय अधिवेशन एबीवीपी के वर्तमान कार्यकर्ताओं के लिए जीवनपर्यंत स्मरणीय रहने वाला है : आंबेकर

– एबीवीपी राष्ट्रीय अधिवेशन के कार्यक्रम स्थल का भूमि पूजन संपन्न हुआ
– एबीवीपी राष्ट्रीय अधिवेशन में देश की विविधता के होंगे दर्शन

नई दिल्ली, 27 अक्टूबर 2023 : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के दिल्ली में 7 से 10 दिसंबर 2023 को आयोजित होने जा रहे राष्ट्रीय अधिवेशन के कार्यक्रम स्थल बुराड़ी स्थित डीडीए ग्राउंड पर भारतीय विधि-विधान के अनुसार भूमि पूजन संपन्न हुआ। भूमि पूजन के दौरान उपस्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर ने एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन की सफलता की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि यहां उपस्थित लोगों का जुड़ाव एबीवीपी से अलग-अलग समय पर रहा है, देश से आत्मीयता एबीवीपी के मूल विचार में है, इसी कारण हम सभी का जुड़ाव एबीवीपी से है। एबीवीपी ने एक संगठन के रूप में अपनी यात्रा के 75 वर्ष पूर्ण किए, इस यात्रा के दौरान देश-समाज के लिए जो महत्वपूर्ण विषय आए, उनपर एबीवीपी ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर ने बताया कि मुझे पूरा विश्वास है कि दिल्ली में आयोजित होने जा रहा राष्ट्रीय अधिवेशन एबीवीपी के वर्तमान कार्यकर्ताओं के लिए जीवनपर्यंत स्मरणीय रहने वाला है। आज देश को अपनी नई पीढ़ी को सही दिशा देने की चिंता है। इस अधिवेशन के माध्यम से एबीवीपी का संकल्प है कि युवाओं को सही दिशा देने का शुभ कार्य आगे बढ़ाया जाए। देश के युवा सही दिशा में आगे बढ़ें इसकी हेतु शुभकामनाएं। समाज का सहभाग युवाओं के इस आयोजन में बढ़ाने के लिए विभिन्न प्रकार के प्रयास करने होंगे।

भूमि पूजन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख सुनील आंबेकर, नेशनल बुक ट्रस्ट के चेयरमैन मिलिंद मराठे, एबीवीपी की अखिल भारतीय छात्रा प्रमुख मनु शर्मा कटारिया, एबीवीपी के राष्ट्रीय सह-संगठन मंत्री प्रफुल्ल आकांत, एबीवीपी की पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी, एबीवीपी दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अभिषेक टंडन व प्रदेश मंत्री हर्ष अत्री, लोकसभा सांसद रमेश बिधूड़ी, बीकानेर वाला के डायरेक्टर व प्रसिद्ध उद्यमी किशन अग्रवाल, एसोचैम के मैनेजिंग कमेटी के सीनियर मेंबर सुभाष सी अग्रवाल, डूसू सचिव अपराजिता, मनजिंदर सिरसा, आशीष सूद,राजीव बब्बर सहित दिल्ली में स्थित विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के प्राचार्य, प्राध्यापक, उद्यमी आदि सम्मिलित हुए।

एबीवीपी के राष्ट्रीय मीडिया संयोजक आशुतोष सिंह ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का 69 वां राष्ट्रीय अधिवेशन दिल्ली में 7-10 दिसंबर के बीच संपन्न होगा। इस अधिवेशन में एबीवीपी के संगठनात्मक दृष्टि से 44 प्रांतों से कार्यकर्ता भाग लेंगे, अधिवेशन को लेकर एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने जोरों शोरों से तैयारियां शुरू कर दी हैं। एबीवीपी ने इस अधिवेशन को सफल बनाने के लिए एबीवीपी के पूर्व कार्यकर्ताओं सहित समाज के गणमान्य नागरिकों की भी भूमिका रहेगी।

– राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन संपन्न करने के लिए बसाया जाएगा एक पूरा अस्थायी नगर : हर्ष  
एबीवीपी दिल्ली के प्रदेश मंत्री हर्ष अत्री ने कहा कि एबीवीपी के राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन संपन्न करने के लिए एक पूरा अस्थायी नगर बसाया जाएगा। इस नगर का नाम इंद्रप्रस्थ नगर होगा। साथ ही इस अधिवेशन के अलग-अलग अस्थायी सभागारों के नाम राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व सह-सरकार्यवाह व एबीवीपी के राष्ट्रीय संगठन मंत्री रहे मदनदास देवी जी, सम्राट मिहिर भोज जी तथा महाराजा सूरजमल जी के नामों पर रखा जाएगा। एबीवीपी का राष्ट्रीय अधिवेशन वर्तमान समय में युवाओं तथा समाज से जुड़े महत्वपूर्ण विषयों को प्रमुखता से उठाएगा। देश भर के सभी राज्यों से आने वाले विद्यार्थी अपनी स्थानीय वेशभूषा आदि में रहेंगे जिससे विविधता में एकता का अद्भुत दृश्य इस अधिवेशन में प्रस्तुत होगा‌।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments