Monday, May 13, 2024
Homeताजा खबरेंदिल्ली नगर निगम ने डेंगू को लेकर अभी तक करीब तीन करोड़...

दिल्ली नगर निगम ने डेंगू को लेकर अभी तक करीब तीन करोड़ घरों की जांच की

– दिल्ली नगर निगम ने डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया जैसी मच्छरजनित बीमारियों से लड़ने के लिए वृहद स्तर पर अभियान चलाया’
– दिल्ली नगर निगम ने पुलिस थानों एवं मालखानो में मच्छरों के प्रजनन को जांचने के लिए सघन अभियान चलाया,197 पुलिस थानों एवं मालखानो की हुई जांच 83 में पाया गया मच्छरों का प्रजनन’
– दिल्ली नगर निगम ने इस वर्ष अभी तक 2,95,69,150 घरों की जांच की 73,36,640/ रुपए जुर्माने के रूप में वसूले

नई दिल्ली, 25 सितंबर 2023 : दिल्ली नगर निगम द्वारा डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनिया जैसी मच्छरजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए वृहद स्तर पर अभियान चलाया जा रहा है। डेंगू बुखार एडीज मच्छर के काटने से होता है जोकि रुके हुए पानी में पैदा होता है जैसे कि ड्रमों, कूलरों, टायरों, कबाड़, गमलों, पानी की टंकियों इत्यादि। डेंगू से बचाव का प्रमुख उपाय मच्छरों के प्रजनन को रोकना है। मानसून के मौसम में अनुकूल वातावरण जैसे लगातार वर्षा, उमस एवं अनुकूल तापमान होने के कारण मच्छरों का प्रजनन होने की अधिक संभावना रहती है। दिल्ली नगर निगम मच्छर जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए विभिन्न प्रकार के जन जागरूकता अभियान चला रहा है।

दिल्ली नगर निगम के जनस्वास्थ्य विभाग द्वारा डेंगू, मलेरिया एवं चिकनगुनिया जैसी मच्छर जनित बीमारियों के विरुद्ध चलाए जा रहे अपने अभियान के अंतर्गत निगम के सभी 12 क्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले 197 पुलिस थानों एवं मालखानों में मच्छरों का प्रजनन जांचने के लिए सघन अभियान चलाया। इस अभियान में 83 स्थलों पर मच्छरों का प्रजनन पाया गया। दिल्ली नगर निगम ने 60 कानूनी नोटिस जारी किए, 1 अभियोजन दायर किया, 3 कोर्ट चालान किए एवं 01 प्रशासनिक शुल्क लगाया। दिल्ली नगर निगम ने पंजाबी बाग, वसंत कुंज, ख्याला, जगतपुरी, उस्मानपुर, निजामुद्दीन, अमर कॉलोनी, लाहौरी गेट, बुराड़ी, स्वरूप नगर, पश्चिम विहार, अमन विहार, बवाना, रिठाला, मायापुरी, सुल्तानपुरी, गाजीपुर, गीता कॉलोनी और अंबेडकर नगर आदि पुलिस थानों और मालखानों का निरीक्षण किया।

निगम के डीबीसी कर्मचारियों ने 2,95,69,150 बार घरों का निरीक्षण किया जिसमें 2,56,246 घरों में मच्छरों का प्रजनन पाया गया। 14,84,050 घरों में कीटनाशक दवा का छिड़काव किया गया और 1,35,462 कानूनी नोटिस दिए गए, 22195 दोषियों से जुर्माना वसूला गया,मच्छरों का प्रजनन नष्ट करने के रूप में 73,36,640 रुपए वसूले गए और 203 जगहों पर लार्वा भक्षी मछलियां जीवित पाई गई। दिल्ली नगर निगम द्वारा मानसून के मौसम में मच्छरों के प्रजनन के आंकड़ों की विवेचना में पाया कि घरों में रखे 40 प्रतिशत पानी जमा करने वाले बर्तनों जैसे टंकी, कैन, हौदी में मच्छरों का प्रजनन पाया गया वहीं 35 प्रतिशत कूलरों एवं 15 प्रतिशत निर्माण स्थलों एवं गमलों में मच्छरों का प्रजनन पाया गया। नगर निगम का जनस्वास्थ्य विभाग विभिन्न जनजागरुकता अभियान चला रहा है। दिल्ली नगर निगम का दिल्ली
के सभी नागरिकों से आग्रह है कि वे अपने आसपास पानी न जमा होने दें,पानी को ढक कर रखें,अपने आसपास साफ सफाई रखें एवं अपने घर में कबाड़ न जमा होने दें। इस प्रकार हम सब मिलकर मच्छर जनित बीमारियों से छुटकारा पा सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments