Homeताजा खबरेंउत्तरी दिल्ली नगर निगम के 39 कर्मचारी 14 दिनों तक रहेंगे आइसोलेट

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के 39 कर्मचारी 14 दिनों तक रहेंगे आइसोलेट

  • एएसआई को कोरोना होने की पुष्टि के बाद लिया फैसला
  • शिकायत मिलने पर कर्मचारियों का किया जाएगा टेस्ट
  • कोरोना से गत दिनों एक महिला सफाई कर्मी की हो चुकी है मौत

नई दिल्ली : उत्तरी दिल्ली नगर निगम के रोहिणी जोन के एक एएसआई ईश्वर सिंह के कोरोना पाॅजिटिव होने की पुष्टि हुई है। उत्तरी निगम आयुक्त वर्षा जोशी ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि ईश्वर सिंह के संपर्क में आने वाले बाकी 39 कर्मियों को 14 दिन के लिए आइसोलेट कर दिया गया है ये कर्मचारी अपने घरों में ही नियमों का पालन करेंगे। गौरतलब है कि इसके पहले पूर्वी दिल्ली नगर निगम में दो महिला कर्मचारियों को कोरोना पाया गया था उनमें से एक की मौत हो गई है और दूसरी सफाई कर्मचारी अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कर दी थी। उत्तरी निगम से ऐसा मामला आने के बाद दिल्ली के तीनों नगर निगम में काम करने वाले कर्मचारियों को भी अब कोरोना का डर सताने लगा है।

इस संबंध में दलित कांग्रेसी नेता सुरेंद्र महरौलिया ने बताया कि हरियाणा सरकार ने कोरोना योद्धाओं को दोगुना वेतन देने की घोषणा की है और तेलंगाना सरकार ने वेतन से अलग शहरीकृत क्षेत्र के लिए 7500 रुपये और 5500 रूपये ग्रामीण एरिया मे जुटे सफाई कर्मचारियों को देने की घोषणा की है। जबकि राजधानी दिल्ली मे कोरोना महामारी मे जुटे सफाई कर्मचारी यो को ना समय पर वेतन दिया जा रहा है और ना ही मास्क, सैनिटाइजर या अन्य बचाव किट दी जा रही है। सीधे सीधे इनके व इनके परिवार के जीवन से खिलवाड़ किया जा रहा है। दिल्ली सरकार और निगम नेता अब भी कोरोना की आपात स्थिति में एक दूसरे की मदद नहीं कर रहे हैं।

दिल्ली सफाई कर्मचारी आयोग के पूर्व अध्यक्ष हरनाम सिंह ने बताया कि सफाई कर्मचारियों को जरूरी सुविधाओं को लेकर हमने कई बार निगम प्रशासन से मांगे रखीं हैं लेकिन निगम प्रशासन ने मांगों को अनदेखा किया है और गत दिनों कोर्ट ने भी निगम प्रशासन पर फटकार लगाई थी। जबकि अखिल भारतीय सफाई मजदूर संघ के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष संजय गहलोत का कहना है कि निगम में काम करने वाले सफाई कर्मचारियों के पास सेफ्टी किट ना तो पर्याप्त मात्रा में दस्ताने, सैनिटाइजर और ना ही मास्क है ऐसे में सफाई कर्मचारी करोना से कैसे जंग जीत सकेंगे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रोहणी जोन में तैनात डेम्स विभाग के एएसआई ईश्वर सिंह कोरोना पाजिटिव पाया गया है। उसके बाद से उसके संपर्क में आने वाले 39 अन्य कर्मचारियों को आइसोलेशन में भेज दिया गया है। इस मामले की पुष्टि निगमायुक्त वर्षा जोशी ने कर दी है। बताया गया कि रोहिणी जोन में तैनात एसआई ईश्वर सिंह वार्ड 24 में ड्यूटी करते हैं पिछले कई दिनों से उन्हें खांसी और बुखार हो रहा था। इसको लेकर जब जांच की तो उनमें कोरोना पॉजिटिव पाया गया इसके बाद से उसके संपर्क में आने वाले 39 कर्मचारियो को आइसोलेशन में रखा गया। जिन 39 कर्मचारियों को आइसोलेशन में रखा गया है उनमें से किसी भी कर्मचारी का करोना टेस्ट नहीं कराया गया है ना ही किसी अन्य परिवार का। इस बात हैरानी इस बात की है कि 39 लोग कितने अन्य लोगों से मिले होंगे वह एक लंबी चैन बन सकती है लेकिन इन सभी 39 लोगों को कहा गया है कि अगर उन्हें कोई बुखार या खांसी के लक्षण हो तो वह हमें तुरंत फोन करें। जबकि इन सभी कर्मचारीयों का भी करोना टेस्ट की जांच की जानी चाहिए थी और इनके संपर्क में जो लोग आए थे उन्हें भी आइसोलेशन वार्ड में रखना चाहिए था।

  • सफाई कर्मियों को सता रही है वेतन की चिंता

सफाई कर्मियों ने बताया कि उन्हें मार्च माह को वेतन नहीं मिला हैं जबकि स्वच्छता निरीक्षकों को पिछले करीब 3 माह से वेतन नहीं मिल पाया है। दिल्ली सरकार और निगम प्रशासन के प्रति रोष जताते हुए कहा कि इस महामारी के समय भी दिल्ली सरकार और निगमों के बीच सामन्जस्य नहीं है। स्वच्छता विभाग के सभी कर्मियों को वेतन की चिंता सता रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − 1 =

Must Read