Homeताजा खबरेंकेजरीवाल के सिंगापुर जाने की फाइल वापस करने के फैसले का भाजपा...

केजरीवाल के सिंगापुर जाने की फाइल वापस करने के फैसले का भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने किया स्वागत

उपराज्यपाल का फैसला तथ्यों और संवैधानिक रुप से सही है – महापौरों के सम्मेलन में जाने को लेकर राजनीति करने की बजाय केजरीवाल दिल्ली की समस्याओं पर ध्यान दें – केजरीवाल अपने आठ सालों के कार्यकाल में निगम को पंगु बनाने का हर संभव प्रयास किया

नई दिल्ली, 21 जुलाई। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि आम आदमी पार्टी की पूरी टीम केजरीवाल को सिंगापुर भेजने के लिए राजनीति कर रही है जहां जाकर केजरीवाल अपनी झूठी और बेबुनियादी शिक्षा और स्वास्थ्य का प्रचार करने वाले थे। आज उपराज्यपाल द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सिंगापुर वर्ल्ड सिटी समिट में जाने संबंधित फाइल को वापस करने के फैसले का स्वागत करते हुए गुप्ता ने कहा कि उपराज्यपाल द्वारा लिया गया फैसला तथ्यों और संवैधानिक आधार पर सही है। क्योंकि सिंगापुर में होने वाला समिट विभिन्न शहरों से आए मेयरों का है उसमें केजरीवाल के जाने का कोई मतलब नहीं था।

आदेश गुप्ता ने कहा कि सिंगापुर में केजरीवाल का जाना सिर्फ एक बहाना है क्योंकि जब मेयरों की मीटिंग है तो उसमें एक राज्य के मुख्यमंत्री का क्या काम। अपने प्रचार और राजनीतिक विस्तार में मशगूल केजरीवाल इस तरह का माहौल बनाकर जनता की सहानुभूति बटोरना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में इतनी सारी समस्याएं हैं जो केजरीवाल के अधिकार क्षेत्र से संबंधित हैं। उन समस्याओं को सुलझाने की जगह केजरीवाल विदेश टूर पर जाना चाहते हैं। गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल अपने आठ सालों के कार्यकाल में तो कभी जमीनी स्तर पर जनता से मिलकर उनकी समस्याओं को सुनने की कोशिश नहीं की, लेकिन विदेश जाकर अपनी खस्ताहाल शिक्षा व्यवस्था का झूठा प्रचार करना चाहते हैं।

गुप्ता ने कहा कि सीएम आवास के बाहर दिल्ली के तीनों निगमों के मेयर अपनी समस्याओं को लेकर 13 दिनों तक बैठे रहे, लेकिन उनकी एक नहीं सुनी गई। निगम को पंगु बनाने की हर संभव प्रयास केजरीवाल द्वारा किया जाता रहा है उसके बावजूद निगम ने दिल्ली की सेवा और विकास कार्यों को निरंतर करता रहा है। केंद्र सरकार को एकीकरण का फैसला लेना पड़ा ताकि केजरीवाल की लापरवाही से दिल्ली में जो विकास कार्य ठप हो चुके हैं उसमें तेजी आए। उन्होंने कहा कि दिल्ली की समस्याओं को सुलझाएं और प्रचार और होर्डिंग्स आधारित विकास को केजरीवाल बंद करें क्योंकि इससे सिर्फ उनका चेहरा चमकता है न कि दिल्ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 + thirteen =

Must Read