Sunday, April 21, 2024
Homeअंतराष्ट्रीय’सॉन्ग ऑफ वॉटर’ की थीम पर 17 फरवरी को एनडीएमसी करेगा संगीत...

’सॉन्ग ऑफ वॉटर’ की थीम पर 17 फरवरी को एनडीएमसी करेगा संगीत समारोह का आयोजन

  • पंडित शुभेन्द्रा राव और संगीतकार सास्किया चाणक्यपुरी के नेहरू पार्क में इंडो-डच संगीत महोत्सव में प्रस्तुति देंगे
  • कैसे नीदरलैंड और भारत की संस्कृतियाँ एक खूबसूरत रिश्ते में गुंथी हुई
  • कार्यक्रम के लिए नेहरू पार्क में प्रवेश नीति मार्ग से है
  • सभी के लिए यह कार्यक्रम निःशुल्क है

नई दिल्ली, 15 फरवरी 2024

नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) अपने क्षेत्र में वसंत ऋतु का उत्सव मनाते हुए एक श्रृंखला के अंतर्गत ट्यूलिप फेस्टिवल, म्यूजिक इन द पार्क, फ्लावर फेस्टिवल, रोज़ फेस्टिवल और फूड फेस्टिवल जैसे कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है। वसंत ऋतु महोत्सव श्रृंखला के अंतर्गत, नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) नीदरलैंड राजदूतावास के सहयोग से शनिवार, 17 फरवरी 2024 को सांय 4.00 बजे नई दिल्ली में चाणक्यपुरी के नेहरू पार्क, में ’सॉन्ग ऑफ वॉटर’ की थीम पर इंडो-डच कलाकारों द्वारा एक संगीत समारोह का आयोजन करने जा रही है।

नेहरू पार्क के हरे-भरे परिवेश में आठ रंगों में नए खिले ट्यूलिप की पृष्ठभूमि में, प्रख्यात कलाकार पंडित शुभेन्द्रा राव और संगीतकार सास्किया राव, प्रांशु चतुरलाल और श्री हेइको डिजकर के साथ इंडो-डच संगीत समारोह में प्रस्तुति देंगे। संगीत समारोह का विषय ’सॉन्ग ऑफ वॉटर’ है जो विश्व प्रसिद्ध इंडो-डच दम्पति पंडित शुभेन्द्रा राव और संगीतकार सस्किया राव-डी हास की एक अनूठी और मूल रचना है। इस अनोखे दम्पति का जीवन और संगीत इस बात का प्रतीक है कि कैसे नीदरलैंड और भारत की संस्कृतियाँ एक खूबसूरत रिश्ते में गुंथी हुई हैं।

 
पालिका परिषद इंडो-डच संगीत प्रेमियों को वसंत के मौसम में नए खिले ट्यूलिप के साथ प्रकृति के परिवेश में इंडो-डच संगीत की सुंदरता का अनुभव करने के लिए शनिवार को नेहरू पार्क, चाणक्यपुरी, नई दिल्ली में आमंत्रित कर रही है। एनडीएमसी द्वारा अपने क्षेत्र में इस तरह के कार्यक्रम आयोजित करने  का उद्देश्य महानगरों में व्यस्त दिनचर्या से दिन-ब-दिन बिगड़ती शहरी जिंदगी को उन्नत करना है। कला और संस्कृति को बढ़ावा देना एनडीएमसी अधिनियम-1994 की धारा 12 के तहत प्रदान किए गए परिषद के कार्यों में से एक है। यह प्रावधान परिषद को कला और संस्कृति को संग्रहालयों और सभागारों की सीमा से बाहर खुले में लाने की जिम्मेदारी देता है जहां आम जनता भाग ले सके। इस कार्यक्रम के लिए नेहरू पार्क में प्रवेश नीति मार्ग से है और सभी के लिए यह कार्यक्रम निःशुल्क है। संगीत कार्यक्रम नेहरू पार्क की खूबसूरत शांत हरियाली में आयोजित किए जाते हैं जहां दर्शक प्रसिद्ध और उभरते कलाकारों के मुफ्त लाइव प्रदर्शन का आनंद ले सकते हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments