Tuesday, May 14, 2024
Homeअंतराष्ट्रीयकिसान भवन को खुलवाने के लिए दिल्ली भाजपा ने किया प्रदर्शन

किसान भवन को खुलवाने के लिए दिल्ली भाजपा ने किया प्रदर्शन

  • किसान भवन का संचालन फिर से शुरू होना, किसानों के लिए बहुत बड़ी जीत होगी
  • दिल्ली भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष राजन तिवारी के नेतृत्व में आज भाजपा किसान मोर्चा के प्रतिनिधिमंडल ने एपीएमसी सचिव से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपा और किसान भवन खुलवाने की मांग की
  • दिल्ली भाजपा के दबाव में केजरीवाल सरकार अब किसानों के अस्थाई आवास को बार और रेस्टोरेंट में तब्दील नहीं कर पाएगी
  • किसान भवन खोलने की मांग को लेकर एपीएमसी सचिव ने आश्वस्त किया है कि 1 महीने के भीतर किसान भवन को पहले की तरह सुचारु रुप से चलाने की पूरी व्यवस्था की जाएगी
  • अगर 1 महीने के अंदर किसान भवन नहीं खोला गया तो दिल्ली के किसान एवं भाजपा किसान मोर्चा के कार्यकर्ता एक आंदोलन के रूप में सड़कों पर भी होंगे और ईंट से ईंट बजा देंगे जिसकी जिम्मेदार एपीएमसी और केजरीवाल सरकार होगी

नई दिल्ली: आजादपुर सब्जी मंडी में आने वाले किसानों की सहूलियत के लिए भाजपा सरकार ने किसान भवन का निर्माण करवाया था, जो सालों से बंद पड़ा है और केजरीवाल सरकार उन किसानों को होटलों में भारी शुल्क देकर रुकने को मजबूर कर रही है। किसानों के हित में किसान भवन को खुलवाने हेतु आज दिल्ली भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष राजन तिवारी के नेतृत्व में आज भाजपा किसान मोर्चा के प्रतिनिधिमंडल ने एपीएमसी सचिव से मिलकर उन्हें ज्ञापन सौंपा और किसान भवन खुलवाने की मांग की। कार्यक्रम का संचालन केशवपुरम के भाजपा जिला अध्यक्ष राजकुमार भाटिया ने किया। कार्यक्रम के संयोजक जिला महामंत्री वीरेंद्र गोयल थे। इस अवसर पर किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष प्रवीण डबास एवं महामंत्री आनंद गुलिया सहयोगी रहे।

राजन तिवारी ने जानकारी दी कि किसान भवन खोलने की मांग को लेकर एपीएमसी सचिव ने सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है और आश्वस्त किया है कि 1 महीने के भीतर किसान भवन को पहले की तरह सुचारु रुप से चलाने की पूरी व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए टेंडर की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। उन्होंने कहा कि दिल्ली भाजपा के दबाव में केजरीवाल सरकार अब किसानों के अस्थाई आवास को बार और रेस्टोरेंट में तब्दील नहीं कर पाएगी। हमें उम्मीद है कि 1 महीने के अंदर किसानों को फिर से किसान भवन में ठहरने की सुविधा प्राप्त होगी, यह किसानों के लिए बहुत बड़ी जीत होगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments