Friday, April 12, 2024
Homeताजा खबरेंMCD चुनाव के तहत कालकाजी विधानसभा में AAP का कूड़े पर जनसंवाद

MCD चुनाव के तहत कालकाजी विधानसभा में AAP का कूड़े पर जनसंवाद

  • , दिल्लीवालों ने ‘एमसीडी में भी केजरीवाल’ के लगाए नारे – गोविंदपुरी मेट्रो स्टेशन के पास पिछले 2 महीनों में दस-दस फुट कूड़ा इकट्ठा हो गया है, डीडीए पार्क में भी बीजेपी का कूड़े का पहाड़ बनाने का इरादा- कालकाजी के लोगों ने कहा कि कर्मचारी कूड़ा उठाने से साफ इनकार कर देते हैं, हर तरफ कूड़ा-कूड़ा है- केजरीवाल को दिल्ली की जनता ने बिजली, पानी, स्कूल, अस्पताल, जो भी जिम्मेदारियां दीं, उसपर वह खरे उतरे हैं – 15 साल मिलने के बावजूद भाजपा अपनी मुख्य जिम्मेदारी दिल्ली की सफाई में फेल रही, अब भाजपा पर बिल्कुल भरोसा नहीं किया जा सकता है – दिल्ली को तीन बड़े-बड़े कूड़े के पहाड़ देने के बाद अब बीजेपी दिल्लीभर की अलग-अलग जगहों पर कूड़े के पहाड़ बनाना चाहती है – 4 दिसंबर को होने वाला एमसीडी चुनाव किसी राजनीतिक पार्टी का नहीं बल्कि दिल्ली की साफ सफाई का चुनाव है – मेरा, अरविंद केजरीवाल जी का वादा है कि एमसीडी में ‘आप’ सरकार बनने पर कालकाजी ही नहीं बल्कि पूरी दिल्ली को चमकाएंगे : आतिशी

नई दिल्ली, 8 नवंबर 2022 : आम आदमी पार्टी ने मंगलवार को एमसीडी चुनाव के तहत ‘कूड़े पर जनसंवाद’ अभियान की शुरुआत की। आज पहले दिन विधायक आतिशी ने अपनी विधानसभा कालकाजी में जनसंवाद किया। इस दौरान लोगों ने बढ़-चढकर हिस्सा लिया। आतिशी ने जनसभा में भाग लेने वालों से भाजपा शासित एमसीडी की मुख्य जिम्मेदारी यानी कि दिल्ली की साफ सफाई से संबंधित कुछ सवाल पूछे। सभी का यही कहना था कि भाजपा ने पिछले 15 सालों में दिल्ली को कूड़ा-कूड़ा करने के सिवाय कुछ नहीं किया है। लोगों ने खुलकर कहा कि इस बार वह एमसीडी में भी अरविंद केजरीवाल की सरकार चाहते हैं।

आम आदमी पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं कालकाजी से विधायक आतिशी ने कहा कि 4 दिसंबर को एमसीडी का चुनाव है। यह चुनाव किसी पार्टी का नहीं बल्कि आपकी हमारी गली मोहल्ले का चुनाव है। आपकी हमारी गली मोहल्ले में अगले 5 सालों में साफ-सफाई होगी कि नहीं, उसका चुनाव है। सभी को पता है कि दिल्ली में इस वक्त दो सरकारें चल रही हैं। एक है अरविंद केजरीवाल की सरकार, जो 24 घंटे बिजली देती है, सस्ती बिजली देती है, जीरो बिजली का बिल देती है। मुफ्त पानी देती है। मोहल्ला क्लीनिक देती है जिसमें डॉक्टर, दवाइयां, टेस्ट सब कुछ मुफ्त है।

अरविंद केजरीवाल जी की सरकार ने सरकारी स्कूलों को प्राइवेट स्कूलों से बेहतर बना दिया। हम जहां खड़े हैं यहां से 500 मीटर की दूरी पर स्कूल ऑफ स्पेशलाइज्ड एक्सीलेंस है। वहां पर 50 सीटों पर एडमिशन के लिए इस साल 2000 बच्चों ने फॉर्म भरा था। यह है अरविंद केजरीवाल की सरकार। अरविंद केजरीवाल जी ने महिलाओं को बस यात्रा मुफ्त दी। बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा मुफ्त में दी। दूसरी तरफ पिछले 15 सालों से एमसीडी में भाजपा की सरकार है। एमसीडी का एक सबसे जरूरी काम साफ-सफाई है। मैं जनता से पूछना चाहती हूं कि आपके इलाके में साफ सफाई होती है या नहीं होती है? आप दिल्ली में किसी भी इलाके में चले जाएं, हर जगह कूड़े का ढेर है। दिल्ली में रहने वाला हर व्यक्ति, चाहे वह अमीर हो या गरीब, हर घर के सामने कूड़े का ढेर दिखाई देता है।

भाजपा ने पिछले 15 सालों में दिल्ली को तीन बड़े-बड़े कूड़े के पहाड़ दिए हैं, भलस्वा, ओखला और गाजीपुर का कूड़े का पहाड़। इतने सालों में यह कूड़े के पहाड़ लगातार बढ़ते रहे हैं। पहले हम कहते थे कि दिल्ली कुतुब मीनार का शहर है, इंडिया गेट का शहर है। अब हम कहते हैं कि दिल्ली कूड़े के पहाड़ों का शहर है। 15 सालों में भाजपा ने हमें दिल्ली में यह दिया है। जो लोग कूड़े के पहाड़ों के आस-पास रहते हैं, कभी उनसे जाकर पूछिए। 5 किलोमीटर तक कूड़े की बदबू आती है। आसपास चील, कौवे उड़ते रहते हैं। कूड़े के पहाड़ों की वजह से पानी भी दूषित हो जाता है, जिसकी वजह से बहुत गंभीर यानी कैंसर जैसी बीमारियां होती हैं।

भाजपा इन तीन कूड़े के पहाड़ों से भी संतुष्ट नहीं है। अब उनका प्लान है कि दिल्ली में जगह-जगह कूड़े के पहाड़ बनाने हैं क्योंकि यह तीन कूड़े के पहाड़ इतने बड़े हो गए हैं कि जब उनपर और कूड़ा जाता है तो वह गिरने लगते हैं। पहले भलस्वा के घोड़े के पहाड़ पर इतना कूड़ा हो गया कि उसका हिस्सा नीचे गिरने से दो लोगों की मौत हो गई। कल शाम को भाजपा वाले कूड़ा छुपाने की कोशिश कर रहे थे लेकिन गाजीपुर के कूड़े के पहाड़ का हिस्सा गिरने से 2 लोग दब गए। अब यह लोग इन कूड़े के पहाड़ों पर और कूड़ा नहीं डाल सकते हैं इसलिए अब आप लोगों को परेशान करने के लिए नई योजना बनाई है कि दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में यह कूड़े के पहाड़ बनाएंगे। हमारा दुर्भाग्य है कि एक कूड़े का पहाड़ कालकाजी में भी बन रहा है। सभी ने अग्रवाल धर्मशाला देखा होगा। गोविंदपुरी मेट्रो स्टेशन के पास जाइए, पिछले 2 महीनों से लगातार वहां पर कूड़ा डाला जा रहा है। दस-दस फुट तक कूड़ा इकट्ठा हो गया है। और डीडीए के पार्क में कूड़े का पहाड़ बनाने का इरादा है।

अब जनता बताए कि यह कूड़ा साफ होना चाहिए या नहीं होना चाहिए? जिसके पास सफाई के लिए 15 साल रहे हों, यदि इतनी लंबे वक्त में दिल्ली की सफाई नहीं करी तो अब उस पर भरोसा बिल्कुल नहीं किया जा सकता है। इस बार एमसीडी में अरविंद केजरीवाल को लेकर आइए। यह मेरा और अरविंद केजरीवाल जी का वादा है कि जिस तरह बिजली, पानी, स्कूल, मोहल्ला क्लिनिक, अस्पतालों पर काम हुआ है, उसी प्रकार से सिर्फ कालकाजी नहीं बल्कि पूरी दिल्ली को चमकाएंगे।

जनसभा के दौरान मौजूद लोगों का भाजपा के प्रति आक्रोश और निराशा देखने को मिली। सभी इस बात को पूरी तरह से मानते हैं कि भारतीय जनता पार्टी ने पूरी दिल्ली को कूड़ा-कूड़ा कर दिया है। लोगों का कहना है कि भाजपा के लोग कूड़ा उठाने से साफ इनकार कर देते हैं। एक महिला ने बताया कि कालकाजी के मीराबाई पार्क का कभी रख-रखाव नहीं होता है जिसके कारण वहां बहुत ज्यादा गंदगी हो गई है। एक युवक ने कहा कि भाजपा शासित एमसीडी के कूड़े के जो पहाड़ बने हैं, सांसों के यह जंजाल बने हैं। दिल्ली की जान बचाने, सिर्फ नेता केजरीवाल खड़े हैं। इस प्रकार लोगों ने खुलकर एमसीडी में केजरीवाल को लाने की बात की। सभी का कहना है कि यदि एमसीडी में भी अरविंद केजरीवाल की सरकार होगी तो दिल्ली की साफ सफाई हो जाएगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments